इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

Mirgi ka Asardar Ghrelu Upchar | मिर्गी का असरदार घरेलू उपचार | Useful Home Remedies for Epilepsy

मिर्गी का दौरा पड़ने पर इलाज ( Treatment for Epilepsy Attack )
मिर्गी के ऐसा रोग है जिसमें पीड़ित अचानक अपनी सूद खो देता है, उसको चक्कर आने लगते है, कुछ लोगों के मुहँ में झाग आने लगते है, जबड़ा मजबूती से चिपक जाता है, शरीर कांपने लगता है, कुछ का शरीर ऐंठ जाता है, कई लोगों का मल मूत्र तक निकल जाता है और वो मूर्छित होकर जमीन पर गिर पड़ता है. वैसे आपको बता दें कि मिर्गी तंत्रिका तन्त्र ( Nervous System ) का रोग है और इसे इंग्लिश में एपिलेप्सी ( Epilepsy ) कहा जाता है.

ऐसा नहीं है कि इस समस्या से पीड़ित लोग इसका उपचार नहीं कराते किन्तु वे जो एंटीबायोटिक्स या एलोपैथिक दवा लेते है, उनसे सिर्फ रोग दबता है रोग का नाश नहीं होता और यही कारण है कि दवा लेने तक तो रोगी ठीक रहता है किन्तु जैसे ही वो दवा लेना बंद करता है उसको दौरे पड़ने फिर से आरम्भ हो जाते है. आजकल तो ये समस्या 10 से 20 वर्ष के बच्चों तक में देखि जा सकती है, दौरा का प्रभाव इतना अधिक होता है कि पीड़ित 10 मिनट से कुछ घंटों तक बेहोशी की हालत में पड़ा रहता है. CLICK HERE TO KNOW मिर्गी के रोग के कारण लक्षण और उपचार ... 
Mirgi ka Asardar Ghrelu Upchar
Mirgi ka Asardar Ghrelu Upchar
मिर्गी का दौरा पड़ने के कारण ( Causes of Epilepsy Attack ) :

मिर्गी का दौरा पड़ने का मुख्य कारण अधिक मानसिक दबाव या शारीरिक कार्य करना होता है, किन्तु ये सिर पर चोट लगने, ज्यादा शराब का सेवन करने, तेज बुखार के होने, ब्रेन ट्यूमर होने, लकवे, आनुवांशिक, ज्ञान तंत्रों में ग्लूकोस के कम होने, तंत्रिका तंत्र के कमजोर होने, पाचन तंत्र में खराबी होने, आंव आने, कर्मी रोग, मासिक धर्म में गड़बड़ी होने और मस्तिष्क में ऑक्सीजन की कमी होने इत्यादि कारणों की वजह से होता है.

मिर्गी का प्राथमिक उपचार ( First Aid for Epilepsy Attack ) :

प्राकृतिक उपचार की दृष्टि से देखा जाए तो मिर्गी का दौरा तब पड़ता है जब शरीर में खान पान की वजह से विषैला पदार्थ इक्कठा हो जाता है. अगर आपके सामने किसी व्यक्ति को दौरा पड़ जाए तो सबसे पहले उसके आसपास की हवा को ना रुकने दें, फिर उसे दाई या फिर बायीं करवट में लिटा दें, इसके बाद उसके मुहँ पर पानी के छीटें मारते रहें, किसी तरह उसका मुहँ खोलें और उसके दांतों के नीचे कोई कपड़ा या कुछ रख दें, इससे रोगी की जीभ काटने से बचती है. ध्यान रहें कि ना तो उसे कुछ खिलाने का प्रयास करें और ना ही कुछ पिलाने का. CLICK HERE TO KNOW सहजन के स्वास्थ्य लाभ ... 
मिर्गी का असरदार घरेलू उपचार
मिर्गी का असरदार घरेलू उपचार
मिर्गी के रोगी के लिए उपचार ( Home Treatment for Epilepsy Attack ) :
·     तुलसी और सीताफल ( Basil and Pumpkin ) : मिर्गी का दौरा आने पर रोगी की नाक में तुलसी के रस और सेंधा नमक के मिश्रण को टपकायें. अगर आसपास तुलसी का पौधा ना हो तो उसकी नाक में सीताफल के पत्तों का रस डालें.

·     करौंदे ( Gooseberry ) : मिर्गी से पीड़ित रोगियों को समय समय पर करौंदे के पत्तों से बनी चटनी का सेवन करना चाहियें. अगर वे रोग इसे खा सके तो ये उनके लिए अधिक बेहतर रहेगा.

·     सफ़ेद प्याज ( White Onion ) : साथ ही रोगियों को रोजाना 1 चम्मच सफ़ेद प्याज का रस पानी के साथ पीना चाहियें, इससे उनको दौरे आने बंद हो जाते है.

·     शहतूत ( Mulberry ) : रोगी को होश में आने के बाद शहतूत और सेब का रस निकालकर उसमें थोड़ी हिंग मिलाकर खिलानी चाहियें ताकि दौरे का प्रभाव शीघ्र खत्म हो सके और वो जल्द ही सामान्य हो जाए.

·     सुंघायें ( Smell These ) : रोगी को पानी में पीसी हुई राई, कपूर, तुलसी रस, लहसुन रस, आक की जड़ की छाल का रस, नीम्बू रस व हिंग में से किसी भी चीज को सुंघाया जा सकता है.
Useful Home Remedies for Epilepsy
Useful Home Remedies for Epilepsy
·     खाएं ( Eat These ) : रोगी को मुंग की दाल, भुनी हुई अरहर की दाल, सुपाच्य व सिमित भोजन, चोकर के साथ गेहूँ के आटे की रोटी खाने से लाभ मिलता है.

·     फल ( Fruits ) : जहाँ तक फलों की बात है तो उन्हें आम, अनार, संतरा, सेब, नाशपाती, आडू, अनानास और अंजीर का सेवन करना चाहियें.

·     नाश्ता ( Breakfast ) : इन्हें अपने प्रातःकाल के नाश्ते में दूध व दूध से बने पदार्थों के साथ मुंग और अंकुरित मोंठ खानी चाहियें.

·     मेवे ( Nuts ) : वहीं मेवों में ये काजू, बादाम और अखरोट का सेवन कर सकते है.

·     चटनी ( Sauce ) : अगर ये चटनी का सेवन करना चाहते है तो गाजर व पुदीने की चटनी खाएं.

·     सलाद ( Salad ) : जबकि सलाद में इन्हें टमाटर, नीम्बू, प्याज, खीरे, मुली, गाजर को शामिल करना चाहियें.
मिर्गी की प्राथमिक चिकित्सा
मिर्गी की प्राथमिक चिकित्सा
·     व्यायाम ( Do Exercise Daily ) : नित्य प्रतिदिन घुमने और व्यायाम करने से आपके मन को शान्ति मिलेगी और आपका शरीर भी स्वस्थ व रोगमुक्त रहेगा. आसनों में शीर्षासन और सर्वांगासन आपके लिए सर्वोताम है किन्तु ध्यान रहे कि आसन खाली पेट करने है. हल्के व्यायाम के बाद आपको बाथटब में नहाना चाहियें. नहाने के बाद ढीले और आरामदेह कपड़ों पहने ताकि शरीर में हवा आती जाती रहे और आपको घुटन महसूस ना हो.

इन चीजों से रहें दूर ( Beware of These ) :
·     खान पान ( Food ) : मिर्गी के रोगियों को मसालेदार, मिर्च वाले, तले हुए और गरिष्ट पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहियें. उड़द और मसूर की दाल, राजमा, गोभी, बैंगन, चावल, मछली, कचालू और मटर का कम से कम सेवन करने की कोशिश करें. चाय, कॉफ़ी, गुटखा, शराब, तम्बाखू, पेपरमेंट और मांस को भी अलविदा कह दें. कहने का तात्पर्य है कि उष्ण पदार्थों से आपको दूर ही रहना है. 

·     दिनचर्या ( Daily Routine ) : कहीं भी अकेले ना जाएँ, सीढ़ी भी ना चढ़ें और चढ़ें तो किसी को साथ लेकर चढ़ें, आग और पानी से दूर रहें, साइकिल या गाडी ना चलायें, गुस्सा या झगडा ना करें, अधिक ऊँचे स्थान पर ना जाएँ, अगर मल या मूत्र त्याग के लिए जाना है तो तुरंत चले जाएँ इन्हें रोकने की कोशिश ना करें, करवट लेकर सोयें, सोते वक़्त ध्यान रखें कि आपका सिर उत्तर दिशा में हो.

मिर्गी के दौरे के लिए अन्य घरेलू आयुर्वेदिक उपचार या सावधानियों को जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो.
Mirgi ke Rogi ke Liye Karen Upay
Mirgi ke Rogi ke Liye Karen Upay

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

15 comments:

  1. Mirgi me sawdhaniya koun koun si kare our iska sahi ghareloo samadhan kya hai iska sahi ilaj kya hai

    ReplyDelete
  2. Hi
    Mera bhai 22 saal ka hai...
    Wo bachpan se hi dimaagi kamjor hai.
    Use bachpan me mirgi aati thi fir wo deai lene se theek ho gya or abhi pichle 1 saal se usko fir se doura padne lga hai... pichle 1 saal me 3 baar daura aa chuka hai... mera bhai dimaagi taur par bacche ki trah h...kya upay kru btao please

    ReplyDelete
  3. मेरा भाई 19 साल का है उसे पिछले 5 सालो से मिर्गी के दौरे आते है और 10 12 दिन पर आते रहते है हर तरह के उपाय किये दवाई घरेलू उपाय भी किये पर भाई वो ठीक नही हो रहा है plz कोई उपाय बताये 9807576449 भाई ये मेरा whatsaap नंबर है kumarrishi514@gmail.com

    ReplyDelete
  4. Hi mera Bhai ko doura pad tha h our jab doura pad tha h to moh se khon Nekal tha please koye upay btao please

    ReplyDelete
  5. Respected sir
    Mera Naam Ravi hai. Mujhe ye bimari 8 harsh ki ayu se hai. Me uska ilaj bhi kara Raha hu Suru me 3 saal (8 se 11)age tak daba khane ke Baad me daba Lena chhor diya.Uske 2 saal Baad mujhe phir semirgi k daura para Mene phir daba Lena start Kiya 6 saal daba khane k Baad me daba band kar diya Abhi daba band kiye 3 month hue hai phir aaj mujhe chamar as Raha tha.mene SOS medicine Liya to chhakar band ho Gaya .Lekin ghar se bahar nikalne me fast lag Raha hai.koi full proof illaj bataye.ya kisi well known doctor k bare m bataye.

    ReplyDelete
  6. मेरा 3साल का बेटा हे उसे अभी तक दो बार डोरे पड़ चुके हे। घर में सबका लाडला बेटा हे। सब बहुत टेंशन में हे।कोई परमानेंट इलाज बताइये जिस से वो पूरी तरह ठीक ओ जाये।और मेरे घरवालो की भी टेंशन खत्म हो जाये। my contect 7357600556

    ReplyDelete
  7. Mera naam sanjeet Bhati hai mujhe 7 saal se doura pad rhe hai dawa khate khate bhi mujhe doura pad jata hai kabhi 1saal me kabhi 10 month me mujhe bhi Koi upay btao ji plz Mera contact no.8130750800

    ReplyDelete
  8. Dear sir mujhe 02/2012se 2014 tak mirgi ka dava chala tha tab se abhi tak thik hun par pair ya hath me jhim-jhimahat mahshush got a hai hath ka angutha kabhi kabhi lagatar khichta hai mujhe Dar lagta hai kripya apna sujhav den

    ReplyDelete
    Replies
    1. manoj ji
      aapne kya dava li , kripya mujhe bhi bataye, mere bere ko 2 sal se ye bimari hai.
      akrajput8373@gmail.com

      Delete
  9. Dear sir kya 10 months k bacche ko bhi yeh fits pr sakte h aj mere 10 months k bacche k sath aesa hua h uski rote time awaaaz aana band hogyi body bilkul tight hogyi but i m not sure

    ReplyDelete
  10. मेरा छोटा भाई है उसे करीब 5 साल से दोरे आ रहे है घर वाले काफी तरह के इलाज करा चुके है पर कुछ फर्क नही पङ रहा है आपसे हाथ जोड़कर विनती है कोई इलाज हो तो बताना यह मेरा वाटसप नम्बर है 9571872530 मेरी आइडी singhstiger50@gmail.com है मेरा नाम सागर है जिला पाली है गांव मे रहेता हु भीमगड बागङ सिमेन्ट पलान्ट के पास plese sar मे आपका सदा आभारी रहुगा ,

    ReplyDelete
  11. Halo sar meri beati ko mirgi h wo 8saal ki h please koi dawai Ka naam batay MD Malik phone 9848717401

    ReplyDelete
  12. Tegrital 200 ye mirgi ki dawa h is dawa ke sath pratidin bicasul capsuls khana padega

    ReplyDelete
  13. Halo sar meri friend ko mirgi h wo 22saal ki h please koi dawai Ka naam batay Ravi Maurya phone 8052750865

    ReplyDelete
  14. Sir ek 55 year ka male h.. Usko daura ata h... 2 saal se pehle toh thoda thoda ata tha lakin ab kuch jyada hi aa raha h... Unka treatment chal raha h... Unke liye koi upay ho toh batage kirpya reply dijye whatsapp 9074767537
    Call 9110048551 mail pchottu20@gmail.com

    ReplyDelete

ALL TIME HOT