इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Kaun sa Vyayam Bdhayega Kad | कौन सा व्यायाम बढ़ायेगा कद | Grow Height by Yoga Exercises

·         लम्बाई बढ़ाने के लिए जरूरी व्यायाम :
लम्बाई को बढने में व्यायाम का विशेष महत्व होता है और आइये जानते है कि वे कौन कौन से व्यायाम है जिनको आप अपनी लम्बाई बढ़ाने के लिए अपना सकते हो.

-    पश्चिमोतानासन : सबसे पहला आसन है पश्चिमोतानासन, इसको करने के लिए आप सबसे पहले जमीन पर बैठ जाइये और अपने पैरों को आगे की तरफ फैला लें. अब आप अपने दोनों हाथो से अपने पैरो के दोनों अंगूठो को पकड़ें. ध्यान रहे कि आप अपने पैरों के घुटनों को न मोड़ें. आप इसका अभ्यास करते रहे. अंगूठो को पकड़ने के बाद आप अपने सिर को झुकाते हुए अपने दोनों घुटनों के बीच में ले आइयें. इससे आपके पैरो और कमर की मांस पेशियों में खिचाव आता है. CLICK HERE TO READ MORE SIMILAR POSTS ...
शरीर की लम्बाई बढ़ाने के लिए योग व्यायाम
शरीर की लम्बाई बढ़ाने के लिए योग व्यायाम
लाभ : पश्चिमोतानासन करने से आपके लीवर पर अच्छा प्रभाव पड़ता है. इससे बवासीर से पीड़ित लोगो को भी लाभ प्राप्त होता है. ये लम्बाई बढ़ाने के साथ पेट में जमा वायु को भी दूर करता है. पूर्वजो के अनुसार ये अवस्था सबसे उत्तम मानी जाती है क्योकि इससे अनायास ही ब्रह्मचर्य का पालन हो जाता है. शुक्र ( वीर्य ) का प्रवाह जननेंद्रिय की तरफ होता है किन्तु इस आसन को करने से शुक्र का प्रवाह सिर की तरफ हो जाता है जो आपको कम की भावना से मुक्त करने में सहायक होता है.

-    उत्तानपादासन : आप अपने शरीर को ढीला छोड़ कर जमीन पर लेट जायें और अपने पैरों को सीधा कर लें. अब आप अपने पैरो को धीरे धीरे ऊपर उठायें. कोशिश करें कि आप पैरो को धीरे धीरे ऊपर उठायें क्योकि जितना धीरे आप अपने पैरो को ऊपर उठाते है उतना ही अधिक आपको लाभ पहुँचता है. पैरो को धीरे धीरे ऊपर उठाने से आपकी आँखों पर जोर पड़ता है और आपको आँखों से संबंधित रोग से मुक्ति मिलती है. जब पैर हवा में हो तो आप जितनी देर हो सके उन्हें हवा में स्थित रखने की कोशिश करें. थोड़ी देर बाद अपने पैरो को आराम से नीचे जमीन पर ले आयें.

लाभ : उत्तानपादासन आसन करने से भूख बढ़ जाती है और शरीर को शक्ति मिलती है, साथ ही ये छोटे कद को लम्बा करता है. ये आसन कब्जियत, बदहजमी जैसे पेट के रोगों को भी दूर करता है. CLICK HERE TO READ MORE SIMILAR POSTS ...
Kaun sa Vyayam Bdhayega Kad
Kaun sa Vyayam Bdhayega Kad
-    पादहस्तासन : पादहस्तासन को करने के लिए आप सीधे खड़े हो जायें और धीरे धीरे झुक कर अपने पैरों के अंगूठों को पकड़ने की कोशिश करें. ध्यान रहे कि आप अपने घुटनों को न मोड़ें. अंगूठों को पकड़ने के बाद आप कोशिश करें कि आप अपने सिर को दोनों घुटनों के बीच में ले आयें. आप इस अवस्था में जितना देर खड़ा हो सके रहें, उसके बाद आप अंगूठो को छोड़ कर धीरे धीरे खड़े हो जायें.

लाभ : पादहस्तासन करने से यकृत ( Liver ) अपना कार्य सही तरह से करने लगता है जिससे पाचन क्रिया मजबूत होती है, साथ ही इस आसन को प्रतिदिन 10 मिनट करने से पेट से जमा वायु की शिकायत दूर होती है. ये कब्ज रोग, मंदाग्नि के दोष को मिटाता है और लम्बाई बढने के साथ साथ स्वास्थ्य को उत्तम करता है.
Increase Height using Yoga Exercise
Increase Height using Yoga Exercise
-    शीर्षासन : जैसाकि इस आसन के नाम से ही पता चलता है कि इस आसन के लिए आपको अपने सिर के बल खड़ा होना होता है. तो जमीन के सख्त होने पर आप पहले अपने सिर के नीचे कोई गद्दीदार चीज़े जरुर रख लें. अब आप अपने दोनों हाथो को जमीन पर रखे और अपने दोनों पैरों को हवा में ऊपर फैक कर अपने सिर के सहारे खड़ा होने की कोशिश करें. आप इस अवस्था में जितना देर हो सके खड़ा रहे. अगर आप इस आसन को आरंभ ही कर रहे है तो आप इस आसन को दीवार का सहारा लेकर करें, ताकि आप गिरे नहीं. जब आप इस आसन में निपूर्ण हो जायें तो आप इसे बिना किसी सहारे के करें.

लाभ : इस आसन को करने से खून का चक्र ( Blood Circulation ) अपनी रीति से उल्टा ( पैरो से सिर की तरफ ) चलता है. ऐसा होने से खून से सम्बंधित विकार दूर होते है और खून निर्मल होता है. जिससे तंदुरुस्ती में आश्चर्यजनक लाभ होता है.
छात्रावस्था में स्वप्नदोष बहुत होता है और स्वपनदोष को दूर करने के लिए इस उपाय से अच्छा उपाय कोई दूसरा नही माना जाता. ये आँखों की ज्योति को बढ़ाता है, दांत मजबूत करता है और दस्त की बीमारी को दूर करता है.

इसके प्रतिदिन 5 से 15 मिनट के अभ्यास से शरीर में स्फूर्ति और तंदुरुस्ती आती है और लम्बाई बढती है. इस आसन को जितना देर किया जाये उतना लाभ मिलता है क्योकि ये व्यक्ति के पाचन तंत्र को मजबूत कर भूख को बढ़ाता है. इससे फोड़े, फुंसी, दर्द, अनिद्रा, मस्तिष्क की गर्मी, हथेली और तलवो में जलन जैसी बिमारियों से भी मुक्ति मिलती है. ये व्यक्ति के चेहरे पर तेज लाने में भी सहायक होता है.

-    धनुषासन : इस आसन को करने के लिए सबसे पहले आप जमीन पर पेट के बल लेट जाएँ और अपने पैरों को ऊपर उठायें. अब आप अपने पैरों को अपने हाथो से पकड़ने की कोशिश करें. कोशिश करें की आपका शरीर के धनुष का आकर ले लें. इस अवस्था में आप जितना देर हो सके रहे.  

लाभ : धनुषासन को रीढ़ की हड्डी के लिए सबसे उपयुक्त आसन माना जाता है. रीढ़ की हड्डी के स्वस्थ होने से व्यक्ति अधिक समय तक युवा दिखता है, साथ ही रीड की हड्डी लम्बाई को बढ़ाने में सबसे अधिक महत्त्वपूर्ण होती है. इसीलिए इस आसन को लम्बाई या कद बढ़ाने के लिए अहम माना जाता है.
कौन सा व्यायाम बढ़ायेगा कद
कौन सा व्यायाम बढ़ायेगा कद
-    सर्वांगासन : इस एक आसन को में आप 5 से 6 तरह की आसन कर सकते हो. इसके लिए सबसे पहले जमींन पर लेट जाए और अपने हाथो और पैरो को सीधा करें. अब आप अपने पैरो को ऊपर हवा में उठायें और कुछ देर ऐसे ही रहे. इसके बाद आप अपने पैरो को थोडा और ऊपर उठा कर उसे जमीन के लम्बवत कर लें और अब आप कुछ देर इस अवस्था में रहें. अब आप अपने पैरो को थोडा और ऊपर करें. इसके लिए आप अपने हाथो को कमर से पकड़ कर अपने पैरो को सीधा रहने में सहारा दें. ध्यान रहे की आपके शरीर का बोझ आपके कंधो पर हो. इस अवस्था में जितना देर हो सके रहे. अब आप अपनी कमर को मोड़ कर अपने पैरो को सिर से पीछे ले जायें. ध्यान रहे कि आप कमर को सहारा जरुर दें. इस तरह ये आसन हल आसन में भी बदल जाता है. सर्वांगासन आपके शरीर के सभी अंगो का व्यायाम कर देता है और आपके सम्पूर्ण शरीर को मजबूती देता है.

लाभ : जैसाकि इस आसन के नाम से पता चलता है कि ये सम्पूर्ण शरीर के अंगो को लाभ देने वाला आसन है तो ये हर तरह से व्यक्ति के लिए उत्तम होता है. इससे हाथ, पैर, मस्तिष्क, रीढ़ की हड्डी, कमर, कंधे, आँखे, रक्त संचार और प्रवाह आदि सभी में लाभ पहुँचता है. इसके इतने सारे लाभ होने की वजह से ही इसे आसनों में सबसे उत्तम स्थान प्राप्त है.
लम्बाई बढ़ाने के लिए जरूरी व्यायाम
लम्बाई बढ़ाने के लिए जरूरी व्यायाम
-    चक्रासन : चक्रासन को धनुषासन के उल्टा माना जाता है और इसी वजह से इसे उध्र्व धनुषासन भी कहा जाता है. अपने नाम के अनुरूप ये आसन व्यक्ति के शरीर को एक चक्र या पहियें का आकर दे देता है. इसको करने के लिए आप जमीन पर कमर के बल लेट जायें. अब आप अपने तलवो को जमींन पर जमा लें और अपने दोनों पैरो को मोड़कर खड़ा होने की कोशिश करें. आप अपने पैरो के बीच 1 फीट की दुरी जरुर रखें. अब आप अपने हाथो की हथेलियों को जमीन पर रखते हुए अपनी कमर को धीरे धीरे ऊपर उठायें. आप अपने शरीर को ढीला छोड़ दें और लम्बी व गहरी साँसे लें. जब आपकी कमर पूरी तरह से हवा में हो तो आप उस स्थिति में कुछ समय रुके रहने की कोशिश करें और साँसों को रोक लें. आप इस आसन को अपनी क्षमता के अनुसार समय के लिए ही करें. अब आप धीरे धीरे अपनी कमर को नीचे लायें.


लाभ : चक्रासन के अनेक लाभ होते है जैसेकि ये पाचन तंत्र को दुरुस्त करता है, कमर और रीढ़ की हड्डी को मजबूत बनता है, मोटापा और चर्बी को कम करता है, साथ ही ये आसन लम्बाई बढ़ाने में भी सहायक होता है.
Grow Height by Yoga Exercises
Grow Height by Yoga Exercises
Kaun sa Vyayam Bdhayega Kad, कौन सा व्यायाम बढ़ायेगा कद, Grow Height by Yoga Exercises, Chakrasan Shirshasan Sarvangasan Padmhasthaasan se Sharir ki Lambai Badhyen, Increase Height using Yoga Exercise, शरीर की लम्बाई बढ़ाने के लिए योग व्यायाम.



YOU MAY ALSO LIKE  

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT