इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Travelling Flame Science Trick Kaise Kaam Karta Hai | ट्रेवलिंग फ्लेम साइंस ट्रिक कैसे काम करता है

धुएं से मोमबत्ती जलाएं
शायद आप भी ये सोच रहे होगे कि बुझी हुई मोमबत्ती के धुएं से उसे फिर से कैसे जलाया जा सकता है, सुनने में ये सब असंभव लगता है और आपको लग रहा होगा कि हमारा दिमाग चल गया है. लेकिन ये पॉसिबल है और वो भी एक सिंपल से साइंस ट्रिक से जो आपको सरप्राइज कर देगा. जी हाँ, इस ट्रिक में हमें सिर्फ बुझी हुयी मोमबत्ती के धुएं को छूना है, लेकिन किससे? और ये एक्सपेरिमेंट कैसे काम करता है? चलिए जानते है. CLICK HERE TO KNOW हाथ से धुंआ निकालने वाला ट्रिक स्टेप बाय स्टेप सीखें ...
ट्रेवलिंग फ्लेम साइंस ट्रिक कैसे काम करता है
ट्रेवलिंग फ्लेम साइंस ट्रिक कैसे काम करता है
Travelling Flame Science Trick :
आवश्यक सामग्री :
-    मोमबत्ती
-    लाइटर

ट्रिक :
·         स्टेप 1 : आप ऐसे कमरे में जाएँ जहाँ शांति हो और हवा ना चल रही हो, ये एक्सपेरिमेंट सिर्फ ऐसे कमरे में ही काम करता है.

·         स्टेप 2 : अब आप लाइटर से मोमबत्ती को जला लें और उसे 2-3 मिनट जलने दें.

·         स्टेप 3 : इसके बाद आपको मोमबत्ती को बुझा देना है, ऐसा करने से मोमबत्ती की बत्ती से धुँआ निकलेगा. आप उस धुएं के पास लाइटर को ले जाएँ और धुएं में लाइटर को जलाएं.

इससे होगा ये कि एक नीले रंग की फ्लेम धुएं से होती हुई बत्ती तक जायेगी और मोमबत्ती को दोबारा से जला देगी.

कैसे काम करता है ये ट्रिक :
दरअसल जब आप मोमबत्ती को जलाते हो तो कई सारी चीजें होती है जैसेकि मोम पिंघलता है और कुछ मोम धुँआ बनकर उड़ने लगता है और वो गर्म गैस में बदल जाता है. अगर साइंस की भाषा में बोलें तो वो हाइड्रोजन और कार्बन यानि Hydrocarbons में टूट जाता है. अब गैस में बदला हुआ मोम ऑक्सीजन से रियेक्ट करता है और वाटर वेपर, कार्बन डाईऑक्साइड, हीट और लाइट बनाता है.
Travelling Flame Science Trick Kaise Kaam Karta Hai
Travelling Flame Science Trick Kaise Kaam Karta Hai
साथ ही जो Smoke निकलता है जिसे हम “ Soot ” के नाम से भी जानते है वो Carbon का बना होता है जोकि एक ज्वलनशील ( Burning ) पदार्थ है और आग में जो पीली लौ बनती है वो इसी कार्बन ये “ Soot ” की वजह से बनती है. लेकिन मोमबत्ती की लौ में नीली फ्लेम भी होती है जो बहुत कम दिखती है, इस नीली फ्लेम का तापमान 1400 डीग्री सेल्सियस तक होता है.

अब क्योकि उस नीली फ्लेम का तापमान इतना ज्यादा है कि जब मोमबत्ती को बुझाया जाता है तो उस मोमबत्ती की बत्ती के आसपास इतना तापमान होता है कि जब उसके आसपास किसी जल्दी चीज के आने से मोमबत्ती दोबारा से जलने लग जाती है और जो धुँआ बुझी हुई मोमबत्ती से निकलता है वो एक तरह से आग के लिए रास्ते का काम करता है, जिससे गुजरकर आग मोमबत्ती की बत्ती तक पहुँचती है. तो इस तरह बुझी हुई मोमबत्ती को आप फिर से उसके धुएं से भी जला सकते हो और इस प्रोसेस को कहते है Travelling Flame Science Trick.

ये एक्सपेरिमेंट इतना आसान है कि आप भी इसे अपने घर में कर सकते हो, इसके लिए आपको कुछ खरीदकर लाने की जरूरत भी नहीं होगी क्योकि ये दोनों चीजें नॉर्मली हर घर में आसानी से मिल जाती है. लेकिन एक्सपेरिमेंट को करते वक़्त उसके लिए ऐसे कमरे को ही चुनें जहाँ ना तो हवा हो और ना ही शोर शराबा.

तो दोस्तों आज हमने जाना की ट्रेवलिंग फ्लेम साइंस ट्रिक कैसे काम करता है और आप इस एक्सपेरिमेंट को कैसे कर सकते हो. इसलिए आप भी एक बार इस एक्सपेरिमेंट को जरुर करके देखें और अपने एक्सपीरियंस को नीचे कमेंट में बताएं.
Mombatti ko Bina Machis ke Kaise Jalayen
Mombatti ko Bina Machis ke Kaise Jalayen


Mombatti ko Bina Machis ke Kaise Jalayen, Dhuyen se Mombatti Jalane Vala Trick, Magic Travelling Flame, Light a Candle with Smoke, Travelling Flame Experiment, Bujhi Mombatti ko Bina Aag ke Jalayen

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

ALL TIME HOT