इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

CIBIL Score क्या है और ये लोन लेने में कैसे है फायदेमंद | Credit Information Bureau India Limited Organization

सिबिल स्कोर ( CIBIL Score )
आप सभी ने CIBIL Score के बारे में जरुर सूना होगा खासतौर से तब जब आप किसी चीज को फाइनेंस पर लेने के लिए जाते है या फिर तब जब आप अपने Credit Card के लिए अप्लाई करते है. लेकिन क्या आपको पता है कि ये CIBIL Score होता क्या है? और इसको हम कैसे और कहाँ कहाँ प्रयोग कर सकते है? साथ ही अपना CIBIL Score और Credit Score कैसे और कहाँ चेक करना होता है? आज हम आपको CIBIL Score से जुडी हर जानकारी के बारे में बताने वाले है. CLICK HERE TO KNOW सोशल मीडिया का कितना गहरा असर है दिलों में ...
CIBIL Score क्या है और ये लोन लेने में कैसे है फायदेमंद
CIBIL Score क्या है और ये लोन लेने में कैसे है फायदेमंद
क्या होता है सिबिल स्कोर ( What is CIBIL Score ) :
दरअसल जब भी हमे बैंक से लोन लेने की जरूरत पड़ती है या फिर हमे कोई चीज फाइनेंस करानी होती है तो उस वक़्त बैंक हमारा सिबिल स्कोर चेक करते है ताकि वो ये देख सके कि क्या हम लोन और फाइनेंस की किस्तों को समय पर पहुंचाते है या नहीं. अगर हाँ, तो आपका सिबिल स्कोर अच्छा होगा और आपको लोन देने में बैंक बिलकुल भी देर नहीं करेगा लेकिन खराब सिबिल स्कोर आपके लोन को डिसअप्रूव भी करवा सकता है.

Credit Information Bureau ( India ) Limited ( CIBIL ) क्या है ( What is CIBIL Organization ) :
Credit Information Bureau India Limited एक ऐसी संस्था है जो हमारे देश के हर बैंक की और हर फाइनेंस कंपनी से जुडी है और उन्हें हर व्यक्ति के द्वारा लिए लोन और क्रेडिट कार्ड से जुडी हुई हर जानकारी प्रोवाइड कराती है. इसकी स्थापना सन 2000 में हुई थी.

बैंक और फाइनेंस कंपनी को इसका ये फायदा होता है कि इससे उनका बिज़नस और भी तेजी से आगे बढ़ता है जबकि कस्टमर को ये फायदा होता है कि उन्हें कम ब्याज दर पर और जल्दी लोन मिल जाता है. आज के समय में इस संस्था से हजारो बड़े बैंक, प्राइवेट कंपनियाँ और फाइनेंस कम्पनीज जुडी हुई है. ऐसे में जब भी कोई उनके पास लोन के लिए आता है तो वो तुरंत उनका CIBIL Score चेक कर पाते है.

CIBIL Credit Report  :
जब कभी किसी कस्टमर को उनके क्रेडिट स्कोर यानि की CIBIL Score की जरूरत होती है तो वो CIBIL की साईट पर जाते है और वहाँ रिपोर्ट जनरेट करते है. इसके लिए CIBIL संस्था सबसे पहले उनके बैंक अकाउंट की रिपोर्ट को चेक करती है और देखती है कि उनके अकाउंट से हर महीने कितनी और कब EMI कटती है और फिर उसके हिसाब से एक रिपोर्ट जारी करती है. उसी रिपोर्ट को CIBIL Credit Report या फिर CIR ( Credit Information Report ) कहा जाता है.
Credit Information Bureau India Limited Organization
Credit Information Bureau India Limited Organization
CIBIL Score का निर्धारण ( Determination of CIBIL Score ) :
CIBIL Score का निर्धारण बहुत ज्यादा पेचीदा है और कंपनी इसके लिए एक अलग ही एल्गोरिथम को यूज करती है. वैसे इसमें लोन लेने आये कस्टमर की लास्ट 6 महीने की बैंक रिपोर्टस को चेक किया जाता है, साथ ही साथ उसकी फाइनेंसियल डाटा भी देखी जाती है. ऐसे ही कुछ और फैक्टर्स भी है जिनको ध्यान में रखते हुए ही सिबिल स्कोर का निर्धारण किया जाता है जैसेकि लोन की अदायगी, बिल का भुगतान इत्यादि.

अच्छा CIBIL Score क्या और कितना है ( What is and How Much CIBIL Score is Good ) :
अगर अच्छे CIBIL Score की बात करें तो वो है 750 से 900. अगर आपका इस रेंज में CIBIL Score स्कोर है तो समझों कि आपका लोन आसानी से तुरंत पास हो जाएगा. अगर आप भी चाहते है कि आपका CIBIL Score इतना हो जाए तो समय पर अपने लोन की किस्तों को भरे, बिना देरी किये.

CIBIL Score को सुधारने के तरीके ( Ways to Improve CIBIL Score ) :
-    CIBIL Score को सुधारने का सबसे अच्छा तरिका यही है कि आप अपनी Credit History को जितना अच्छा और साफ़ रख सके उतना ही अच्छा है.

-    जिस दिन आपकी क़िस्त देने की डेट हो उस दिन से 2-4 दिन पहले ही अपने बैंक अकाउंट में क़िस्त के पैसे जमा करा दें ताकि क़िस्त की भुगतान में कोई देरी ना हो.

-    कुछ लोग होते है जो क्रेडिट कार्ड को बहुत ज्यादा यूज करते है लेकिन ऐसा करना आपके CIBIL Score पर गलत असर डालता है और आपको नेगेटिव पॉइंट्स मिलते है.

-    अगर आप चाहते है कि आपका क्रेडिट स्कोर बढे तो ना सिर्फ डिवाइस लोन, बल्कि होम लोन, पर्सनल लोन, कार लोन या बाकी लोन भी लेते रहे.

-    बार बार लोन लेना भी CIBIL Score पर नेगेटिव इफ़ेक्ट डालता है, इसलिए अपने कर्ज और अपनी इनकम के बीच में बैलेंस बनाकर रखें.

CIBIL Score कम होने के कारण ( Causes of Low CIBIL Score ) :
-    इसका सबसे मेन कारण यही है कि आप अपनी EMI को समय पर नहीं देते या फिर उसे Miss कर जाते हो.

-    अगर आप अपने किसी फ्रेंड के लोन में गारंटर है और आपका वो फ्रेंड अपनी EMI टाइम पर नहीं देता तो उसका असर ना सिर्फ उसपर बल्कि आपके CIBIL Score पर भी पड़ता है.

-    इसके अलावा अगर आप अपने Credit Card की पूरी की पूरी लिमिट को यूज करते है तो ये भी आपके CIBIL Score को कम करता है इसीलिए हमेशा यही कोशिश करें कि अपने क्रेडिट कार्ड की लिमिट में ही रहें.

तो दोस्तों, देखा किस तरह आपका CIBIL Score आपको लोन और चीजों को फाइनेंस कराने में हेल्प करता है. इसलिए आप भी अपने CIBIL Score को हमेशा अच्छा ही रखने की कोशिश करें और आज ही CIBIL की वेबसाइट पर जाकर अपने सिबिल स्कोर को चेक करें. अगर वहां आपको आपका CIBIL Score नहीं दिखाया जाता है तो इसका मतलब होगा कि आपने पहले कभी कोई लोन नहीं लिया है या कोई चीज फाइनेंस नहीं कराई है. ऐसे में सबसे पहले आपको किसी चीज को फाइनेंस कराना होगा तभी ये वेबसाइट आपके CIBIL Score को रीड कर पाएगी और आपको ग्रेड पर पाएगी.
Apna CIBIL Score Kaise Check Karen
Apna CIBIL Score Kaise Check Karen


Apna CIBIL Score Kaise Check Karen, CIBIL Score ke Fayde, Kaise Kaam Karta Hai CIBIL Score, Kam CIBIL Score Ko Sudharne ke Tarike, Kya Hai Credit Information Report, Apni CIBIL Credit Report Banvayen

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT