इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Chote Chote Lekin Upyogi Upay | छोटे – छोटे लेकिन उपयोगी उपाय

छोटे – छोटे कुछ प्रयोग ( Some Useful Tips )

सफेद बालों को काला करने के लिए उपाय 
(Remedy to Cure White Hair Problem)
सामग्री (Ingredients)
1.                        150 ग्राम भृंगराज चुर्ण
2.    150 ग्राम आमलकी रसायन
3.             150 ग्राम मिश्री CLICK HERE TO READ MORE ABOUT हर प्रकार की गांठ का ईलाज ...
Chote Chote Lekin Upyogi Upay
Chote Chote Lekin Upyogi Upay
बालों को काला करने के लिए इन तीनों को एक साथ मिलाकर पीस लें. उसके बाद इस मिश्रण की एक छोटी चम्मच लें और उसे एक गिलास दूध के साथ सुबह और शाम के समय खा लें. 6 से 7 महीने तक लगातार इस मिश्रण का सेवन करने से आपके सफेद बाल काले हो जायेंगे. इसके साथ ही यदि हमेशा कब्ज की समस्या रहती हैं तो वह भी दूर हो जायेगी.

अम्लपित्त (Pyrosis) - इस दवा का सेवन करने से अम्लपित्त का रोग भी ख़त्म हो जाता हैं. अम्लपित्त के रोग से ग्रस्त होने पर रोजाना सुबह 3 से 4 मिनट तक शीर्षासन करें. इसके बाद इस मिश्रण को अपनी नाक में डाल लें. अब बादाम रोगन या गाय का शुद्ध देशी घी लें और इसकी 2 बूंद अपनी नाक में 2 घंटे के बाद डाल लें. मिश्रण और उसके बाद घी या बादाम रोगन को डालने के बाद कम से कम एक घंटे तक ठन्डे पानी का सेवन बिल्कुल न करें. इसके साथ ही यदि आप सरसों के तेल का सिर की मालिश करने के लिए प्रयोग करते हैं. तो उसका प्रयोग अवश्य करें. जल्द ही आपको अम्लपित्त की बीमारी से छुटकारा मिल जाएगा.

बच्चो को सर्दी लग जाने पर तथा बुखार होने पर क्या करें (Remedies to Remove Children’s Cold and Fever)
1.यदि आपके बच्चे को सर्दी लग गई और बुखार भी हो गया हैं तो इसके लिए 4 या 5 तुलसी के पत्ते लें और एक छोटा टुकड़ा अदरक का लें. अब इन दोनों को खूब महीन पीस लें. पिसने के बाद इसे एक सूती कपडे में डाल दें और एक कटोरी में इसका रस निचोड़ दें. इसके बाद एक चम्मच शहद लें और उसे तुलसी और अदरक के रस में मिला लें. इसके बाद इसका सेवन बच्चे को दिन में 3 बार एक – एक चम्मच के कराएँ. बच्चे का बुखार उतर जाएगा और सर्दी भी नहीं लगेगी. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT रुखी त्वचा के लिए उत्तम तेल ... 
छोटे – छोटे लेकिन उपयोगी उपाय
छोटे – छोटे लेकिन उपयोगी उपाय
2.बच्चे को ठंड और बुखार से बचाने के लिए 2 – 3 लौंग लें और उसे पानी के साथ रगड़ लें. इसके बाद लौंग के पेस्ट को बच्चे की नाभि पर तथा माथे प लगा दें. बच्चा जल्द ही ठीक हो जाएगा.

3.बच्चे की तबियत में सुधार लाने के लिए आप तुलसी और अदरक का एक और तरीके से इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके लिए एक बर्तन में एक गिलास पानी डाल लें और उसमें तुलसी के पत्ते और अदरक को हल्का कूट कर डाल दें. इसके बाद पानी को तब तक उबालें जब तक की पानी उबल – उबल कर आधा न हो जाएँ. अब इस पानी में एक चमच्च गुड़ को पीसकर डाल दें और कुछ देर और पानी को उबाल लें. इसके बाद इस रस का सेवन अपने बच्चे को दिन में दो बार कराएँ.

उल्टी होने पर क्या करें (What to do in Vomiting)
अगर आपको लगातार उल्टियाँ हो रही हैं और इसके साथ ही आपके शरीर में बेचैनी भी महसूस हो रही हैं तो आप नीचे बताये गये कुछ आसान उपायों को अपना सकते हैं.

1.उल्टियों को बंद करने के लिए तुलसी का रस लें और उसमें इसकी बराबर मात्रा में शहद मिला लें. इसके बाद इस रस को दिन में 4 या 5 बार चांटे. उल्टियाँ बंद हो जायेंगी.

2.यदि आपको लगातार उल्टियाँ हो रहीं हैं तो ऐसी अवस्था में आप प्याज के रस का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. उल्टियों से आराम पाने के लिए थोडा सा प्याज का रस लें और उसमें प्याज की ही समान मात्रा में शहद मिला लें. इसके बाद इस रस को चाटते रहें. उल्टियाँ नहीं होंगी.

3.अगर आप पुदीने के रस की एक – एक चम्मच दिन में 5 या 6 बार पियें तो भी उल्टियाँ होनी बंद हो जाती हैं.

बार – बार मूत्र आने पर (Regular Urination)
यदि आपको दिन में थोड़े – थोड़े समय में मूत्र आने की शिकायत हैं तो इससे राहत पाने के लिए तिल और गुड़ को मिलाकर लड्डू बना लें. इसके बाद इसका सेवन दिन में दो बार सुबह और शाम को करें. बहुमूत्र अर्थात बार – बार मूत्र आने की समस्या ठीक हो जायेगी.

दस्त की समस्या (The Problem of Diarrhea)
1.दस्त होने पर एक गिलास लस्सी लें और उसमें एक चुटकी भूना हुआ जीरा और काला नमक मिला लें. इसके बाद इसका सेवन खाना खाने के बाद करें. दस्त जल्द ही ठीक हो जायेंगे.

2.दस्त होने पर आप अमरुद के साथ मिश्री मिलाकर भी खा सकते हैं. इससे भी दस्त होने बंद हो जाते हैं.
दस्त की समस्या
दस्त की समस्या
3.कच्चा पपीता भी दस्त की बीमारी को दूर करने के लिए बेहद ही लाभदायक होता हैं. दस्त की बीमारी के होने पर कच्चा पपीता लें और उसे काट कर उबाल लें. इसके बाद इसका सेवन करें. आपको दस्त से राहत मिल जायेगी.

नाभि के खिसक जाने पर (For Slip Navel)
नाभि के खिसक जाने पर मरीज को बिल्कुल सीधा लिटा लें. इसके बाद कुछ सूखे आंवले लें और उसका आटा बना लें. इसके बाद इस आटे में अदरक का रस मिला लें और इस आटे को उसकी नाभि के चारों ओर बांध दें. दो बार इस प्रक्रिया को दोहराने पर नाभि अपने स्थान पर स्थिर हो जायेगी तथा इस उपाय को करने के बाद यदि आपको दस्त की शिकायत हैं. तो वह भी दूर हो जायेगी. इस उपाय को करने के साथ – साथ जब तक व्यक्ति की नाभि स्थिर नहीं हो जाती उसे मूंग की दाल की खिचड़ी या अदरक और हिंग का सेवन कराएँ.

पेट में वायु (गैस) बनने पर (Stomach Acidity)
1.पेट में वायु बनने की समस्या से छुटकारा पाने के लिए भोजन करने एक बाद 2 या 3 इलायची दाने चबा – चबा कर खा लें तथा इसके बाद एक गिलास निम्बू पानी पी लें. आपको गैस से जल्द ही मुक्ति मिल जायेगी.

2.                        यदि किसी व्यक्ति के पेट में गैस बनती हैं तो इससे निजात पाने के लिए एक चम्मच त्रिफला का चुर्ण लें और इसे सुबह और शाम को दो बार गर्म पानी के साथ फांक लें.

3.यदि आपको पेट में वायु बनने के साथ – साथ अफारा उठने का भी रोग हो गया हैं तो इस रोग के निदान हेतु अजवायन और काले नमक की एक समान मात्रा लें और एक गिलास गर्म पानी लें. अब अजवायन और काले नमक के साथ फांक लें. अफारा उठना और गैस बनना बंद हो जाएगा.

पैर में मोच आने पर (Leg Cramps)
यदि किस व्यक्ति को अचानक ही पैर में मोच आ जाये. तो इसे जल्द ठीक करने के लिए एक आक का या पान का पत्ता लें और उस पर घी लगा लें. इसके बाद इस पत्ते पर थोडा सा नमक छिडक लें और इसे अपनी मोच पर बांध लें.
छोटे-छोटे कुछ प्रयोग इन्हें भी आजमाए
छोटे-छोटे कुछ प्रयोग इन्हें भी आजमाए
2. पैर में मोच आने पर थोडा नमक, हल्दी, सूखा नारियल लें और इन्हें एक साथ पीस लें. इसके बाद इस मिश्रण को थोडा गर्म कर लें और जिस स्थान पर मोच आई हैं उस पर लगा दे और ऊपर से बांध दें. मोच में आराम मिलगे और मोच जल्द ही ठीक हो जायेगी.

घुटनों में दर्द (Knee Pain)
यदि किसी व्यक्ति के घुटनों में दर्द हो तह हैं तो इस दर्द से मुक्ति पाने के लिए 4 या 5 अखरोट लें और इनकी गिरी निकाल कर इनका सेवन रोजाना करें. इसके अलावा घुटनों के दर्द से राहत पाने के लिए आप नारियल भी खा सकते हैं. दोनों ही उपायों से आपको घुटनों के दर्द से काफी आराम मिलेगा.

अस्थमा का रोग (Asthma Disease)
अस्थमा का रोग होने पर कुछ तुलसी के पत्ते लें और 2 या 3 काली मिर्च के दाने लें. अब तुलसी के पत्तों को अच्छी तरह से धोने के बाद इसके साथ कालीमिर्च के दाने खा लें. अस्थमा की बीमारी नियंत्रित रहेगी.
Choti Choti Bimariyon ke Liye Ghreloo Upchar
Choti Choti Bimariyon ke Liye Ghreloo Upchar
किडनी में पथरी होने पर (Stone in Kidney)
यदि आपकी किडनी में पथरी हो गई हैं. जिसके कारण आपको अधिक पीड़ा भी होती हैं. तो इस समस्या को दूर करने के लिए तीन कच्ची भिंडी लें और इन्हें लम्बाई में काट लें. इसके बाद एक बर्तन में कम से कम 2 लीटर पानी डालें और इन्हें इस पानी में भिगोकर रात भर ऐसे ही छोड़ दें. सुबह के बाद इस पानी में से भिंडी निकाल कर निचोड़ दें और इस पानी को 2 घंटे के अंदर धीरे – धीरे पी लें. आपको किडनी की पथरी और दर्द से राहत मिल जायेगी.

अन्य किसी भी बीमारी के बारे में तथा उससे निजात पाने के उपायों को जानने के लिए आप नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हैं. 

Ulti Nabhi Khisakane Dame Bukhar Dast Aur Gais Kabj ka Ilaj
Ulti Nabhi Khisakane Dame Bukhar Dast Aur Gais Kabj ka Ilaj

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT