इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Happy Id Eid Ul Fitar | ईद उल फितर की मुबारकबाद

ईद - उल - फितर (Id Ul Fitar)
मुस्लिम कैलेण्डर के अनुसार साल का नोवाँ महिना रमजान का होता हैं. इस पूरे महीने में इस्लामी लोग अल्लाह को याद करते हैं तथा उनके नाम पर रमजान के पूरे महीने रोजे रखते हैं. रमजान का महिना समाप्त होने के बाद इस्लामिक कैलंडर के अनुसार दसवां महिना शुरू हो जाता हैं. जिसे “ शव्वाल ” कहा जाता हैं. इस महीने के पहले दिन को छोड़कर अगले दिन की रात को ईद के चाँद की रात कहा जाता हैं. मुस्लिम समुदाय के लोग इस रात का इन्तजार वर्ष भर करते हैं. ईद की चांदनी रात को ही “ ईद उल फितर ” के नाम से जाना जाता हैं.

ईद उल फितर मुस्लिम समुदाय के लोगों का पवित्र तथा धार्मिक त्यौहार होता हैं. इस दिन मुस्लिम समुदाय के लोग रमजान के समाप्त होने की ख़ुशी मानते हैं और रोजे समाप्त होने के बाद पहली बार खाना खाते हैं. इस दिन मुस्लिम लोग लगातार एक महीने तक रोजे रखने की शक्ति प्रदान करने के लिए अल्लाह को शुक्रिया अदा भी करते हैं. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT नवजात शिशु को अज़ान कैसे दें ...
Happy Id Eid Ul Fitar
Happy Id Eid Ul Fitar


रोजे क्यों रखे जाते हैं (Why We Celebrate Roja)
रोजे मुस्लिम लोगों के जीवन में एक फर्ज की भांति हैं. जिसे हर मुस्लिम को निभाना पड़ता हैं. रोजे लोगों को भूख – प्यास के महत्व को समझने के लिए, भौतिक वासनाओं से दूरी बनाएं रखने के लिए, लालच को जीवन से दूर करने के लिए तथा अपनी इन्द्रियों पर नियंत्रण बनाए रखने के लिए रखे जाते हैं. ऐसा माना जाता हैं कि रोजे रखने के बाद मुस्लिम समुदाय के लोग अपने मन तथा तन से पवित्र हो जाते हैं तथा इन दिनों में रोजे रखने वाले व्यक्ति का अल्लाह से आध्यात्मिक तादात्म्य हो जाता हैं. मुस्लिम समुदाय के पवित्र ग्रंथ कुरान के अनुसार पैगम्बर मोहम्मद ने कहा था कि यदि रोजे पूरे मन तथा नियमों का पालन करके किये जाने पर अल्लाह अपने बन्दे को इनाम तथा बख्शीश देते हैं. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT जमात - उल – विदा ...
 ईद उल फितर की मुबारकबाद
 ईद उल फितर की मुबारकबाद


ईद उल फितर का त्यौहार कैसे मनाया जाता हैं (How to Celebrate Id Ul Fitar Festival)
ईद का त्यौहार मुस्लिम समुदाय के लोगों के द्वारा बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता हैं. इस दिन घर के सभी सदस्य नए कपडे पहनकर ईदगाह जाते हैं और वहाँ सामूहिक रूप से नमाज पढ़ते हैं. नमाज पढने के बाद अल्लाह को शुक्रिया अदा करते हैं तथा ईद की बधाईयाँ देते हैं.
नमाज पढने के बाद सभी मुस्लिम लोग एक – दुसरे से गले मिलते हैं और ईद की मुबारकबाद देते हैं. इसलिए ईद के त्यौहार को भाईचारे का भी प्रतीक माना जाता हैं.

एक – दुसरे को मुबारकबाद देने के बाद सभी लोग जरुरतमंद व्यक्तियों को जकात बांटते हैं. इसे फितर या फितरा कहा जाता हैं. कुरान के अनुसार यह प्रत्येक मुस्लिम का फर्ज होता हैं. यह जकात इसलिए भी दी जाती हैं कि जो व्यक्ति गरीब हैं और ईद की ख़ुशी को मनाने में असक्षम हैं. वो भी इस ख़ुशी को मना सके और अल्लाह का शुक्रिया अदा कर सकें. 
 Id Eid Ul Fitar
 Id Eid Ul Fitar


इस दिन मुस्लिम समुदाय के लोगों के घरों में तथा बाजारों में सेवई तथा मीठे पकवान बनाएं जाते हैं तथा इन्हें अपने रिश्तेदारों में तथा मित्रों में बांटा जाता हैं. इस दिन घर के छोटे बच्चों को ईदी के रूप में तोहफे या कुछ पैसे दिए जाते हैं. ईद की रात को सभी लोग चाँद के निकलने की ख़ुशी मनाते तथा नाच – गाना कर अपनी प्रसन्नता जाहिर करते हैं.

ईद उल फितर और ईद उल जुहा या किसी भी त्यौहार और पर्व के बारे में अधिक जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते है.
ईद उल फितर
ईद उल फितर 


Happy Id Eid Ul Fitar, ईद उल फितर की मुबारकबाद, Eid, ईद, Rojen Kyon Rakhte Hain, Id Ul Fitar ka Tyouhar Kaise Manaya Jata Hai, रोजे, जकात, रमजान का महिना, Id Ul Fitar, ईद मुबारक, Eid Ul Fitar Wallpapers Sms Images Wishes.


Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT