इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Jyotishi Paksh ke Prbhav Vyaktitv Par | ज्योतिषी पक्ष के प्रभाव व्यक्तित्व पर | Astrological Effects on Birth Side

व्यक्तित्व पर जन्म पक्ष के प्रभाव

हम हर रोज अनेक तरह के लोगो से मिलते है और पाते है कि हर व्यक्ति का स्वभाव दुसरे व्यक्ति से अलग होता है. स्वभाव में अंतर का होना उस व्यक्ति का वातावरण, उसकी जीवन शैली और उसकी संगत हो सकता है. किन्तु ज्योतिष शास्त्र के अनुसार व्यक्ति के व्यक्तित्व और उसके स्वभाव में अंतर का कारण उसका जन्म पक्ष, राशि, नक्षत्र और उसकी कुंडली में स्थित ग्रह भी होते है. एक माह में दो पक्ष होते है, पहला कृष्ण पक्ष और दूसरा शुक्ल पक्ष. जन्म पक्ष से अर्थ है कि व्यक्ति का जन्म माह के किस पक्ष में हुआ है, उसकी के आधार पर व्यक्ति के स्वभाव में परिवर्तन भी देखा जाता है. क्योकि माह में दो पक्ष होते है तो हर पक्ष 15 दिनों का होता है और ये पक्ष चन्द्रमा के आकर को लेने और चन्द्रमा के आकर को कम करने पर आधारित होते है.  


शुक्ल पक्ष : ये पक्ष उजाले को दर्शाता है. इसके 15 दिन की शुरुआत अमावस्या के बाद होती है और ये पूर्णिमा तक का समय होता है. इस अवधी में जन्म लेने वाले जातको को लम्बी आयु प्राप्त होती है, ये अन्नदाता, पालन करने वाले, पुत्रवान, दानवीर और उच्च श्रेणी के मित्र वाले व्यक्ति होते है. इस पक्ष को चांदण पक्ष भी कहा जाता है. 
CLICK HERE TO READ MORE SIMILAR POSTS ...
ज्योतिषी पक्ष के प्रभाव व्यक्तित्व पर
ज्योतिषी पक्ष के प्रभाव व्यक्तित्व पर

कृष्ण पक्ष : कृष्ण पक्ष का समय चन्द्रमा के आकर के कम होने के 15 दिन तक होता है. इसकी शुरुआत पूर्णिमा के अगले दिन से होती है और ये अमावस्या तक का समय होता है. इस पक्ष को अँधेर पक्ष भी कहा जाता है. कहा जाता है कि अगर कोई व्यक्ति इस पक्ष में जन्म लेता है तो वो व्यक्ति आलसी, दुसरो से वैर भाव रखने वाला, निंदा करने वाला और अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने वाला होता है. 


आओ अब हम इन पक्षों के व्यक्ति के व्यक्तित्व पर पड़ने वाले प्रभाव को विस्तार से पढ़ते है.


शुक्ल पक्ष में जन्मे जातक का स्वभाव :

-    क्योकि ये पक्ष रोशनी और उजाले का प्रतिक है तो ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शुक्ल पक्ष में जन्म लेने वाले व्यक्ति का स्वभाव भी पूर्णिमा के चाँद के समान उज्जवल और रोशन माना जाता है. इस पक्ष में जन्मे जातको को ज्ञानी और कई विषयों में अच्छी जानकारी रखने वाला माना जाता है, साथ ही इन जातको की बुद्धि सुन्दर और शुद्ध होती है. ये जिस भी कार्य को करने की ठान लेते है उसे पुरे मन से और पूरी कुशलता के साथ करते है, क्योकि ये जातक बहुत ही परिश्रमी होते है और मेहनत करने से पीछे नही हटते तो सफलता भी इनके कदमो को चूमती है, साथ ही ये कठिनाइयों को भी आसानी से पार कर लेते है. CLICK HERE TO READ MORE SIMILAR POSTS ...
Astrological Effects on Birth Side
Astrological Effects on Birth Side

-    ये अपनी बुद्धिमत्ता और मेहनत से धन को अर्जित करने में भी सफल रहते है इसीलिए इन्हें कभी भी धन से सम्बंधित किसी भी परेशानी को नही झेलना पड़ता. इनके स्वभाव की सबसे अच्छी विशेषता यही है कि ये सरल और स्नेहशील परवर्ती के होते है. ये जातक अपने से बड़ो का आदर करते है और छोटो के प्रति अपने मन में प्रेम रखते है. इनकी कला के प्रति भी अच्छी रूचि होती है. 


कृष्ण पक्ष में जन्मे जातक का स्वभाव :

-    ज्योतिष शास्त्र कहता है कि कृष्ण पक्ष में जन्मे लोगो का हृदय कठोर होता है. ये शीघ्र भावनाओं में नही बहते है बल्कि अपने कार्यो को करवाने के लिए ही किसी के साथ रिश्ता रखते है. इनके व्यवहार में अनेक तरह की कमी होती है. ये बात करते वक़्त इस बात का बिलकुल ध्यान नही रखते कि सामने वाले को इनकी बातो कितना बुरा लग रहा है, साथ ही जब ये बात करते है तो इनकी बातो में मधुरता की जगह रूखापन ज्यादा होता है. ये अपने व्यवहार को बड़ी ही चतुराई से बदल लेते है.


-    इस पक्ष में जन्मे लोग महिलाओं के प्रति भी निम्न सोच रखते है और इसी वजह से इनके मन में महिलाओं के लिए बहुत कम सम्मान होता है. ये अपने व्यवहार को तो चालाकी से बदल लेते है किन्तु इनका ये व्यवहार इनके धन कमाने में काम नही आता. ये धूर्त, मौकापरस्त और स्वार्थी परवर्ती के होते है. इनके परिवार के सदस्यों की संख्या बहुत ही अधिक होती है साथ ही ये लोग दिखावे की जिंदगी को जीना अधिक पसंद करते है.


तो इस तरह से जन्म पक्ष किसी भी व्यक्ति के जीवन में एक अहम जगह रखता है और उनके व्यक्तित्व में परिवर्तन लाता है.  

 
Jyotishi Paksh ke Prbhav Vyaktitv Par
Jyotishi Paksh ke Prbhav Vyaktitv Par

 Jyotishi Paksh ke Prbhav Vyaktitv Par, ज्योतिषी पक्ष के प्रभाव व्यक्तित्व पर, Astrological Effects on Birth Side, Krshan Paksh ya Shukl Paksh ke janm par prbhav, कृष्ण पक्ष या शुक्ल पक्ष के जन्म पर प्रभाव.




YOU MAY ALSO LIKE 

हॉलीवुड की सुन्दर सेक्सी और गर्म मॉडल और अभिनेत्री एम्मा स्टोन
हॉलीवुड की सुंदर गर्म सेक्सी मॉडल अभिनेत्री एन जैकलीन हैथवे
- उत्तम और नीच संतान प्राप्ति के नियम और समय
- ज्योतिषी पक्ष के प्रभाव व्यक्तित्व पर
- इमली के औषधीय फायदे
- इमली से घरेलू इलाज

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

2 comments:

  1. कृष्ण पक्ष की केवल बुराइयाँ गिनवाई है ! सकारात्मक पहलु भी बताये ! क्या सभी कृष्ण पक्ष के लोग ऐसे ही होते है ?? मै भी कृष्ण पक्ष का हूँ पर ऐसा बिलकुल नही !!

    ReplyDelete
    Replies
    1. जी बिलकूल सही कहा आपने, कृष्ण पक्ष के बहुत सकारात्मक और बढ़िया पहलू भी होते है ...

      Delete

ALL TIME HOT