इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Nimbu ke Aushdhiyan Prayog | निम्बू के औषधिय प्रयोग | Medicine Uses of Lemon

नींबू का औषधिय में प्रयोग :
·         अम्लपित – अम्लपित के लिए हमें नींबू के रस को गर्म पानी में डालकर पीना चाहिए.

·         पेट के कीड़े – पेट के कीडो के लिए, नींबू के बीजो को पीसकर गुड़ में मिलाकर इसकी छोटी –छोटी गोलियां बना ले, फिर एक कप पानी में नींबू निचोड़कर 1 गोली प्रातः खाली पेट ले.

·         पेट दर्द – पेट दर्द को दूर कने के लिए 1 चम्मच नींबू का रस, 1 चम्मच अदरक का रस और दो चम्मच शहद मिलाकर उसे पिये, ऐसा करने से पेट दर्द ठीक हो जायेगा.

·         चेहरे के दाग – दागो को हटाने के लिए 1 चम्मच मलाई में कुछ बूंदे नींबू के रस की मिलाकर रात को चेहरे पर धीरे – धीरे मले, फिर सुबह धो ले. दाग कम हो जाएगे और मुहांसे भी हट जाएगे.

·         खुजली – गर्म पानी में नींबू निचोड़कर स्नान करने से खुजली दूर हो जाती है.

·         दमा – नींबू का रस, अदरक का रस और शहद गर्म पानी में मिलाकर पिने से दमा रोग दूर हो जाएगा.

·         जोड़ों का दर्द – जोड़ो में दर्द होने पर जहाँ दर्द है वहा पर नींबू का रस मलने से दर्द और सुजन दूर हो जाएगी.
Nimbu ke Aushdhiyan Prayog
Nimbu ke Aushdhiyan Prayog 
·         हिस्टीरिया – गर्म पानी में नींबू का रस, नमक, हिंग, जीरा और पुदीना मिलाकर, इसे 40 दिनों तक पिने से हिस्टीरिया की बीमारी दूर हो जाएगी.

·         खूनी बवासीर – इसके लिए गर्म दूध में, आधा नींबू निचोड़कर 3 घण्टे के अंतर, अनुसार पिये.

·         बच्चो का मूत्रावरोध – इसके लिए नींबू के बीज को पीसकर उसका चूर्ण बना ले, फिर बच्चे की नाभि में भर दे. नाभि में भरने के बाद उसके ऊपर ठंडा पानी डाल दे.

·         खाज – नींबू के रस में करौंदा की जड़ पीसकर, उसे लगाने से खाज नही होगीं.

·         बाल झड़ना – नींबू को काटकर सिर में मले, ऐसा करने से बालों का झड़ना बंद हो जाएगा.

·         कान का दर्द – बिजौरा नींबू, अदरक व आम का रस मिलाकर गुनगुना कर कान में 2 बूंद डालें, ऐसा करने से कान का दर्द ठीक हो जाएगा.

·         कमलबाय – कमलबाय के लिए नींबू का रस नाक में टपकाये, कमलबाय ठीक हो जायेगा.

·         जीभ पर छाले – नींबू के रस में रसौत पीसकर, उसे छालो पर लगाने से छाले ठीक हो जाते है.

·         पसीने की दुर्गन्ध – कांख में नींबू के पतो का रस लगाने से दुर्गन्ध दूर हो जाती है.
निम्बू के औषधिय प्रयोग
निम्बू के औषधिय प्रयोग 
·         सूखा रोग – नींबू, संतरा और अंगूर का रस मिलाकर, बच्चे को दिन में 3 – 4 चम्मच पिलाओ इससे बच्चे का सुखा रोग दूर हो जाएगा.

·         रक्तविकार – 1 नींबू में ज्यादा मात्रा में पानी डालकर पिने से रक्तविकार दूर हो जाता है.

·         अजीर्ण – नींबू को काटने के बाद उस पर सैंधा नमक लगाओ फिर उसे चूसने से अजीर्ण दूर हो जाता है.

·         हैजा – नींबू और प्याज के रस को ठण्डे पानी में मिलाकर पिने से हैजा टीक हो जाता है.

·         खांसी – 4 ग्राम नींबू में, 10 ग्राम शहद मिलाकर उसे दिन में 3 बार चाटने से खांसी दूर हो जाती है.

·         पेंचिश – 1 आधा गिलास ताजा पानी ले. उसमे नींबू निचोड़ ले, और इसे दिन में तीन बार पियें. या फिर एक पके नींबू को गर्म करके इसका रस निकाल ले, फिर इसमे सैंधा नमक और शक्कर मिलाकर इसे दिन में तीन बार पीये. 

·         वायुगोला – पानी में 6 ग्राम नींबू का रस डालकर उसे  उबाले, फिर उसे ठण्डा होने पर पिये.

·         पायरिया – नींबू का रस और शहद एक मात्रा में ले, और उसे मसूढ़ो पर लगायें.

·         कब्ज – 1 गिलास पानी ले, फिर उसमे एक नींबू का रस डालकर रात को सोने से पहले ले. या फिर आप 1 गिलास गर्म पानी ले, फिर उसमे सैंधा नमक डाले और उसका सेवन करे. ऐसा करने से पुराना कब्ज भी दूर हो जाएगा.

·         दांत दर्द – थोड़ी – सी लौंग पीसकर उसमे नींबू का रस मिलाये, फिर उसे दांतों पर लगाए. उसके बाद दांतों पर थोड़ा – सा खाने का सोडा लगा ले. ऐसा करने पर आपको दर्द में आराम मिलेगा.

·         पथरी – 1 गिलास पानी ले. उसमे 1 नींबू निचोड़कर, सैंधा नमक मिलाकर सुबह – शाम पीने से पथरी निकल जाती है.
Medicine Uses of Lemon
Medicine Uses of Lemon
·         पथरी का दर्द – अंगूर के आठ पते ले, उन पर आधा नींबू निचोड़कर उन्हें पीस ले. इसकी 2 चम्मच मात्रा हर दो घंटे में, तीन बार लेने से पथरी का दर्द दूर हो जाएगा.

·         सिर चकराना – गर्म पानी में नींबू निचोड़कर पिने से सिर चकराना बंद हो जाता है.

·         सिरदर्द – चाय में दूध मिलाने की जगह नींबू का रस डालकर पिने से सिरदर्द दूर हो जाता है. या फिर नींबू की पत्तियों का रस निकालकर उसे सूंघे, इससे भी सिरदर्द दर्द दूर हो जाता है.

·         उल्टी – नींबू में शक्कर या कालीमिर्च लगा कर चूसने से उल्टी आनी बंद हो जाती है और नींबू में इलायची भरकर चूसने से भी उल्टी आना बंद हो जाती है.

·         दाद – नौसादर को नींबू के रस पीस लो, फिर उसे दाद पर लगाओ. दाद पर लगाने से दाद साफ हो जायेगा.

·         मोतिया बिन्द – नींबू के रस में सैंधा नमक मिलाकर उसे घिसकर लगाओ. उसे दिन में 2 बार लगाने से मोतिया का बढ़ना रुक जाता है.

·         नकसीर – नकसीर आने पर नाक में ताज़ा नींबू की 2 – 4 बूंदे डालने पर नाक से खून आना रुक जाता है.

·         हंसली उतरना – जब किसी बच्चे की हंसली उतर जाती है तो हगर में नींबू के पत्तो की धूनी देने से हंसली वापस अपनी जगह आ जाती है.
Nimbu ke Gun or Fayde
Nimbu ke Gun or Fayde
·         शराब का नशा – शराब के नशे को उतारने के लिए अनारदाना व बिजौरा नींबू के अन्दर के केसर खिला दो. इससे उसका नशा उतर जाएगा.

·         मस्सा – 5 ग्राम नींबू का रस, 5 ग्राम जवाखार, 4 ग्राम सुहागा, 3 ग्राम नीला थोथा पीस कर मस्से पर लगा लो. ऐसा करने पर कुछ ही दिनों में मस्सा झड़ कर गिर जाएगा.

·         फोड़ा फुंसी – नींबू , नीम और बुलबुल के पत्ते लेकर उन्हें उबाल ले. फिर उन्हें राख में तेल के साथ मिलाये. फिर उस लेप को चेहरे पर लगा ले. ऐसा करने से फोड़ा या फुंसी ठीक हो जाएगी.

·         खूनी दस्त – 1 किलोग्राम गाय के दूघ में, 4 नींबू का रस मिलाकर पिलाने से पशु के खूनी दस्त ठीक हो जाते है.

·         नाफ टलना – 1 कागजी नींबू को काटकर सारे बीज निकाल ले, फिर उसमे 9 माशा भुना हुआ सुहागा भरकर, नींबू को आंच पर गर्म कर चुसे. ऐसा करने पर खिसकी हुई नाक अपनी जगह आ जाएगी.

·         हिचकी – नींबू के छिलकों को जला कर राख कर ले. फिर आधा चम्मच राख में शहद मिला ले और उसे 1 -1 घंटे के अंतर में चाटें. इस प्रकार आपकी हिचकी आना बंद हो जाएगी.

·         आफरा – अगर आपको घी खाने से आफरा हुआ है तो उसके लिए आपकों 1 गिलास गुनगुने पानी में 4 कागजी नींबू निचोड़कर पिने से आपका आफरा या भारीपन दूर हो जाएगा.
Nimbu se Swasthya ko Laabh
Nimbu se Swasthya ko Laabh
·         मलेरिया - पानी को उबाल ले, फिर उसमें नींबू का रस मिलाकर रात को एक मिट्टी के बर्तन में रख दे. फिर सुबह होने पर उसे थोड़ी – थोड़ी देर में पिने से बुखार आना बंद हो जाएगा.

·         बाल सफेद होना – नींबू के रस में, पिसा हुआ आवंला मिलाकर सिर पर लेप करे. फिर आधे घंटे बाद सिर धो ले, ऐसा करने पर धीरे – धीरे बाल काले हो जाएगे.

·         तिल्ली बढना – नींबू के दो टुकड़े करके सेक ले, फिर उसमे कालीमिर्च व नमक डालकर चूसने से बढ़ी हुई तिल्ली ठीक हो जाएगी.

·         मोटापा – 1 गिलास ठंडा पानी लो, उसमे 4 चम्मच शहद और 1 नींबू का रस मिलाकर सुबह खाली पेट ले. ऐसा करने से आपका मोटापा दूर हो जाएगा.

·         रक्ताल्पता – 1 गिलास पानी लो, उसमे 1 नींबू निचोड़कर उसे सुबह शाम पीने से रक्ताल्पता दूर हो जाएगा.

·         अतिसार – एक गिलास पानी ले और उसमे नींबू निचोड़ ले. फिर उसमे 1 चम्मच प्याज का रस डालकर उसे सुबह – शाम पियें. यदि आपको उल्टी हो भी हो रही है तो आप इसमे 1 चम्मच शक्कर व 1 कपूर घोल कर पी ले.

·         गंजापन – गंजापन दूर करने के लिए आप नींबू काट कर उसे अपने सिर पर रगड़े. नींबू रगड़ने पर 2 – 3 महिनों में आपका गंजापन दूर हो जाएगा.

·         दस्त – दस्त होने पर आप एक गिलास पानी में नींबू का रस मिलाकर दिन में 4 बार ले. इससे आपके दस्त बंद हो जाएगे.

·         खांसी, श्वास व ज्वर – इन तीनों के लिए आप नींबू में नमक, कालीमिर्च और शक्कर भर ले, फिर इसे गर्म कर ले. गर्म करने के बाद इसे चूसें.



निम्बू के अन्य लाभ, गुण और हानि आदि किसी भी तरह की सहायता के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते है. 
निम्बू के गुण व फायदे
निम्बू के गुण व फायदे
Nimbu ke Aushdhiyan Prayog, निम्बू के औषधिय प्रयोग, Medicine Uses of Lemon, Nimbu ke Gun or Fayde, Nimbu se Swasthya ko Laabh, Nimbu Khayen Rogmukt ho Jaayen, निम्बू के गुण व फायदे.


Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT