इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Tridosh Nashak Amrud | त्रिदोष नाशक अमरुद | Guava Cures Every Diseases


अमरुद करें रोगों का नाश ( Guava Destroy many Diseases )
अमरुद सभी फलों में एकमात्र ऐसा फल है जिसे आप सभी रोगों में बेझिझक खा सकते हो. ये मीठा, रसीला, पौषक तत्वों से भरा एक स्वादिष्ट फल माना जाता है. अफ्रिका में तो इसे सेब की उपाधि मिली हुई है. विटामिन सी के लिए अधिकतर लोग निम्बू या फिर संतरे को अधिक देखते है किन्तु आपको बता दें कि अमरुद में इन दोनों से 6 गुना अधिक विटामिन सी पाया जाता है. इसके अलावा ये त्रिदोष अर्थात वात, पित्त और कफ को जड़ से खत्म कर देता है और इसीलिए इसे त्रिदोष नाशक भी कहा जाता है. किन्तु अन्य रोगों में भी अमरुद का इस्तेमाल किया जा सकता है. आज हम अपनी इस पोस्ट में अमरुद के ऐसे ही अन्य फायदों के बारे में आपको बताएँगे. CLICK HERE TO KNOW अमरुद फल के गुण फायदे और उपयोगिता ...
Tridosh Nashak Amrud
Tridosh Nashak Amrud
*                      मस्तिष्क को ताकत ( Gives Power to Brain ) : अमरुद एक ऐसा फल है जो तुरंत मस्तिष्क को शक्ति प्रदान करता है. ये शरीर में ऊर्जा और स्फूर्ति का संचार करता है. हाथों और पैरों की जलन को समाप्त कर ये दाह नाशक कहलाता है. अगर शारीर में कमजोरी है, कोई व्यक्ति तनाव से ग्रस्त है या किसी के शरीर में पानी की कमी है तो उसे भी अमरुद का सेवन करना चाहियें. ये मूर्छा में पड़े व्यक्ति को वापस होश में लाने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है. 

*                      खांसी दूर करे ( Removes Cough ) : अगर कोई व्यक्ति लम्बे समय से खांसी से परेशान है तो उसे कम पके हुए अमरुद के टुकड़ों पर नमक लगाकर उसे अंग में भूनना चाहियें और फिर उसका चबा चबाकर सेवन करना चाहियें. इस उपाय से व्यक्ति की पुरानी से पुरानी खांसी भी कुछ दिनों में ही ठीक हो जाती है. 

*                      लीवर की रक्षा ( Protects Liver ) : अगर लीवर में कमजोरी महसूस हो रही हो या फिर आपको भूख की इच्छा कम होती हो, तो उस स्तिथि में भी आपको उपरलिखित तरीके से अमरुद का सेवन करना चाहियें. साथ ही अगर आप खाना खाने से करीब 30 मिनट पहले अमरुद का सेवन करते हो तो आँतों और लीवर दोनों को लाभ मिलता है. वहीँ अगर आप खाना खाने के कुछ देर बाद अमरुद का सेवन करते हो तो विरेचन को फायदा पहुंचता है. CLICK HERE TO KNOW विभिन्न रोगों में अमरुद का योगदान ...
त्रिदोष नाशक अमरुद
त्रिदोष नाशक अमरुद
*                      मसूड़ों का दर्द भगायें ( Remove Gums Pain ) : मसूड़ों में पीड़ा होने पर आप अमरुद के पत्तों को प्रयोग में ला सकते हो. इसके लिए बस आपको अमरुद के पत्तों को कूटकर उन्हें पानी में उबालना है. ध्यान रहे कि जब पानी उबलने लग जाएँ तो आप उसमें थोडा नमक और लौंग पाउडर भी अवश्य मिला लें. आप पानी को कुछ देर ऐसे ही उबलने दें और फिर पानी को गुनगुना होने के छोड़ दें. दांतों के दर्द से मुक्ति पाने के लिए आपको इस पानी से गरारे व कुल्ला करना है. ये ना सिर्फ दर्द को भगायेगा बल्कि इससे मुहं की दुर्गन और छाले भी तुरंत ठीक हो जाते है. इस तरह ये मुहं की सम्पूर्ण देखभाल करने में सहायक होता है.
मुंह के छालों को दूर करने के लिये आप चाहे तो अमरुद की कोमल पत्तियों को भी चबा सकते हो या उन्हें निगल सकते हो. 

*                  कफ से मुक्ति ( Remove Cough ) : फेफड़ों में मलगम जमा हो जाने पर आप अमरुद की पत्तियों से काढा तैयार करें और उसका सेवन करें. ये सारे मलगम को काट देता है और राहत पहुंचाता है. आप इस काढ़े का इस्तेमाल बुखार होने पर या खांसी हो जाने पर भी कर सकते हो. 
Guava Cures Every Diseases

Guava Cures Every Diseases
*                  अपच ( Improve Digestion ) : जब अपच सताती है तो अनेक तरह के पेट विकार भी साथ में होने की संभावना बनी रहती है. इस स्तिथि में आप इसकी अमरुद की छल, पत्तियों और सौंठ से एक काढा तैयार करें और रोजाना सुबह व शाम इसका सेवन करें. आपको तुरंत आराम मिलेगा. 

*                  चाय ( Healthy Guava Tea ) : अगर आप अमरुद के ताजा सूखे पत्तों व तुलसी के पत्तों की चाय बनाकर रोजाना सुबह पीते हो तो आपको श्वास संबंधी व हृदय संबंधी रोगों से निजात मिलती है. साथ ही ये अतिसार या संग्रहणी में भी लाभदायी माना जाता है. 

*                  ब्रहादांत्र शोथ ( Colitis ) : कई बार बच्चों को ये रोग सताने लगता है. इस अवस्था में आप अमरूद के पेड़ की कुछ जड़ लें और उसका 2 ग्राम छिलका उतार लें. अब आप इस छिलके से  काढा तैयार करें और बच्चे को दें.
अमरुद फल ही नहीं औषधि भी है
अमरुद फल ही नहीं औषधि भी है
*                  भांग का नशा उतारे ( Remove Hemp Drug ) : अधिक भांग पीने की वजह से व्यक्ति अपनी हालत को बहुत खराब बना लेता है, अगर उसका नशा दिमाग में चढ़ जाएँ तो वो उसकी मानसिक स्तिथि को खराब कर देता है किन्तु भांग के नशे को तुरंत उतारने के लिए आप व्यक्ति को अमरुद के पत्तों का रस पिला दें. तुरंत ही उसे लाभ मिलेगा. 

इन रोगों के अलावा भी अमरुद अन्य रोगों में भी लाभदायी होता है जैसेकि ये पेट के कीड़ों को दूर करता है, पुराना अतिसार ठीक करता है, हृदय को शक्ति प्रदान करता है, घबराहट दूर करता है, तनाव हटाकर सिर दर्द से बचाता है इत्यादि. 

अमरुद के ऐसे ही अन्य औषधीय लाभों के बारे में अधिक जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते है. 
Jaanen Amrud ke Aushdiya Gun
Jaanen Amrud ke Aushdiya Gun

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT