इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Fode Funsi ke liye Aayurvedic Upachar | फोड़े फुंसियों के लिए आयुर्वेदिक उपचार | Aayurvedic Remedies for Boils Pimples and Acne

फोड़े फुंसी के लिए घरेलू उपचार (Home Remedy For Boil)
1.    अरंडी के बीज (Castor Seeds) - यदि किसी व्यक्ति को फुंसियाँ हो गई हैं. तो इन्हें ठीक करने के लिए कुछ अरंडी के बीज लें और उनकी गिरी को पीस लें. अब इसकी पुल्टिस बना लें और इसे फोड़े या फुंसी पर बांध लें. फोड़ा या फुंसी जल्दी ही ठीक हो जायेंगें.

2.    आम की गुठली (Mango’s Seed) फोड़े और फुंसी होने पर आम के फल की गुठली लें और अनार और नीम के पेड़ की कुछ पत्तियां लें और उन्हें पीस लें. तीनों को अच्छी तरह से पिसने के बाद इसे फोड़े और फुंसी पर लगा लें. आपको लाभ काफी राहत मिलेगी.

3.    कालाजीरा (Black Cumin) फोड़े और फुंसियों से छुटकारा पाने के लिए थोडा कालाजीरा लें और उसके साथ थोडा सा मक्खन लें. अब इन दोनों को एक साथ खा लें. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT कंठमाला की आयुर्वेदिक चिकित्सा ...
Fode Funsi ke liye Aayurvedic Upachar
Fode Funsi ke liye Aayurvedic Upachar
4.    त्रिफला का चुर्ण (Triphala Powder) -  फोड़े और फुन्सी को ठीक करने के लिए आप 1 से 3 ग्राम त्रिफला का चुर्ण खा भी सकते हैं और इस चुर्ण को पानी में घोलकर फोड़े और फुंसी को धो भी सकते हैं. दोनों ही प्रकार से त्रिफला के चुर्ण का प्रयोग करने से फोड़े और फुंसी जल्दी ठीक हो जाते हैं.

5.    सुहागा  (Borax) - यदि आपकी फोड़ा या फुंसी पक गई हैं और उसमें से निरंतर खून बह रहा हैं. तो अधिक रक्त बहने से रोकने के लिए सुहागा लें और उसे बारीक पीस लें. इसके बाद इसका लेप फोड़े या फुंसी पर करें. इसे लगाने के साथ ही खून बहना बंद हो जाएगा तथा घाव भी जल्द ही भर जाएगा.

फोड़े से पस या मवाद बहने के लिए उपचार (Treatment For Flowing Pus From Boil)
1.    अरंडी का तेल (Castor Oil) फोड़ा या फुंसी जब पक जाए और उसमें से पस या मवाद बहने लगे. इसके साथ ही पीड़ा भी हो तो थोडा अरंडी का तेल लें और आम के पत्तों की राख लें. अब इन दोनों को एक साथ मिलाकर अपनी फुंसी पर लगा लें. जल्द ही फोड़ा ठीक हो जाएगा. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT हर प्रकार की गांठ का ईलाज ...
फोड़े फुंसियों के लिए आयुर्वेदिक उपचार
फोड़े फुंसियों के लिए आयुर्वेदिक उपचार
2.    थूहर के पत्ते (Euphorbia Leaves) फुंसियों को ठीक करने के लिए थूहर का पत्ता लें और उस पर अरंडी का तेल लगा लें. इसके बाद इस पत्ते को हल्का सेंक लें. अब इस पत्ते को उल्टा कर लें और इसे फोड़े पर बांध दें. इस पत्ते को बांधने से फोड़े से सारा मवाद बाहर निकल जाएगा और जल्द ही फोड़ा या फुंसी ठीक हो जायेगी.

3.    पीठ पर फोड़ा (Boil On Back) यदि किसी व्यक्ति की पीठ पर फोड़ा हो जाये. तो इसे ठीक करने के लिए वह गेहूं के आटे का प्रयोग कर सकता हैं. इसके लिए थोडा सा आटा लें और उसमें थोडा नमक और पानी डाल लें. अब इस आटे की पुल्टिस बना लें और इसे पीठ के फोड़े पर लगा लें. 4 या 5 दिन लगातार लगाने से फोड़ा ठीक हो जाएगा.

कंठमाला या गण्डमाला की गाँठ (Goiter Knots)
जब गले में दूषित वात, पित्त और मेद गले की पीछे की नसों में एक साथ इकट्ठे हो जाते हैं और धीरे – धीरे ये फैलने लग जाते हैं. जिसके कारण गले में छोटी छोटी गांठे उत्पन्न हो जाती हैं. उन्हें “गण्डमाला या कंठमाला” कहते हैं. गण्डमाला के कारण निकली हुई ये गांठे गर्दन में निकलना शुरू होती हैं और धीरे – धीरे कंधे तथा जांघों में हो जाती हैं. ये गांठे देखने में बहुत ही छोटी होती हैं और धीरे – धीरे ये पक जाती हैं. अगर आपके भी गले में कंठमाला का रोग हो गया हैं तो इसे ठीक करने के लिए आप नीचे दिया गया उपाय आजमा सकते हैं.
Aayurvedic Remedies for Boils Pimples and Acne
Aayurvedic Remedies for Boils Pimples and Acne
उपाय (Remedy)

क्रौंच के बीज (Heron Seeds) कंठमाला की गांठों को ठीक करने के लिए क्रौंच के बीज लें और उन्हें घीस लें. इसके बाद इसका लेप गांठों पर करें. जल्द गांठों से राहत पाने के लिए आप इस लेप को लगाने के साथ अरंडी के पेड़ की पत्तियों के लगभग 80 ग्राम रस का भी सेवन कर सकते हैं.

कंठ माला की गांठों से जल्द मुक्ति पाने के लिए कफ बढाने वाले पदार्थों का सेवन बिल्कुल सेवन न करें. 
कांख की गांठ (Armpit Lumps) – कांख के नीचे या आस – पास अगर गांठ निकल जाएँ. तो इसे ठीक करने के लिए कुचला लें और उसे पानी के साथ पीस लें. पिसने के बाद इसे थोडा गर्म कर लें और इसका लेप फोड़े या फुंसी पर लगायें.
Kankh ki Funsi ko Thik Karne ke liye Ghareloo Nuskhen
Kankh ki Funsi ko Thik Karne ke liye Ghareloo Nuskhen
इसके अलावा आप कांख के फोड़े या फुंसी को ठीक करने के लिए अरंडी का तेल लें, गुड़ लें, गुग्गल तथा कुछ राई के दाने लें और इन्हें एक साथ पीस लें. पिसने के बाद इस मिश्रण में थोडा सा पानी मिला लें और इसे थोडा गर्म कर लें. अब इस मिश्रण को  फोड़े पर लगा लें. फोड़ा जल्द ही बिल्कुल ठीक हो जाएगा.

फोड़ों फुंसियों को या अन्य बिमारियों को ठीक करने के अधिक देशी घरेलू उपयोगी उपचारों के बारे में जानने के लिए आप नीचे कमेंट कारके जानकारी हासिल कर सकती हैं.
Fode Funsi se Mavad Pas Bahne Par Chikitsa
Fode Funsi se Mavad Pas Bahne Par Chikitsa

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

3 comments:

  1. सर जी
    मेरी पत्नी सेक्स के दौरान स्खलित नहीं होती है सेक्स चाहे जितना करो । सभी उपाय किये परन्तु कोई फायदा नहीं ।
    12 वर्षों के वैवाहिक जीवन में एक दो बार ही स्खलित हुई है । गुप्तांग में चिकनाई बिलकुल नहीं है।
    सर! कोई उपाय हो तो बताएं ।

    ReplyDelete
  2. Meri beti ko 20 din se lagatar phode Sir par ho rahe hai jaha hota hai vaha ke bal mit ja rahe hai

    ReplyDelete

ALL TIME HOT