इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

Real Estate Service

Cat and Mouse Tale A Political Story - कभी मित्र कभी घोर शत्रु एक चूहे बिल्ली की कहानी Chuhe Billi ki Kahani

कभी मित्र कभी घोर शत्रु  एक चूहे बिल्ली की कहानी - Cat and Mouse Tale A Polotical Story - Chuhe Billi ki Kahani आजकल बहुत बड़ा भोचाल आ...

Prthvi ke Bare mein | पृथ्वी के बारे में | About Earth In Hindi



आज हम आप सबको पृथ्वी के बारे में कुछ बताते है वैसे तो आप सब पृथ्वी के बारे में जानते है लेकिन आपको इसकी संरचना के बारे में आज हम विस्तृत जानकारी देते है पृथ्वी क्या है जैसा की हम सभी को पता है की पृथ्वी भी सूर्य चन्द्रमा की तरह एक गृह है।  पृथ्वी सोर मंडल के आठो ग्रहो में से सूर्य की और से शुक्र के बाद तीसरा ग्रह है।  एक पृथ्वी ही ऐसा गृह है जो की केवल न की मानव का अपितु अन्य लाखो करोड़ो प्रजातियों का भी घर है पृथ्वी ही एक ऐसा गृह है जहा पर जीवन संभव है आइये अब हम पृथ्वी की आंतरिक रचना के बारे में जानते है।  
पृथ्वी के बारे में
पृथ्वी के बारे में


पृथ्वी की आंतरिक रचना:  ये तीन प्रमुख परत में हुई है भूपटल बहुप्रभाव और क्रोड ये ही तीन परत है जिससे पृथ्वी की संरचना हुई है। इन तीनो परतो में से जो बहा कऱोड परत है वो तरल अवस्ता में पाई जाती है और ठोस लोहे और निकल के आंतरिक भागो के साथ क्रिया करके पृथ्वी के आंतरिक भागो के चुम्बकीय भाग को पैदा करते है।  
READ MORE SIMILAR POSTS ....


पृथ्वी बहा आंतरिक परत: इसमें पृथ्वी सूर्य चन्द्रमा और के साथ साथ अन्य कई वस्तुओं के साथ क्रिया करते है.


 पृथ्वी पर ज़्वार भाता की उत्पत्ति : चन्द्रमा पृथ्वी का एक मात्र उपग्रह है चन्द्रमा ने पृथ्वी की परिकर्मा ३ बिलियन साल पहले ही शरू कर दी थी इसकी आकर्षण शक्ति के दवारा समुन्दर में जवार भाटा पैदा होता है और ये पृथ्वी के धुरिये झुकाव को स्थिर रखता है।  और धीरे धीरे पृथ्वी के घूर्णन को धीमा करता है।  
 
Prthvi ke Bare mein
Prthvi ke Bare mein

महासागरों की उत्पत्ति: करोडो वर्ष पहले एक धूमकेतु ग्रह  पृथ्वी पर गिरा जिससे उसने महासागरों के गठन में बहुत बड़ी भूमिका निभाई।


पृथ्वी पर जल की उपस्थि  पृथ्वी की सतह पर ७० % भाग पर पानी है या आप कह सकते है की इसका ७० % भाग पानी सा ढका हुआ है। पृथ्वी ही एक अकेला ऐसा ग्रह है जिस पर जल द्रव अवस्ता में पाया जाता है और हमे पता है की हमे जीवन जीने के लिए पानी बहुत ही ज़रूरी है।  


पृथ्वी का चुम्बकीये भाग: पृथ्वी का भी अपना चुम्बकीये भाग है जो की बहा केन्दे के विधुत परवाह से निर्मित है.
READ MORE SIMILAR POSTS ....
Prthvi ke Bare mein, पृथ्वी के बारे में - About Earth In Hindi, Samajik Gyan, S.S.T... 


YOU MAY ALSO LIKE 
असली देशी डायलॉग
- जीजा और साली नॉन वेज चुटकले

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

1 comment:

ALL TIME HOT