इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

Chhoti si Cherry ke Bade Bade Gun | छोटी सी चेरी के बड़े बड़े गुण | Big Benefits of Small Cherry

चेरी ( Cherry )
चेरी दिखने में जितनी छोटी होती है उतने ही अधिक और बड़े बड़े इसमें पौषक तत्व पाए जाते है इसीलिए इसे एक औषधि के रूप में अपनाकर अनेक रोगों का उपचार किया जाता है. इसे ताजा, सुखाकर, जमाकर या फिर इसका रस निकालकर कैसे भी प्रयोग में लाया जा सकता है. चेरी का लाल चटकदार रंग इसे दिखने में प्रभावशाली और शाही बनाता है और यही वजह है कि इसे स्वादिष्ट फलों की तालिका में काफी उंचा स्थान प्राप्त है. अपने छोटे बीजों और रसीले पल्प वाली चेरी को स्वास्थ्यवर्धक गुणों की खान कहा जाता है.

चेरी के प्रकार और पौषक तत्व ( Types of Cherry and Its Nutrients ) :
मुख्यतः चेरी 2 प्रकार की ही होती है

-   मीठी चेरी 
-   तीखी चेरी 
Chhoti si Cherry ke Bade Bade Gun
Chhoti si Cherry ke Bade Bade Gun
इसमें अनेक पौषक तत्व जैसेकि लौह, पोटैशियम, फ़ास्फ़रोस, विटामिन ए, बी, सी और बीता कैरोटिन, कार्बोहायड्रेट इत्यादि खनिज लवण मिलते है. इसीलिए ये सेहत के लिए एक खजाने की तरह होता है. सर्दियों के दिनों में तो इसके लाभ और गुण और भी अधिक बढ़ जाते है. तो आओ अब जानते है कि चेरी को किन किन रोगों के उपचार के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है.

चेरी के स्वास्थ्यवर्धक प्रयोग ( Health Benefits of Cherry ) :
·     रक्तचाप ( Control Blood Pressure ) : क्योकि चेरी पोटैशियम का प्रमुख स्त्रोत है इसीलिए ये शरीर में जमा अतिरिक्त सोडियम को नष्ट कर देता है जिससे शरीर में इन दोनों तत्वों का संतुलन बना रहता है, इसका लाभ ये होता है कि रक्तचाप नियंत्रित रहता है.

·     कैंसर से लड़ने में सक्षम ( Fights with Cancer ) : कैंसर को भयंकर बीमारियों में गिना जाता है क्योकि इसका एक समय तक ही इलाज संभव है उसके बाद ये पीड़ित की हालत पूरी तरह खराब कर देता है. किन्तु चेरी में कुछ ऐसे एंटीओक्सिडेंट पाए जाते है जो कैंसर जैसी भयानक बिमारी से लड़ने के लिए भी तैयार रहते है. चेरी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाता है और इसके लिए इसमें पाए जाने वाले फिनॉनिक एसिड और फ्लेवोनोइड सहायक होते है. ये सब मिलकर कैंसर की कोशिकाओं को बढ़ने नही देते. CLICK HERE TO KNOW कमरख एक देशी और स्वादिष्ट फल ... 
छोटी सी चेरी के बड़े बड़े गुण
छोटी सी चेरी के बड़े बड़े गुण
·     हृदय रोगों में सहायक ( Helpful in Heart Diseases ) : जस्ता, मैगनीज, पोटैशियम, लौह तत्व जैसे खनिज लवण पाए जाते है. साथ ही इनेमिन बीता कैरोटिन और क्युर्सेटिन की भी अच्छी मात्रा होती है ये तत्व खून में मिले सोडियम की मात्रा को कम करते है, ये रक्त चाप को भी नियंत्रित करते है और हृदय रोगों के संकट को भी टालते है. अगर चेरी का रोजाना नियमित रूप से सेवन किया जाए तो ये हृदय को निरोगी बना देता है.

·     गठिया रोग में राहत ( Treat Joint Pain and Arthritis Diseases ) : चेरी में एक अन्य तत्व भी मौजूद होता है जिसे एंथोसियानिन के नाम से जाना जाता है. ये तत्व गठिया रोग से ग्रस्त रोगों को राहत दिलाने में सर्वोत्तम होता है. जब किसी व्यक्ति को गठिया रोग होता है तो उसके शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने लगती है जिससे हड्डियों खासतौर से जोड़ों में सुजन प्रारंभ हो जाती है. किन्तु चेरी में मौजूद एंथोसियानिन यूरिक एसिड को बढ़ने से रोकता है और उन्हें नियंत्रित करता है. गठिया से पीड़ित रोगियों को दिन में करीब 20 तीखी चेरी रोजाना खानी चाहियें.
Big Benefits of Small Cherry
Big Benefits of Small Cherry
·     कब्ज में राहत ( Good in Constipation ) : चेरी का फाइबर तत्व पाचन शक्ति को बढाता है और कब्ज दूर करता है. इसलिए रोजाना 10 चेरी अवश्य खाएं ताकि 1.5 ग्राम फाइबर की मात्रा रोजाना शरीर में मिल सके शरीर को इतनी मात्रा में फाइबर की आवश्यकता होती ही है. इसके अलावा चेरी के पौषक तत्व गुर्दे और जिगर के लिए भी क्लींजर का कार्य भी करते है.

·     त्वचा की देखभाल ( Cares Skin ) : त्वचा की देखभाल के लिए जरूरी है कि रक्त शुद्ध रहे और शरीर को बीता कैरोटिन की भरपूर मात्रा मिल सके ताकि उसकी सूर्य की युवी किरणों से रक्षा हो सके और इन दोनों कार्यों में चेरी पूर्ण रूप से सक्षम होती है. इसलिए चेरी से तैयार पेस्ट को शरीर पर लगाने से त्वचा को पौषण मिलता है और त्वचा की शुष्कता खत्म होती है. माना जाता है कि इसके अम्लीय तत्वों से मृत कोशिकाओं को भी हटाया जा सकता है ताकि उनके स्थान पर नयी कोशिकायें बने और आपको एक नर्म और चमकदार त्वचा प्राप्त हो.

·     याददाश्त बढाये ( Increase Memory ) : चेरी में पाया जाने वाला तत्व एंथोसियानिन मस्तिष्क की क्षमता को बढाता है और याददाश्त को तेज करने में सहायक होता है.
क्यों खाएं चेरी
क्यों खाएं चेरी
·     मानसिक तनाव से राहत ( Gives Relief from Mental Stress ) : मानसिक तनाव होने पर व्यक्ति क नींद आनी बंद हो जाती है, मन अशांत रहने लगता है और व्यक्ति खुद को अकेला महूसस करने लगता है जिससे उसे अनिद्रा रोग हो जाता है. किन्तु लाल चेरी खाने से दिमाग को एक अदभुत ऊर्जा की प्राप्ति होती है जो उन्हें सोचने के लये शक्ति देता है ताकि व्यक्ति को तनाव से बाहर आने का रास्ता मिल सके. साथ ही ये अनिद्रा के रोग को भी दूर रखता है.

·     वजन बढायें ( Increases Weight ) : चेरी में करीब 75 % पानी की मात्रा होती है और वसा बिलकुल ना के बराबर, इसके साथ ही इसमें घुलनशील फाइबर की भी प्रचुर मात्रा होती है. अगर इसका नियमित रूप से सेवन किया जाए तो ये ऊर्जा के स्तर को बढाता है, इससे इस्तेमाल से चयापचय की प्रक्रिया को बल मिलता है जिससे खाना पूरी तरह हजम होता है और शरीर को खाने के सभी पौषक तत्व प्राप्त होते है.

·     हड्डियों को मजबूती ( Strengthen Bones ) : शरीर के ढाँचे को सही ढंग से बने रहने और शरीर को सुचारू रूप से चलाने के लिए हड्डियों को स्वस्थ और मजबूत होना बहुत आवश्यक है. इसमें भी चेरी मददगार सिद्ध होती है क्योकि उसमें विटामिन सी होता है जो हड्डियों को घनत्व प्रदान करती है. इसके अलावा इसमें कैल्शियम भी होता है जिससे दांत और हड्डियाँ दोनों को मजबूती मिलती है.

छोटी सी चेरी के अन्य बड़े बड़े गुण और लाभ जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो. 
Cherry Khaane ya Juice Peene se Laabh
Cherry Khaane ya Juice Peene se Laabh

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT