इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

1 Mahine Pahle Pta Chal Jate hai Heart Attack ke Lakshan | 1 महीने पहले पता चल जाते है हार्ट अटैक के लक्षण | Signs and Symptoms of Heart Attack Diseases

दिल का दौरा ( Heart Attack )
एक समय था जब दिल के दौरे अर्थात Heart Attack को सिर्फ वृद्धों की बिमारी माना जाता था किन्तु अब व्यक्ति किशोरावस्था में पैर रखते ही इसके शिकार होने लगते है और यही कारण है कि आजकल आजकल दिल के मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढती जा रही है. वैसे चिकित्सकों का माना है कि अधिकतर रोगियों में हार्ट अटैक होने से 1 महीने पहले ही कुछ लक्षण देखे जा सकते है जिनको ध्यान में रखते हुए मरीज को तुरंत इलाज करा लेना चाहियें, ताकि हार्ट अटैक के खतरे को टाला जा सकते. आज हम आपको कुछ ऐसे ही संकेतों के बारे में बताने जा रहे है. CLICK HERE TO KNOW हृदय रोग के आयुर्वेदिक इलाज ... 
1 Mahine Pahle Pta Chal Jate hai Heart Attack ke Lakshan
1 Mahine Pahle Pta Chal Jate hai Heart Attack ke Lakshan
हार्ट अटैक आने से पहले के लक्षण ( Symptoms Before Heart Attack ) :
·         दर्द ( Pain ) : व्यक्ति को कमर के बाए हिस्से, छाती के नीचे, दांतों, मसूड़ों, गर्दन और सिर में दर्द रहने लगता है. वो थका हुआ महसूस करने लगता है.

·         कमजोरी ( Weakness ) : पीड़ित को हर समय शरीर में कमजोरी का आभास होने लगता है, ये कमजोरी सिर्फ शारीरिक ही नहीं मानसिक भी होती है, ऐसे में पीड़ित बिस्तर पर पडा रहता है.

·         सांस लेने में परेशानी ( Problem in Breathing  ) : इसके अलावा उनकी दिल की धडकनें तेज होने लगती है, नाक रुक जाती है जिसके कारण सांस लेने में दिक्कतें आने लगती है. CLICK HERE TO KNOW हृदय रोगों में उपयोगी चुकंदर ...
1 महीने पहले पता चल जाते है हार्ट अटैक के लक्षण
1 महीने पहले पता चल जाते है हार्ट अटैक के लक्षण
·         पाचन तंत्र खराब ( Problem in Digestive System ) : ऐसे में व्यक्ति जो भी खाता है उसे पुर्णतः पचा नहीं पाता, जिससे उनके पेट में गैस भर जाती है, उन्हें उल्कायी आने लगती है, उल्टी का भी मन करता है और कुछ लोगों को तो बार बार उल्टी करते भी देखा गया है.

·         बेचैनी ( Discomfort ) : ऊपर बताये गये कारणों की वजह से उसे बेचैनी रहने लगती है, उनका सिर घुमने लगता है और वे खुद को बीमार महसूस करने लगते है.

·         दबाव ( Pressure ) : रोगी को कमर के ऊपरी हिस्सों और छाती में दबाव महसूस होता रहता है, उसे लगता है जैसे कोई उसकी छाती मतलब सीने को दबा रहा है या उसपर कुछ भार रख रहा है, साथ ही उसे दिल के आसपास के हिस्सों में कांटे चुभने जैसा आभास भी होता है.

·         पसलियों में दर्द ( Rib Pain ) : सीने में दबाव के साथ साथ पीड़ित की बायीं तरफ की पसलियों और उसके आसपास के हिस्सों में भी दर्द रहने लगता है, लेकिन ये दर्द कुछ समय बात खुद ही ठीक हो जाता है.

·         गर्मी लगना ( Feeling Heat Hot ) : वैसे जब भी हमें गर्मी लगती है तो गर्म पसीना आता है किन्तु हार्ट अटैक आने से पहले व्यक्ति को गर्मी तो लगती ही है साथ ही उसे ठंडा पसीना आता है. ये वो लक्षण है जो लगभग हर रोगी में देखा गया है और इसे आसानी से पहचाना भी जा सकता है.
Signs and Symptoms of Heart Attack Diseases
Signs and Symptoms of Heart Attack Diseases
·         खर्राटे ( Snores ) : खर्राटे लेना आम बात है किन्तु हार्ट अटैक की संभावना वाले व्यक्ति बहुत जोर जोर से खर्राटे लेते है, कई बार तो वे अपने खर्राटों की वजह से ही अपनी नींद खराब कर लेते है और नींद पूरी ना होने की समस्या से परेशान रहते है.

·         सुजन ( Swelling ) : क्योकि हार्ट अटैक दिल से जुडी समस्या है इसीलिए ये दिल के काम को प्रभावित करता है अर्थात पीड़ित व्यक्ति शरीर में खून को सही तरह पंप नहीं कर पाता. ऐसे में शरीर के अनेक हिस्सों मुख्यतः पैरों में सुजन रहने लगती है.

इन गलतियों से बचें ( Avoid These Mistakes ) :
इन सब लक्षणों को देखते हुए रोगी को इन सब गलतियों को करने से बचना चाहियें.

§  न खिलाये न पिलायें ( Don’t Give Him Anything to Eat or Drink ) : जब व्यक्ति को हार्ट अटैक आये तो उसे कुछ भी ना तो खिलाएं और ना ही पिलायें क्योकि ये उसकी हालत को और भी अधिक खराब कर सकता है.

§  एस्प्रिन खिलाएं ( Give Patient Aspirin ) : एस्प्रिन ( डिस्प्रिन ) का कार्य खून को क्लॉट करना होता है. तो आप पीड़ित को उसी समय एस्प्रिन खिला दें, लेकिन ऐसे भी आप सिर्फ चिकित्सक की सलाह पर ही कर सकते है क्योकि कभी कभी इनका प्रभाव उल्टा भी पड सकता है.
महीनेभर पहले मिलने लगते है दिल के दौरे के संकेत
महीनेभर पहले मिलने लगते है दिल के दौरे के संकेत
§  छाती दबाएँ ( Press Patient’s Chest ) : हार्ट अटैक होने पर व्यक्ति की दिल की धडकनों की दर ( Pulse Rate ) कम हो जाती है. ऐसे में पीड़ित की छाती को दबाना चाहियें अर्थात Chest Press करनी चाहियें. लेकिन ऐसा करने से पहले आप Chest Press का सही तरिका जरुर सिख लें.

§  सहारा ना दें ( Don’t Give Him / Her Support ) : अक्सर जब भी कोई बीमार हो जाता है तो उसे हॉस्पिटल ले जाते वक़्त हम सहारा देना उचित समझते है किन्तु हार्ट अटैक के केस में उल्टा है. इसलिए कभी भी दिल के मरीज को सहारा देकर हॉस्पिटल ले जाने की कोशिश ना करें वर्ना उसके दिल पर दबाव बढ़ जाएगा और उसकी हालत गंभीर हो जायेगी.

§  ढीले कपडे पहने ( Wear Loose Cloths ) : तंग या टाइट कपडे अक्सर मरीज की बेचैनी को बढाते है, ऐसे में पीड़ित को ढीले ढाले कपड़ों में ही रखें और उसे सीधा कमर के बल लेटाकर हॉस्पिटल लेकर जाएँ. ऐसे उसको आराम भी मिलेगा और उसकी बेचैनी भी कम होगी.

हार्ट अटैक की संभावना से पहले पता चलने वाले अन्य लक्षणों और उसके उपचार के बारे में अधिक जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो. 
Heart Attack Aaane se Pahle ke Lakshan
Heart Attack Aaane se Pahle ke Lakshan

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT