इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

How To Abort a Baby in Hindi | Garbh se Baccha kaise Saaf Karen | गर्भ से बच्चा कैसे साफ़ करें

गर्भपात कैसे किया जाता है?

कहा जाता है कि गर्भधारण करना किसी भी औरत के जीवन का सबसे अहम हिस्सा होता है लेकिन ऐसा तभी संभव है जब उन्होंने इसके लिए पहले से ही सही प्लान किया हो क्योकि कई जगह एक युगल के जीवन में न चाहते हुए भी गर्भधारण आ जाता है और जीवन के इन्ही हिस्सों में एक औरत को गर्भपात के बारे में विचार करना पड़ सकता है. गर्भपात एक ऐसी प्रकिर्या है जिसमे एक बच्चे की उसके जन्म लेने से पूर्व ही उसकी माँ के गर्भ में हत्या कर दी जाती है और इसीलिए कई देशो में गर्भपात को गैरकानूनी भी माना जाता है क्योकि कोई भी कानून हमे किसी भी निर्दोष प्राणी की हत्या की अनुमति नही देता है. जरूरी नही है कि हर व्यक्ति गर्भ पात जान बूझ कर ही करता है, गर्भपात के और भी पर्सनल या एक्सिडेंटीयल कारण भी हो सकते है. आकड़ो की बात करे तो संसार में हर साल 205 मिलियन गर्भपात होते है. इनमे से ज्यादातर गर्भपात अनजाने में होती है. गर्भपात धरा 1967 के अनुसार कोई भी गर्भपात, गर्भधारण के  24 हफ्तों से पहले ही करा लेना चाहिये.


गर्भपात करना चाहिए या नही इसका निर्णय कैसे करे?

गर्भपात कराए या नही इसका निर्णय करना किसी भी माँ के लिए बहुत ही मुश्किल होता है लेकिन गर्भपात से कुछ सामाजिक, आर्थिक और भावनात्मक कारण जुड़े होते है, जिनकी वजह से एक माँ को गर्भपात का निर्णय लेना पड़ता है. लेकिन गर्भपात से पहले आप उससे जुडी सभी जानकारियों के बारे में अवश्य जान ले ताकि आपको बाद में किसी भी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े. 
CLICK HERE TO READ MORE SIMILAR POSTS ...
How To Abort a Baby in Hindi
How To Abort a Baby

·         गर्भपात की प्रकिर्या के लिए सबसे पहले तो उस स्त्री को मानसिक रूप से सशक्त होना होगा जो गर्भपात करा रही है, इसके साथ साथ उनकी गर्भपात के लिए मंजूरी भी जरूरी है.


·         गर्भपात के लिए आप किसी अच्छे डॉक्टर / हॉस्पिटल से संपर्क करे, जिनको गर्भपात से सम्बंधित सभी जानकारिय हो. 


·         अगर आप गर्भपात के लिए पूरी तरह से तैयार है तो आप कुछ प्राकर्तिक उपाय अपनाये जैसेकि आप गर्भपात से पहले रोज़ गर्म पानी से नहाये इससे आपके गर्भपात के समय आपको ज्यादा परेशानियों का सामना नही करना पड़ता.


·         काली कोहोश ( cohosh ),  ये एक तरह की प्राकृतिक जड़ी बूटी है, आप इसका सेवन कर सकते है. ये आपके गर्भाशय को गर्भपात के लिए तैयार करता है. ये आपका पूरी तरह गर्भपात तो नही करेगा लेकिन आपके गर्भ को गर्भपात के लिए जरुर तैयार कर देता है.


·         इसके अलावा आप उन खानों का सेवन करे जिनसे आपको विटामिन सी की प्राप्ति हो सके. क्योकि विटामिन सी आपको आपके गर्भपात को घर में ही कराने में मदद करता है. इसका सेवन आप तब अवश्य करे जब आपको मासिक पीरियड्स हो रहे हो और आपको गर्भधारण की अनुभूति हो रही हो.


·         इसके अलावा आप एक और प्राकृतिक तरीका अपना कर घर पर ही गर्भपात करा सकती है उसके लिए आपको पपीते का सेवन करना होगा क्योंकी पपीता किसी भी औरत को अचानक गर्भपात करा सकता है.


·         इसके साथ साथ आप अनानाश का भी लगातार सेवन करते रहे. अनानाश से भी आपको विटामिन से मिलती है और कुछ ऐसे कारण उत्तपन करता है जिससे की आपका घर में ही गर्भपात हो सके.

·         आप सोयाबीन के दानो को रात में पानी में भिगो कर रख दे और सुबह खाली पेट उस पानी का सेवन करे, ये तरीका भी आपको आपके घर में ही गर्भपात में सहायक होता है.
CLICK HERE TO READ MORE SIMILAR POSTS ...
 
Garbh se Baccha kaise Saaf Karen
Garbh se Baccha kaise Saaf Karen

·         आप गर्भपात के लिए दालचीनी का भी इस्तेमाल कर सकते है. लेकिन इसे कच्चा ही खाए तभी आपको इसका पूर्ण रूप से फ़ायदा हो सकेगा और आप घर पर ही गर्भपात करा सकेंगी.


·         अत्यधिक सम्भोग भी गर्भपात का कारण बन सकता है. अगर आप गर्भपात करना चाहते है तो आप अपने साथी के साथ अधिक से अधिक समय बिताये क्योकि एक ही समय पर अधिक कामोन्माद गर्भपात की सम्भावना को बढ़ाता है किन्तू ऐसा आप सिर्फ शुरूआती 2 से 3 महीनो में ही करे.


तो आप इन तरीको को अपना कर गर्भपात कर सकती है. हाँ गर्भपात करने में आपको परेशानियों का सामना करना पड़ता है किन्तु इसका ये मतलब नही होता कि आप दुबारा कभी गर्भधारण नही कर सकते, गर्भपात के बाद आपका गर्भ पूर्ण रूप से सुरक्षित होता है. सही समय आने पर आप चाहे तो दुबारा गर्भ धारण कर सकती है. लेकिन गर्भपात के बाद भी आपको कुछ दिनों तक थोड़ी परेशानियों को झेलना पद सकता है जैसेकि आपको रक्त आपने लगता है, आपके पेट में दर्द की सम्भावना देखी जा सकती है इत्यादि. लेकिन ये सिर्फ कुछ समय के लिए ही होता है. 


गर्भपात के बाद क्या खाना चाहिए?

गर्भपात के कारण आपके शरीर का आयरन कम हो जाता है तो आप गर्भपात के बाद अपने शरीर का खास ध्यान रखे और पौष्टिक आहार का सेवेन करे ताकि आप जल्द से जल्द दुबारा ठीक हो सके. इसके साथ ही आपको बाहर के खाने से परहेज करना चाहिए जैसेकि पिज्जा, बर्गर या और कोई जंक फ़ूड. इन्हें खाने से आपको आपके स्वास्थ्य से सम्बंधित और भी परेशानियों का सामना करना पद सकता है. अगर आप कॉफ़ी का सेवन करना पसंद करती है तो गर्भपात के बाद कुछ समय के लिए कॉफ़ी का सेवन भी बिलकुल बंद कर दे.
 
गर्भ से बच्चा कैसे साफ़ करें
गर्भ से बच्चा कैसे साफ़ करें

 How To Abort a Baby in Hindi, Garbh se Baccha kaise Saaf Karen, गर्भ से बच्चा कैसे साफ़ करें, Abortion of Lady, Bacche ko kaise Hatayen Garbh se, Garbhpaat kaise Karen, गर्भपात कैसे करें.



YOU MAY ALSO LIKE 

पूर्व जन्म मे किये गये आपके कार्य और उसके परिणाम
- प्रतिदिन मंदिर क्यों जाए
- जबरदस्त ध्यान बगुले का
- गोरैया से विकास और शांति
- किस्मत कैसे देगी आपका साथ
- चेहरा बतायेगा आपकी किस्मत

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

2 comments:

ALL TIME HOT