इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Smasya Suljhaayen Sujh Bujh se | समस्या सुलझायें सूझ भुझ से | Solve Problems without Fighting


झगडा नहीं समस्या सुलझायें समझदारी से ( Don’t Fight Solve Problems with Intelligence )
आपने एक बात तो सुनी ही होगी कि जहाँ प्यार होता है वहीँ टकराव भी होता है. शादी भी एक ऐसा ही बंधन है जहाँ एक दम्पति एक दुसरे के बिना रह भी नहीं सकते और एक दुसरे से झगडे बिना उनका दिन पूरा नहीं होता. हर दम्पति के लिए उसका बिस्तर बहुत ख़ास होता है क्योकि इसी बिस्तर पर वे अपने प्यार के हसीन पलों को जीते है और जब एक दुसरे से झगड़ते है तो वो झगडा भी बिस्तर पर आकर ही खत्म होता है. CLICK HERE TO KNOW पति वशीकरण उपाय टोने टोटके ...
Smasya Suljhaayen Sujh Bujh se
Smasya Suljhaayen Sujh Bujh se
झगड़ें की वजह और उनका समाधान ( Causes of Argument and Their Settlement ) :
·     समय का अभाव ( Lack of Time ) : अब बात करते है झगडे की मुख्य वजह की. पति पत्नी के बीच में अधिकतर मन मुटाव तभी आता है जब वे एक दुसरे के साथ समय नहीं बिता पाते तो समय का अभाव उनके मन मुटाव की अहम वजह हुई. किन्तु वे एक दुसरे के साथ समय क्यों नही बिता पाते? इसका कारण है ये भागदौड़ भरी जिंदगी, जहाँ व्यक्ति पर इतनी सारी जिम्मेदारी होती है कि उसे खुद नही पता होता कि उसने सुबह से शाम तक क्या किया है. बड़े बड़े शहरों में तो लोग अपने बच्चों, पत्नी व परिवारजनों से बात तक नहीं कर पाते. 

·     आजीविका ( Livelihood ) : समय के साथ इच्छायें, आवश्यकताएं, कार्य, महंगाई इत्यादि इतनी बढ़ चुकी है कि एक पति की आय से घर खर्च का निकलना बहुत अधिक मुश्किल होता है. इसलिए वो अधिक से अधिक पैसे कमाने के लिए व्यस्त रहता है. वहीँ घर की स्त्री भी किसी ना किसी रूप से अपने पति की सहायता करने की कोशिश करती है और वो भी बाहर काम शुरू कर देती है. इस तरह दोनों एक दुसरे से दूर रहते है रिश्तों का बिखरना शुरू हो जाता है.  CLICK HERE TO KNOW पति पत्नी प्रेमी की पसंद कैसे जानें ...
समस्या सुलझायें सूझ भुझ से
समस्या सुलझायें सूझ भुझ से
·     अधिक उम्मीद ( Don’t Expect More ) : हर व्यक्ति में कमियाँ होती है और सभी को अपनी सीमाओं का पता होता है. अगर आप अपने साथी से कुछ अधिक प्यार की, पैसे की या कोई अन्य उम्मीद रख रहे है तो ये भी आपके बीच में झगडे की वजह हो सकता है. हर व्यक्ति के ऊपर कुछ और भी जिम्मेदारियाँ होती है और उसे उन्हें भी पूरा करना होता है, तो अगर आप एक पत्नी है और ये चाहती है कि आपका पति आपके पास रहे, अपना सारा समय आपको दे तो ये गलत होगा. आप इस तरह की उम्मीदे ना करें और समझदारी से काम लें. आप उसका सहारा बने नाकि उसकी कमजोरी. 

·     कोम्प्रोमाइज करें ( Do Compromise ) : कोम्प्रोमाइज का मतलब ये नहीं कि आप हर बार अपनी गलती को मान लें बल्कि आप सही और गलत पर शान्ति से विचार करें. अगर आपको लगता है कि उस वक़्त आपका चुप रहना उचित है तो आप चुप रहे और हफ्ते का एक दिन ऐसा निर्धारित कर लें जब आप दोनों ( पति और पत्नी ) एक दुसरे के पास बैठे और हफ्ते में हुई हर बात पर चर्चा करें. अगर आपको अपनी गलती महसूस होती है तो आप क्षमा मांगे और अगर आपको लगता है कि आपको खुद में बदलाव की जरूरत है तो आप वो भी करने के लिए तैयार रहें. इसी तरह एक संबंध बनता है और सदा के लिए टिका रहता है. 

·     तवज्जो ( Attention ) : एक दम्पति अपने साथी पर अपना पूरा अधिकार समझता है और जब उसे ऐसा लगता है कि उसका साथी उसकी उपेक्षा कर रहा है तो ये उससे बर्दाश्त नहीं होता. इस तरह बात बिगडती है और वो झगडे का रूप ले लेती है. इसलिए सप्ताह में एक दिन ऐसा भी रखें कि आप अपने पुरे परिवार के साथ कही घुमने जाएँ, उन्हें फिल्म दिखाएँ या पार्क ले जाएँ. इस तरह आपके रिश्ते के बीच में घनिष्टता आती है. 
Solve Problems without Fighting

Solve Problems without Fighting
·     घमंड ( Ego ) : ये अक्सर पुरुषों में होती है, उन्हें लगता है कि स्त्रियाँ खासतौर से उनकी पत्नी उनकी जागीर है और उसकी पत्नी को उसका हर हुक्म माना चाहियें. इस चक्कर में वो घमंड में आकर अपनी पत्नी से बात करता है, अपनी ईगो को तो हमेशा ऊपर रखता है और पत्नी के आत्म सम्मान को नीचा दिखाने की कोशिश करता है. तो ऐसा बिलकुल ना करें. आपकी पत्नी आपकी जीवन संगिनी है अगर आप उन्हें इज्जत दोगे तभी आपकी पूरी जिंदगी सुखपूर्वक व्यतीत हो पाएगी. बिना अपनी पत्नी के आप कुछ भी नहीं है. 

·     विचारों में मतभेद ( Differences in Opinions ) : कभी कभी ऐसी बाते भी हो जाती है जिसमें आप दोनों के विचार नहीं मिलते और आप अपने साथी की बात को मानने से अस्वीकार कर देते हो. यही छोटी सी बात पहले बहस बनती है और फिर झगडा. किन्तु ये तो स्वभाविक होता है कि हर व्यक्ति की राय अलग होती है तो यहाँ आपको थोड़ी समझदारी दिखानी चाहियें और उस बात को अपने नजरिये के साथ साथ अपने साथी के नजरिये से भी देखना चाहियें. इसका लाभ ये होता है कि आपको उस बात के दोनों अच्छे व बुरे पहलु पता चल जाते है और आप सही निर्णय तक पहुचते हो. 
समझदारी से निकालें झगडे का हल
समझदारी से निकालें झगडे का हल
·     चुगली ( Backbite ) : महिलाओं के पेट में बात नहीं पचती इसलिए वे अपनी हर बात को किसी ना किसी के साथ बांटती जरुर है. यहाँ तक वे अपने पति के साथ हुए झगडे की बात को भी अपनी पड़ोस की महिला या मित्र को बता देती है. इस तरह पड़ोस के लोग उसके पति को चिडाने लगते है और पति को गुस्सा आता है. आप दोनों सभी की हंसी का पात्र बनते है तो अपने घर की बात को घर में ही रहने दें, उन्हें लोगों के बीच में बिलकुल भी ना उछालें.

·     एक अचूक उपाय ( One Way to Increase Love ) : रसोईघर का आटा पिसवाने के लिए आप सिर्फ शनिवार और सोमवार के दिन का ही चुनाव करें. साथ ही गेहूँओं में उनकी मात्रा के अनुपात को ध्यान में रखते हुए थोड़े काले चने भी मिला लें. इस तरह का पिसा हुआ आता खाने से पति पत्नी के बीच होने वाला मन मुटाव तुरंत खत्म हो जाता है. 

तो आप भी अपने संबंधो को मजबूत बनायें और हर बात को समझदारी के साथ करें. साथ ही ऐसी ही अन्य समस्याओं के समाधान को पाने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते है.
Jhagdon ki Vajah or Unka Samaadhan
Jhagdon ki Vajah or Unka Samaadhan

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT