इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

Real Estate Service

सबकुछ बिकता है यहाँ ऑनलाइन प्रॉपर्टी डीलिंग पर – Online Property Dealing

सबकुछ बिकता है यहाँ ऑनलाइन प्रॉपर्टी डीलिंग पर – Online Property Dealing  सबकुछ बिकता है यहाँ ऑनलाइन प्रॉपर्टी डीलिंग पर आप...

Aam Ke Ayurvedic Upyog | आम के आयुर्वेदिक उपयोग | Ayurvedic Uses of Mango

आम के उपयोग निम्न हैं

आग से जलना शरीर का कोई अंग जलने पर आम की पट्टी की राख को घी या पानी में मिलाकर उसी जगह पर लेप करें, इससे अधिक फायदा होगा .


क्षय रोग  क्षय रोग होने पर 1 कप पानी में आम का रस लीजिये इसमे 50 ग्राम शहद मिला लीजिये इसे सुबह शाम पीने से क्षय रोग में काफी आराम होता है.


वायु रोग यदि आपको वायु रोग है तो 8-10 चम्मच आम का रस लीजिये इसमे 2 चम्मच शहद मिला लीजिये इसे पीने से आपको वायु रोगों से काफी आराम होता है. CLICK HERE TO READ MORE SIMILAR POSTS ...
Ayurvedic Uses of Mango
Ayurvedic Uses of Mango

खुनी दस्त यदि आपको खूनी दस्त की शिकायत हो तो आधा चम्मच आम के पेड़ की छाल का रस लें इससे 125ग्राम बकरी के दूध में मिला कर पियें इससे अत्यंत लाभ होगा.


पेचिस यदि किसी को पेचिस की शिकायत होने लगे तो उसे आम की गुठली के गूदों का चूर्ण ,बील के रस के साथ मिलाकर खाने पर फायदा होता है.


मासिक धर्म की अनियमितता मासिक धर्म की अनियमितता होने पर आम की गुठली की गिरी राख को गर्म राख में भूनकर खाने से मासिक धर्म अनियमितता दूर होती है. CLICK HERE TO READ MORE SIMILAR POSTS ...
Aam Ke Ayurvedic Upyog
Aam Ke Ayurvedic Upyog

हैजा अगर किसी व्यक्ति को हैजा की समस्या हो तो उसे 50 ग्राम पिसा हुआ आम का क्षिलका, 200 ग्राम दही घोंटकर, उसमे कपूर व नमक मिलाकर रोगी को देने से लाभ होता है.  
        

कान का दर्द- कान में दर्द की शिकायत होने पर आम ताजे हरे पत्ते का रस गुनगुना गरम करके कान में डालने से लाभ होता है.


पेट दर्द – पेट के दर्द में आम बहुत्र लाभदायक है, आम की गुठली लें, इसे आग में भून लें भूनने के बाद इसे नमक के साथ खाने से पेट दर्द में लाभ होता है.


खूनी पेचिश – खुनी पेचिस होने पर सूखा या हरा आम का छिलका लें इसे पीस लें पीसने के बाद इसे शहद में मिलकर सेवन करें इससे अत्यंत लाभ होगा. 


रंग निखारना -1 आम व जामुन की गुठली लें इसे पीस लें पीसने के पश्चात इसे चेहरे पर लगायें. कुछ समय पश्चात जब यह सूख जाये तो इसे धो लें. कुछ ही दिनों में धूप से जला काला रंग साफ हो जाता है.


2- आम का गूदा लीजिये इसे 300 ग्राम दही में मिला लें, इसमें चीनी व बर्फ मिला कर पियें इसे रोजाना पीने से रंग निखरता है और भूख खुलती है.

 
आम के आयुर्वेदिक उपयोग
आम के आयुर्वेदिक उपयोग

 Aam Ke Ayurvedic Upyog, आम के आयुर्वेदिक उपयोग, Ayurvedic Uses of Mango, Mango in Gastric Problems, Gas ke samasya mein aam ka ilaaj, Khooni Daston mein Aam, Masik Dharm ki Aniymitta mein Aam, मासिक धर्म की अनियमितता में आम.



YOU MAY ALSO LIKE 

-   प्रोजेक्टर के कार्य
प्रोजेक्टर के प्रकार और फायदे
- बॉलीवुड फिल्म जज्बा
- आम फल क्या है समझाइये
- आम के आयुर्वेदिक उपयोग
- ट्रैकबाल कैसे काम करती है

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT