इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Buri Aadaton se Chhutkaara Kaise Paaun Mai | बुरी आदतों से छुटकारा कैसे पाऊं मैं | How can I Leave Bad Habits

बुरी आदतें ( Bad Habits )
हम सभी पुरे दिन भर में ना जाने कितने ही कार्य करते है जैसेकि खेलनापढ़नाऑफिस की फाइलें पूरी करनाटेलीविज़न देखनाखाना पीना और नींद लेना इत्यादि. इन सभी का अपनी अपनी जगह ख़ास महत्व होता है किन्तु खाना एक ऐसी जरूरत है जो बाकी सभी से जुड़ा हुआ है क्योकि अगर खाना पौष्टिक होगा तभी आपको बाकी कामों को करने के लिए ऊर्जा प्राप्त हो पाएगीदूसरी बात खाना ही है जो हमारे शरीर को स्वस्थ बनाये रखता है और रोगों से मुक्ति दिलाता है. CLICK HERE TO KNOW सुविधा के गुलाम मतलब रोगों के गुलाम ... 
Buri Aadaton se Chhutkaara Kaise Paaun Mai
Buri Aadaton se Chhutkaara Kaise Paaun Mai
किन्तु प्रतियोगिता से भरी इस दुनिया में आजकल कोई भी अपने खाने और स्वास्थ्य पर ध्यान नहीं देता और ये उनकी सबसे बुरी आदत है. इसके अलावा भी हम सब कुछ ऐसी बुरी आदतों से घिरे हुए है जो हमारे शरीर को भी नुक्सान बना रही है और सफलता भी प्राप्त नहीं करने दे रही. आज हम आपको कुछ ऐसी ही बुरी आदतों से अवगत करा रहे है जिनसे मुक्ति पाते ही आप खुद महसूस करोगे करोगे कि आप सफलता की तरह आगे बढ़ रहे हो.

सेहत के लिए खतरनाक बुरी आदतें ( These Bad Habits are Dangerous for Health ) :
·         बेड टी बैड हैबिट ( Bad Habit of Bed Tea ) : अगर सौ लोगों को इक्कठा किया जाए तो उनमें से 98 ऐसे होंगे जो चाय के आदि होंगे. ऐसे लोगों को सुबह उठते ही और रात को सोने से पहले चाय अवश्य चाहियें. अगर सुबह चाय ना मिले तो ये बिस्तर से ना उठे और रात को चाय ना मिले तो इन्हें नींद नहीं आती बेचैनी लगी रहती है. किन्तु वे नहीं जानते कि उनकी ये आदत उन्हें एसिडिटी और पेट में गैस जैसी समस्याओं के सामने ले जाती है.

अगर आप भी इस आदत के शिकार है तो आज से बिस्तर पर चाय के स्थान पर आप गुनगुने पानी में शहद व नीम्बू निचोड़कर इस्तेमाल करें क्योकि शहद नीम्बू की चाय पाचन शक्ति में इजाफा करते हुए बीमारियों से लड़ने की शक्ति को बढ़ाती है साथ ही ये शरीर में रक्त प्रवाह को भी नियंत्रित करती है. अगर फिर भी आपको चाय की ललक हो तो इस चाय के करीब 50 मिनट बाद चाय पियें. CLICK HERE TO KNOW मादक पदार्थों के सेवन की रोकथाम ... 
बुरी आदतों से छुटकारा कैसे पाऊं मैं
बुरी आदतों से छुटकारा कैसे पाऊं मैं
·         जंक फ़ूड ( Eating Junk Food ) : माना जाता है कि युवा अवस्था किसी भी व्यक्ति के लिए उसके जीवन की सबसे अहम अवस्था होती है क्योकि इसी दौरान वो दुनिया के संपर्क में आता है और बहुत सारे अनुभवों को जीता है किन्तु इस अवस्था में व्यक्तियों के भटकने की भी संभावना अधिक रहती है जिसके लोग शराब पीने लग जाते हैबीडी पीने लग जाते है किन्तु उनसे पहले हम बात करेंगे जंक फ़ूड की. जी हाँआजकल बच्चों को जरा सी भूख लगती नहीं कि वे तुरंत कोई पिज्जाबर्गर या कोई अन्य जंक फ़ूड आर्डर करके अपने स्वस्थ्य को हानि पहुंचाते है. इन खानों में ना तो कोई पौषक तत्व होते है और ना ही ये शरीर के लिए लाभदायी होते हैसाथ ही जिस तेल या पदार्थ से ये बनते है वे तरह तरह के रोग उत्पन्न करते है. तो आपको जंक फ़ूड की आदत को भी जल्दी ही दूर करना होगा और इनके स्थान पर फलों की तरफ बढना होगा.

·         पानी पियें ( Drink Water ) : आजकल मार्किट में पानी से ज्यादा कोल्ड ड्रिंकसोडा और बियर अधिक आने लागित है जबकि सब जानते है कि जल ही जीवन है और प्यास को सिर्फ पानी ही बुझा सकता है. अगर आप कोल्ड ड्रिंक इत्यादि को अधिक पीन लगेंगे तो आपके शरीर में पानी की कमी हो जायेगी जो कब्जबदहजमीडिहाइड्रेशनथकानजलन और अन्य पेट के रोगों का कारण बनेगा. साथ ही बियरकोल्ड ड्रिंक और सोडे का सेवन करने से उनके अंदर के एसिड आपके शरीर को हानि पहुंचाने में बिलकुल नहीं कतरायेंगे.
How can I Leave Bad Habits
How can I Leave Bad Habits
·         खाने में फाइबर ( Add Fiber in Your Diet ) : अगर खाने में सबसे जरूरी तत्व की बात करें तो वो है फाइबर अर्थात रेशेदार पदार्थ. इनका खाने में ना होने आपकी सबसे गन्दी आदत होती है जिसके प्रभाव भी शरीर भी बहुत बुरे पड़ते है. तो स्वस्थ शरीर के लिएय अपने खाने में कच्ची सलादसब्जियों का सूपदलीय और फल इत्यादि अवश्य शामिल करें.

·         च्युइंगम खाना ( Eating Chewing Gum ) : आप अपने आसपास ऐसे अनेक लोगों को देख सकते हो जिनके मुहँ में हमेशा च्युइंगम होती हैइनको देखने पर ऐसा लगता है जैसेकि ये भैसों की तरह जुगाली कर रहे है. वैसे एक तरह से देखा जाए तो ये दोधारी तलवार है अर्थात इसके दो पहलु है – पहला तो ये कि च्युइंगम चबाना शिष्टाचार के बिलकुल विरुद्ध है. किन्तु इसके दुसरे पहलु के अनुसार च्युइंगम चबाने से दिमाग तेज होता है और जबड़े का अच्छा व्यायाम होता हैतो अगर आप च्युइंग चबाते है तो आप स्थान का चुनाव अवश्य कर लें.

सेहत के लिए खतरनाक बुरी आदतें
सेहत के लिए खतरनाक बुरी आदतें
·        चुगली और गॉसिप में अंतर ( Difference Between Backbiting and Gossip ) : हम सभी के दोस्त है और जब मिलते है तो तरह तरह की बाते करते है किन्तु कुछ चुगली करते है अर्थात दूसरों के बारे में बुरा बोलते हैइस कार्य को देखा जाए तो ये बिलकुल व्यर्थ हैइसमें आप बेवजह अपना समय बर्बाद करते हो साथ ही चुगली आपके मन में दुसरे के लिए हीन भावना को भी भरता है किन्तु अगर उसकी का स्थान गॉसिप ले लेती है तो वो आपके लिए फायदेमंद रहता है क्योकि उसमें आप देश दुनिया की बात करते होसोसाइटी के बारे मेंअपने पर्सनल लाइफ के बारे में और अपने भविष्य के बारे में बात करते हो. इस तरह की बातें आपको अनुभव देती है और हो सकता है कि आपका टीम वर्क आपको जल्द सफलता तक पहुंचा दें तो आप चुगली की बुरी आदत को भी जल्दी छोड़ दें.

·         नकारात्मक सोच रखना ( Negative Point of View ) : बड़े बूढ़े कह गए है कि कभी भी किसी कार्य को आरम्भ करने से पहले नकारात्मक नहीं सोचना चाहियें किन्तु नकारात्मक सोच का भी अपना ही एक सकारात्मक पहलु होता है क्योकि नकारात्मक सोच वो दृष्टि देती है जिसकी वजह से हम सकारात्मक कार्य में आने वाली बाधाओं को पहले से ही देख पाते है और उनके समाधान व उनसे बचाव के लिए तैयार रहते है तो इस तरह आप अपनी नकारात्मक आदत को सकारात्मकता में बदल सकते हो.
Kharab Svbhaav ke Bhi Hote Hai Fayede
Kharab Svbhaav ke Bhi Hote Hai Fayede
·         गाली देना ( Habit of Abusing ) : ये भी उन आदतों में शामिल है जो शिष्टाचार की दृष्टि में बहुत गन्दी होती है और आपको समाज में बहुत नीचा दिखा सकती है किन्तु फिर से बात वहीँ आती है कि इस तरह गुस्सा करना व गाली देना आपके मन को हल्का भी कर सकता है और आपके दर्द को भी मिटाता है. साथ ही वैज्ञानिक दृष्टि से देखते तो गाली देने से फाइट और फ्लाईट रिस्पांस में इजाफा होता है. किन्तु ध्यान रहे किसी को उसके सामने गाली ना दें अगर आपको किसी पर गुस्सा आ भी रहा है तो आप अकेले में जाकर अपनी भड़ास निकाल सकते हो.

·        व्यायाम ना करना ( Do Exercise Daily ) : आप किसी भी बुजुर्गडॉक्टरअध्यापक या समझदार व्यक्ति के पास चले जाएँसभी आपको स्वस्थ और तंदुरुस्त रहने के लिए सबसे पहले एक ही सलाह देंगे और वो है व्यायाम करने की. जी हाँव्यायाम ना सिर्फ शारीरिक बल्कि मानसिक रूप से भी आपको स्वस्थ रखने में सक्षम होता है तो अपनी रोजाना की जीवनशैली में प्रातः और सांय कुछ समय व्यायाम को भी दें.

अपनी ऐसी ही अन्य बुरी आदतों को जानने और उनसे छुटकारे के उपायों के बारे में अधिक जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो. 
Kusanskaar ko Banaye Susanskaar
Kusanskaar ko Banaye Susanskaar

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT