इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Damaa ke Kaaran or Lakshan | दमा के कारण और लक्षण | Symptoms and Causes of Asthma

दमा ( Asthma )
जब शरीर में कफ या वायु दोष अपना संतुलन खो देता है तो उसके कारण साँस की बीमारी होती है. इससे काम करने में कठिनाई होती है तथा श्वास से ली गई तथा छोड़ी गई हवा के आने तथा जाने में रूकावट पैदा होती है. जब हवा बढ़ जाती है तो कफ सूख जाता है जिसके कारण कफ साँस की नली में जम जाता है तथा श्वास लेने में कठिनाई होती है और पीड़ित को दमे जैसी घातक बीमारी होती है. इसके अतिरिक्त दमे के और भी लक्षण होते हैं जैसे – सीने में दर्द होना, पेट भारी – भारी लगना, मुंह के स्वाद में परिवर्तन आना तथा सिर में दर्द होना आदि. कभी – कभी बिना लक्षणों के ही अचानक दमा हो जाता है.
Damaa ke Kaaran or Lakshan
Damaa ke Kaaran or Lakshan
दमा के कारण ( Causes of Asthma ) :
1.       किसी प्रकार का शारीरिक कष्ट ( Physical Problem ) – शरीर में कफ हो जाता है तथा हवा दोष अपना संतुलन खो देती है जिससे दमा हो जाता है.

2.       भोजन ( Food ) – पौष्टिक खाना ना खाने के कारण भी दमा होता है. तेल युक्त तथा अधिक मसाले वाला पदार्थ खाने से, भारी पदार्थ का न पचना, जिसे खाने से कब्ज होता है, रूखा खाने के कारण, बासी भोजन का सेवन करने से, ज्यादा खटाई वाली चीजों को खाने के कारण, ठंडी चीजों को खाने से तथा तम्बाकू खाने से साँस से सम्बन्धित बीमारियाँ होती हैं.
दमा के कारण और लक्षण
दमा के कारण और लक्षण
3.       रहन – सहन ( Living Style ) – सदैव ठंडी जगह पर रहने से, बर्फीली जगह पर यात्रा करने से, धूल तथा धुंए के कारण, स्टील की फक्ट्रियों में काम करने के कारण, भट्टियों के निकट रहने से, सीमेंट की फक्ट्रियों में कार्य करने के कारण, कैमिकल वाली फक्ट्रियों में कार्य करने के कारण, अधिक हवा में रहने के कारण, ज्यादा एक्सरसाइज करने के कारण तथा पेशाब में रुकावट के कारण, इन सभी कारणों से दमा होने की सम्भावना होती है. 4. जिस व्यक्ति को खांसी, जुकाम तथा नजला नामक बीमारी समय पर ठीक न होने के कारण दमा रोग उत्पन्न हो जाता है.

4.       फेंफडों का असमर्थ होना ( Incapable Lungs ) : फेफड़े असमर्थ हो जाने के कारण, हृदय दुर्बल हो जाने कारण, गुर्दे दुर्बल होने से, आँतों के असमर्थ हो जाने के कारण तथा मांसपेशियों के कमजोर पड़ जाने से अस्थमा जैसी खतरनाक बीमारी होती है.

5.       श्वास नाली ( Breathing Tube ) : जिसे व्यक्ति की साँस की नली में गंदगी जमा हो जाती है साँस की नली में ठंड लग जाती है उसे अस्थमा बीमारी होने की सम्भावना होती है.
Symptoms and Causes of Asthma
Symptoms and Causes of Asthma
6.       धुम्रपान ( Smoking ) : जो लोग Smoking (धूम्रपान) करते हैं या फिर Smoking (धूम्रपान) करने वाले लोगों के सम्पर्क में रहते हैं उसे अस्थमा रोग होने का डर रहता है.

7.       पेसाब का बहाव ( Flow of Urine ) : पेशाब के बहाव को रोकने के कारण अस्थमा हो जाता है.

8.       दवाइयों का सेवन ( Taking Medicine ) : दवाइयों का बहुत ज्यादा सेवन करने से कफ सूख जाता है जिसके कारण दमा हो सकता है.

9.       अनुवांशिक ( Genetic ) : यदि परिवार में किसी एक सदस्य को दमा रोग है तो परिवार के अन्य सदस्यों को दमा रोग होने का डर रहता है.

10.   मोटापा ( Fat ) : मोटे होने कारण दमा होने की सम्भावना होती है.

11.   क्रोध ( Angry ) : जो व्यक्ति ज्यादा गुस्सा करता है या अधिक रोता है या ज्यादा उकसाता है उसे भी दमा रोग हो जाता है.
छाती में तकलीफ की वजह
छाती में तकलीफ की वजह
दमा के लक्षण ( Symptoms of Asthma ) :
·         खांसी और सांस फूलना ( Cough and Shortness of Breath ) : जिस व्यक्ति को दमा रोग होता है आरंभ में खांसी होती है तथा साँस फूलने के दौरे पड़ते हैं.

·         दौरे पड़ना ( Seizure ) : दमा से ग्रस्त लोगों को सामान्य रूप से किसी भी समय दौरे पड़ सकते हैं किन्तु रात में उन्हें लगभग 2 बजे के पश्चात अवश्य दौरे पड़ते हैं.

·         मलगम ( Cough in Neck and Lungs ) : जिसे अस्थमा बीमारी होती है उसके शरीर से कठोर कफ, दुर्गन्ध युक्त और रस्सी की तरह पतला निकलता है.

·         सांस लेने में दिक्कत ( Problem in Breathing ) : उसे श्वास में तकलीफ होती है. उस व्यक्ति को श्वास के लिए जोर लगाना पड़ता है जिसके कारण उसका चेहरा लाल हो जाता है.
Saans Lene mein Dikkat
Saans Lene mein Dikkat
·         छींके आना ( Sneezing ) : दमा से पीड़ित आदमी को अधिकतर रात में या प्रात: अचानक बार बार छींक आती है. उस व्यक्ति को ठंडे स्थानों पर तथा अभ्यास करने के कारण या ज्यादा गर्मी के मौसम में ज्यादा तीखी छींक आती है. 

·         ऐठन ( Cramps ) : शरीर में एंठन महसूस होती है.

यह एक ऐसी बीमारी है जो किसी भी आयु के व्यक्तियों को होना सम्भव है. साँस की नली की स्नायु में किसी प्रकार की समस्या होने के कारण साँस के आवगमन में तकलीफ होती है. खांसी होने के कारण तथा साँस की नली में कफ इक्कट्ठा हो जाने के कारण साँस की समस्या और भी अधिक हो जाती है. दमा से पीड़ित व्यक्ति बहुत तेज हांफना शुरू कर देता है.


अस्थमा के अन्य कारण और इसके लक्षण जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो. 
श्वासरोग
श्वासरोग
Damaa ke Kaaran or Lakshan, दमा के कारण और लक्षण, Symptoms and Causes of Asthma, Shvaas Rog ki Vajah, दमा, Asthma, Saans Lene mein Dikkat, Smoking, Daure Padna, Cramps, Shwasrog, श्वासरोग, छाती में तकलीफ की वजह.


Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT