इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Ghar Par Vidhyut Chumbak Yani Electromagnet Banane ki Vidhi | घर पर विद्युत चुंबक यानि Electromagnet बनाने की विधि

विद्युत चुंबक
विद्युत चुंबक, एक ऐसा शब्द जो दो अलग अलग प्रकृति वाले शब्दों से बना है, पहला विद्युत और दूसरा चुंबक. इसे इंग्लिश में Electromagnet भी कहा जाता है और इसका एक सिद्धांत है कि जब भी लोहे की किसी रोड पर तार लपेटी जाती है और फिर उन तारों पर विद्युत प्रवाह को छोड़ा जाता है तो वो लोहे की रोड एक चुंबक की तरह काम करने लगती है. इस सिद्धांत के जरिये एक लोहे को चुम्बकीय बल दिया जाता है. ( एक अन्य तरीके के अनुसार लोहे को चुंबक पर रगड़कर भी उसे चुम्बकीय बल दिया जा सकता है लेकिन इस तरह वो विद्युत चुंबक नहीं कहलाएगी क्योकि उसमें विद्युत का इस्तेमाल नहीं हुआ. ) आज हम आपके लिए एक ऐसे आसान एक्सपेरिमेंट को लेकर आये है जिसमें हम एक लोहे की कील को विद्युत चुंबक में बदलेंगे और आप इस एक्सपेरिमेंट को अपने घर पर भी आजमा सकते हो. तो चलिए शुरू करते है. CLICK HERE TO KNOW माचिस की डिबिया सिखाएगी घर्षण का सिद्धांत ...
घर पर विद्युत चुंबक यानि Electromagnet बनाने की विधि
घर पर विद्युत चुंबक यानि Electromagnet बनाने की विधि
आवश्यक सामग्री :
-    एक बड़ा वाला टॉर्च सेल
-    1 लोहे की 3 इंची कील
-    तांबे की तार ( जिसपर कपड़ा चढ़ा हुआ हो )
-    स्टेपर पिन और
-    आल पिन

विद्युत चुंबक का सिद्धांत :
विद्युत चुम्बक के सिद्धांत के अनुसार जब किसी लोहे की किल या रोड पर किसी मेटल की तार को लपेटा जाता है और फिर उसमें विद्युत प्रवाहित की जाती है तो वो किल चुंबक की तरह काम करने लगती है और अपने आसपास की चुंबक या लोहे की चीजों को अपनी तरह खींचने लगती है और इसे ही विद्युत चुम्बकत्व कहा जाता है.

विद्युत चुंबक एक्सपेरिमेंट :
-    स्टेप 1 : इस एक्सपेरिमेंट के लिए हमने इसके सिद्धांत के अनुसार ही सबसे पहले 1 लोहे की कील लेनी है जोकि करीब 3 इंच की होनी चाहियें और उसपर किसी मेटल ( तांबे ) की तार को कुंडली बना बना कर चढ़ाना है ध्यान रहे कि तार पर कपड़ा जरुर चढा हुआ हो.

-    स्टेप 2 : इसके बाद आप तार के दोनों सिरों से थोडा थोडा कपड़ा उतार दें ताकि उनके जरिये तारों में करंट दौड़ाया जा सके, आप चाहों तो इन सिरों पर आल पिन भी सेट कर सकते हो.

-    स्टेप 3 : अंत में आपको ताम्बे के तारों के दोनों सिरों को ( जिसपर आपने आल पिन भी लगायी हुई है ) टॉर्च सेल के दोनों छोरों ( + और - ) पर टच कराएं.
Ghar Par Vidhyut Chumbak Yani Electromagnet Banane ki Vidhi
Ghar Par Vidhyut Chumbak Yani Electromagnet Banane ki Vidhi
-    स्टेप 4 : बस इस तरह कील में ताम्बे की तार के जरिये विधुत दौड़ने लगेगी और वो एक चुम्बक की तरह काम करने लगेगी और बन जायेगी इलेक्ट्रो मेग्नेट. अब आपको करना ये है कि आप कुछ स्टेपलर की पिन को ले और उन्हें विद्युत चुंबक के पास लेकर आयें. आप देखोगे कि विद्युत चुंबक वाली कील स्टेपलर पिन को अपनी तरफ खिंच लेगी.

दोस्तों ऐसे बहुत से विद्यार्थी है जो इलेक्ट्रो मेग्नेट के सिद्धांत को समझने में मुश्किलों का सामना करते है लेकिन अगर वे खुद इस एक्सपेरिमेंट को अपने घर में करके देखते है तो यक़ीनन वे कभी भी इलेक्ट्रो मेग्नेटिक सिद्धांत को नहीं भूलेंगे और यही हमारा उद्देश्य भी है कि बच्चे सिर्फ किताबों से ना सीखें बल्कि खुद हर एक्सपेरिमेंट करके देखें. जिससे वे हमेशा उन सभी सिद्धांतों को याद रख सके. इसलिए अगर आपको भी विद्युत चुंबक का सिद्धांत समझ नहीं आ रहा तो आप आज ही इस एक्सपेरिमेंट को अपने घर में जरुर करके देखें. इस एक्सपेरिमेंट में इस्तेमाल हुई हर चीज आपको आसानी से अपने घर में ही मिल जायेगी.  

विद्युत चुंबक, इसके कार्य या उपयोग के बारे में अधिक जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो.



YOU MAY ALSO LIKE



Electromagnet, Vidhyut Chumbak, Vidhyut Chumbak or Uske Prayog, Vidhyut Chumbak ka Siddhant, Kaise Kaam Karti Hai Electromagnet, Vidhyut Chumbak Experiment, Kaise Banayen Vidhyut Chumbak

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT