इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Prtishat Kaise Nikale | प्रतिशत कैसे निकाले | How to Calculate Percentage in Hindi

प्रतिशत निकालें ( Percentage  / % )

प्रतिशत को अंग्रेजी में Percentage कहा जाता है, जिसको दो हिस्सों ( Percent = per + cent ) में बाँट कर इसे समझा जा सकता है. अगर इनको हिंदी में समझे तो “ per “ का अर्थ है हर और “ cent “ का अर्थ होता है हिस्से. इस तरह परसेंट या प्रतिशत किसी भी दी हुई जानकारी या डाटा के हर हिस्से पर आधारित होता है. इसके अलावा “ cent ” को 100 भी माना जाता है, तो इस तरह प्रतिशत हर 100वें हिस्से पर आधारित होता है. “ % “ ये प्रतिशत का चिह्न होता है.


इसको निकलने के लिए आपको प्राप्त भाग को कुल भाग से भाग करना होता है और फिर निष्कर्ष को 100 से गुना करना होता है. उदहारण के रूप में समझो कि आपको स्कूल परीक्षा में कुछ 500 अंको में से 409 अंक प्राप्त हुए है तो आप 409 ( प्राप्त अंक ) को 500 ( कुल अंक ) से विभाजित कर ले ( 409 / 500 = 0.818 ). आपका उत्तर 0.818 होगा. अब आप इसे 100 से गुना कर दें ( 0.818 * 100 = 81.8 ). इस तरह आपकी परीक्षा में आपको 81.8 % अंक प्राप्त होते है. आप इसको एक सिद्धांत के अनुसार भी बना सकते हो, जो निम्नलिखित है – CLICK HERE TO READ MORE SIMILAR POSTS ...
How to Calculate Percentage in Hindi
How to Calculate Percentage

सिद्धांत : प्रतिशत = प्राप्त अंक / कुल अंक * 100 


इस सिद्धांत की मदद से आप आसानी से किसी भी जानकारी का प्रतिशत निकल सकते हो.

माइक्रोसॉफ्ट एक्सेल ( Microsoft Excel ) में प्रतिशत का उपयोग : 


एक्सेल कंप्यूटर में इस्तेमाल होने वाला एक ऐसा सॉफ्टवेर है जिसका इस्तेमाल गाणितिक गणना और टेबल बनाने के लिए अधिक किया जाता है. इसमें हर डाटा को एक सेल ( cell ) में डाला जाता है और उसे गाणितिक सिद्धांतो पर आँका जाता है. गाणितिक सिद्धांत जैसेकि जोड़, घटा, गुना, भाग, प्रतिशत, टैक्स इत्यादि. माइक्रोसॉफ्ट एक्सेल की शीट को दो हिस्सों में बांटा जाता है पहला लेती हुई लाइन जन्हें रो ( row ) कहा जाता है और दूसरा होता है कॉलम ( column ) ये लाइन खड़ी होती है. इन दोनों के मिलने से ही सेल का निर्माण होता है. आप इस सेल का इस्तेमाल किसी भी संख्या को डालने और सिद्धांतो को डालने के लिए किया जाता है. अपनी माइक्रोसॉफ्ट एक्सेल की शीट पर प्रतिशत निकलने के लिए आप निम्न कदमो का इस्तेमाल करें. CLICK HERE TO READ MORE SIMILAR POSTS ...
Prtishat Kaise Nikale
Prtishat Kaise Nikale

स्टेप 1 : आप सबसे पहले तो अपने कंप्यूटर के स्टार्ट पर क्लिक करके “ All Program “ पर जाए और वहाँ से आप “ MS Office ” पर क्लिक करें. इसके बाद आपको माइक्रोसॉफ्ट की सारी फाइल्स दिखाई जाएँगी, उनमे से आप “ MS Excel ” पर क्लिक करके, एक्सेल की शीट ओपन करे. 


स्टेप 2 : अब आप एक लिस्ट बना ले. आप चाहो तो अपने परीक्षा के अंको की तालिका भी बना सकते है. 


स्टेप 3 : आप लिस्ट के नीचे वाले सेल पर जाकर एक सिद्धांत को टाइप करे जो है “ =AVERAGE( वो वैल्यू जिसका आप प्रतिशत निकल रहे हो ) ”, इसके बाद आप “ Enter ” दबा दें. इस तरह से आपकी डाटा की प्रतिशत निकल जाती है. 


आजकल एक्सेल को इस्तेमाल करना बहुत ही आसान हो चूका है. जब आप प्रतिशत का सिद्धांत डाल रहे होते हो तो आपको अपनी डाटा की रेंज को लिखने की जरूरत नही होती बल्कि आप उसे अपने माउस की मदद से आसानी से चुन सकते हो और एंटर दबा कर प्रतिशत प्राप्त कर सकते हो.


चक्रवृद्धि ब्याज निकालें :

संचित हुए ब्याज को मूलधन से मिलकर कुल मिश्रधन पर ब्याज की गणना होती है इसे ही चक्रवृद्धि ब्याज कहते है. अर्थात एक निश्चित अवधि मे संचित ब्याज को पहले मूलधन के साथ जोड़ा जाता है, फिर उसके ब्याज की गणना करते है. चक्रवृद्धि ब्याज निकालने के लिए एक सिद्धांत होता है जो निम्नलिखित है. 

चक्रवृद्धि ब्याज A = P ( 1+ r/n)nt 

यहाँ,
P = मूलधन जिसे शुरुआत में दिया गया था या लिया गया था.
r = ब्याज की दर
n = एक वर्ष में कुल ब्याज
t = कुल समय
A = कुल समय बाद प्राप्त मिश्रधन
है.

उदहारण के लिए मान लो कि आपने किसी व्यक्ति को 1,500 रूपये दिए है और आपने ब्याज की वार्षिक दर 4.3 % रखी है, साथ ही आपने ब्याज को हर तीसरे महीने जोड़ने के लिए कहा है. अब आप जानना चाहते हो के 6 साल के बाद आपको कुल कितनी राशि प्राप्त होगी? तो उसके लिए ऊपर दिए सिद्धांत का इस्तेमाल करें.

सिद्धांत के अनुसार आपका
मूलधन,  P = 1,500
ब्याज दर, r  = 4.3 /100 = 0.043
एक वर्ष का कुल ब्याज, n = 4
और समय, t = 6 वर्ष
तो इस तरह 6 वर्ष के बाद आपका मिश्रधन , A = P ( 1 + r/n ) nt
                                               1,500 ( 1+0.043/4 ) 4*6 = 1938.84
 होगा.
तो इस तरह से आप चक्रवृद्धि ब्याज को आसानी से निकल सकते हो, आप चाहो तो समय और ब्याज की दर को बढ़ा या कम करके भी अंतिम मिश्रधन निकल सकते हो.  
 
प्रतिशत कैसे निकाले
प्रतिशत कैसे निकाले


 Prtishat Kaise Nikale, प्रतिशत कैसे निकाले, How to Calculate Percentage in Hindi, Prtishat Nikalna Sikhiye, Prtishat Nikalne ka Siddhant, प्रतिशत निकालने का सिद्धात, Simple Interest Formula, Compound Interest Formula.



YOU MAY ALSO LIKE 

-   कुंडली में राहू और शनि एक साथ
नियम पालन करेंगे उपाय या कार्य सिद्ध
- प्रतिशत कैसे निकाले
- यदि कुत्ता काट ले तो क्या करें
- अपना ब्लॉग वर्डप्रेस पर कैसे बनायें WordPress Blog
- ब्लॉगर से अपना ब्लॉग बनाईये  Blogger Blog

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

11 comments:

  1. 39.25% aane se kya vo 40 percentage hoti hai kya

    ReplyDelete
  2. Army raning kar rhe hai 1600 m 5 mints lga rhe 4.55 me kaise kre tips

    ReplyDelete
  3. Maine ek mobile kharida jiska mrp 1800 hai or wo mujhe 1500 mein mila to mujhe kitne present ka discount mila or kaise plz tell me

    ReplyDelete
  4. 20000 ka 1 month m 4% m kitna interested hoga.

    ReplyDelete
  5. What Percent of 11.5kg is 2kg
    Description..And plz

    ReplyDelete
  6. कुलराशि 25908 रूपये इस मे 136 प्रतिशत महंगाई हैं तो मूलधन निकाला कर सूत्र क्या है।

    ReplyDelete

ALL TIME HOT