इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Seb se Rahen Hamesha Svasth | सेब से रहें हमेशा स्वस्थ


सेब रखे हमेशा स्वस्थ (Apple Keeps You Always Healthy)
एक सेब में बहुत से गुण होते हैं तथा इसीलिए इसे पौषक तत्वों का घर कहा जाता हैं. सेब एक ऐसा फल हैं. जिसे खाने से रोग हमेशा मनुष्य के शरीर से कोशों दूर रहते हैं. सेब खाने में बहुत ही स्वादिष्ट होता हैं. इसके साथ ही यह एक स्वास्थ्यवर्धक फल हैं. अगर आप एक अच्छा और स्वस्थ जीवन जीना चाहते हैं तो रोजना एक सेब का सेवन दिन में एक बार अवश्य करें. सेब का इस्तेमाल अनेक प्रकार की बिमारियों से राहत पाने के लिए भी किया जाता हैं.

·     वजन कम करने के लिए (To Loss Wight) सेब उन लोगों के लिए बहुत ही फायदेमंद सिद्ध होता हैं जो अपना वजन कम करना चाहते हैं. सेब खाने में बहुत ही मीठा और स्वादिष्ट होता हैं. लेकिन यह आपके शरीर की कैलोरी को बिना प्रभावित किये व्यक्ति की भूख को शांत करता हैं. सेब में पैक्टिन नामक तत्व भी पाया जाता हैं. यह तत्व मानव शरीर की कोशिकाओं द्वारा अवशोषित वसा की मात्रा को नियंत्रित करता हैं. यह तत्व ग्लेक्टोरिन एसिड का ही एक स्त्रोत हैं. यह इन्सुलिन की मात्रा को बढ़ने से रोकता हैं. जिससे व्यक्ति को मधुमेह जैसे रोग से ग्रस्त होने की सम्भावना नहीं रहती. सेब बिमारियों को तो दूर रखता ही हैं इसके साथ ही यह पेट को भरने के लिए एक उत्तम फल हैं. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT सेब की चटनी बनाने की विधि ...
Seb se Rahen Hamesha Svasth
Seb se Rahen Hamesha Svasth
·     फाइबर (Fiber) – सेब में घुलनशील और अघुलनशील दोनों ही प्रकार के फाइबर पाए जाते हैं. ये दोनों ही फाइबर शरीर की पाचन क्रिया को नियमित रूप से कार्य करने में मदद करते हैं. सेब को खाने से हमारे शरीर में फाइबर की मात्रा सम्मिलित होती ही हैं इसके साथ ही इससे कब्ज की बीमारी भी दूर हो जाती हैं.

·     सेब का छिलका (Apple Peel) – सेब की तरह सेब का छिलका भी बहुत ही लाभकारी होता हैं. इसके छिलकों के साथ सेब का सेवन करने से शरीर में उपस्थित सभी विषाक्त पदार्थ नष्ट हो जाते हैं. इसीलिए आमतौर पर सभी चिकित्सक सेब को बिना छिले केवल धो कर खाने की सलाह देते हैं. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT पपीते पेट की बीमारी को दूर भगायें ...
सेब से रहें हमेशा स्वस्थ
सेब से रहें हमेशा स्वस्थ
·     अल्जाइमर (Alzheimer) सेब को खाने से मस्तिष्क रोग जैसे अल्जाइमर से ग्रस्त होने की भी सम्भावना नहीं रहती. क्योंकि यह शरीर में पाया जाने वाल मुक्त रेडिकल डेमेज से मस्तिष्क की कोशिकाओं की सुरक्षा करता हैं. जिसके कारण मुख्य रूप से कोई भी व्यक्ति अल्जाइमर जैसी बीमारी से पीड़ित हो जाता हैं.

·     फेफड़े का कैंसर (Lung Cancer) सेब में फ्लेवोनायड क्युरसेटिन और नरिन्जिन की अधिक मात्रा पाई जाती हैं. जिससे व्यक्ति को फेफड़े के कैसर से पीड़ित होने की 50% आशंका कम हो जाती हैं.
Rogmukt Karen Seb
Rogmukt Karen Seb
·     ऊर्जा (Energy) सेब ऊर्जा का एक महत्वपूर्ण स्त्रोत हैं. यदि आप रोजाना एक सेब का सेवन करें तो आपके फेफड़ों में ऑक्सिजन की आपूर्ति हो जाती हैं. इसीलिए जब भी आप व्यायाम करें तो उससे पहले एक सेब सेवन का अवश्य करें. वर्कआउट से पहले सेब का सेवन करने से आपके शरीर की ऊर्जा में बढ़ोतरी होती हैं और आप अधिक सजगता से तथा फुर्ती के साथ अपने दैनिक कार्य कर पाते हैं.

·     शुद्ध रक्त (Pure Blood) सेब में मिनरल और विटामिन की भी प्रचुर मात्रा पाई जाती हैं.विटामिन और मिनरल हमारे शरीर के रक्त को शुद्ध करने के लिए काफी मददगार साबित होते हैं.

·     कैंसर की बीमारी (Cancer Disease) सेब में एंटी ओक्सिडेंट की मात्रा भी पाई जाती हैं. जिससे यदि हम रोजाना एक सेब खाएं तो कैंसर जैसी भयंकर बीमारी हम से दूर रहती हैं और हमारे शरीर का कलोस्ट्रोल का स्तर भी नियंत्रित रहता हैं.

·     सेब का जूस (Apple Juice) – सेब का जूस भी गुणों से भरपूर होता हैं. इसमें हमारे शरीर से हानिकारक तत्वों को बाहर निकालने की क्षमता विद्यमान होती हैं. सेब का जूस पीने से किडनी और लीवर से सम्बन्धित बिमारियों के होने का खतरा कम रहता हैं.
Seb ka Juice Ras
Seb ka Juice Ras
·     मिनरल्स (Minerals) – सेब में पोटेशियम, कैल्शियम, फोस्फोरोस, मग्नेशियम, आयरन, कॉपर और जिंक जैसे मिनरल्स भी उपलब्ध होते हैं. जिससे अगर हम रोजाना सेब का सेवन करते हैं तो हमारा स्वास्थ्य, नाख़ून तथा बल तथा शरीर की त्वचा हमेशा ठीक रहती हैं.

·     तेज दिमाग (Bright Mind) सेब खाने से दिमाग का भी विकास होता हैं. जो बच्चे सेब का सेवन करते हैं. उनका दिमाग पढाई में तेज होता हैं.

·     दांत (Teeth) सेब दांतों और मसूड़ों के लिए भी लाभदायक होता हैं. इसे खाने से दांत और मसूड़ों में मजबूती आती हैं और ये हमेशा कीटाणुओं से रहित रहते हैं.

·     गले की खराबी (Throat Disorders) – यदि ठंड के कारण या किसी ठंडी चीज का अधिक सेवन करने के कारण आपका गला ख़राब हो जाए तो आप सेब के जूस का प्रयोग कर सकते हैं. गले को ठीक करने के लिए सेब का ताजा जूस लें और उसे कुछ देर मुंह में रखें. गला तुरंत ठीक हो जाएगा.

·     जोड़ों का दर्द (Joint Pain) सेब का जूस बुजुर्ग व्यक्तियों के लिए बहुत ही लाभकारी होता हैं. यदि किसी बुजुर्ग व्यक्ति को जोड़ों में दर्द और गठिया रोग हो तो उसे सेब के जूस का नियमित रूप से सेवन करना चाहिए. नियमित रूप से सेब के जूस का सेवन करने से गठिया रोग और जोड़ों का दर्द हो जाता हैं.

·     मस्तिष्क की कमजोरी (Weakness of Brain) यदि कोई व्यक्ति या बच्चा मानसिक रूप से कमजोर हैं तो उन्हें कच्चे सेब की सब्जी बनाकर खानी चाहिए. रात को सोने से पहले सेब की सब्जी खाने से बहुत ही लाभ मिलता हैं. मानसिक विकास के लिए आप सेब के मीठे रस का भी सेवन कर सकते हैं इससे भी अत्यधिक लाभ मिलता हैं.
An Apple Keeps the Doctor Away
An Apple Keeps the Doctor Away
·     रक्त की कमी (Lack of Blood) यदि किसी व्यक्ति के शरीर में रक्त की कमी हो तो वह शरीर में रक्त की आपूर्ति करने के लिए सेब का सेवन कर सकता हैं.

·     आँखों के रोग (Eye Disease) यदि आपको आँखों से सम्बन्धित कोई भी समस्या हैं तो सेब की पुल्टिस बना लें और इसे अपनी आँखों पर कुछ समय के लिए रोजाना रखें. इसके साथ ही दिन में एक बार सेब का सेवन मक्खन के साथ करें. इस उपाय को करने से आँखें ठीक हो जायेंगी तथा इसके साथ ही साथ आपके चेहरे की रंगत बदल जायेगी.

·     पेट के कीड़े (Stomach Worms) रोजाना एक सेब खाने से पेट के सभी कीड़े मर जाते हैं तथा इसके साथ ही यदि आपको अम्लता, कब्ज या पुराने सिर दर्द की शिकायत हैं तो वह भी दूर हो जायेगी.

·     खांसी (Cough) खांसी होने पर एक गिलास सेब का रस लें और उसमें मिश्री मिलाकर पी लें. आपको लाभ होगा.
Har Bimari ki Chikitsa Matra Seb
Har Bimari ki Chikitsa Matra Seb
·     बुखार (Fever) – बुखार होने पर प्रतिदिन रोगी को एक गिलास ताजे सेब का सेवन कराएँ. जल्द ही तबियत में सुधार आ जायेगा.

·     संतुष्टि ( Satisfaction) सेब में रेडवाइन की भांति पोलोफेनोल्स होता हैं. इसलिए यह संतुष्टि दिलाने में काफी सहायक होता हैं. शोधकर्ताओं के द्वारा यह स्पष्ट किया गया हैं कि सेब में उपस्थित एंटीओक्सिडेंटस जननांग और योनी तक रक्त प्रवाह को प्रोत्साहित करने में काफी मददगार साबित होते हैं. जिस कारण शरीर में उत्तेजना बढती हैं. सेब में फ्लोरिजिन भी विद्यमान होते हैं. यह आमतौर पर अनेक सब्जियों में पाया जाने वाल एक एस्ट्रोजन हैं. लेकिन संरचनात्मक दृष्टिकोण से यदि देखा जाये तो यह एस्ट्राडियोल से कम नहीं हैं. बल्कि उसके समान हैं. यह महिला हार्मोन और महिला की कामुकता को बढ़ाने में अधिक सक्रिय होता हैं. 
  
सेब के लाभ आयुर्वेदिक उपायों के बारे में जानने के लिए आप नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हैं.           

Seb ki Visheshtayen
Seb ki Visheshtayen

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT