इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

Real Estate Service

Cat and Mouse Tale A Political Story - कभी मित्र कभी घोर शत्रु एक चूहे बिल्ली की कहानी Chuhe Billi ki Kahani

कभी मित्र कभी घोर शत्रु  एक चूहे बिल्ली की कहानी - Cat and Mouse Tale A Polotical Story - Chuhe Billi ki Kahani आजकल बहुत बड़ा भोचाल आ...

Grahsth Sukh Prapti Ki Ratipati Gandharv Sadhna | गृहस्थ सुख प्राप्ति की रतिपति गंधर्व साधना | Getting Marriage Enjoy

गृहस्थ सुख प्राप्ति के लिए करें रतिपति गन्धर्व साधना
सम्पूर्ण ग्रह सुख या दाम्पत्य जीवन में सुख प्राप्त करने के लिए की जाने वाली साधना “ रतिपति गंधर्व साधना ” कहलाती हैं.

विभिन्न साधनाओं के क्षेत्र में गंधर्व साधना के बारे में कुछ ज्यादा जानकारी नहीं मिल पाती. लेकिन कुछ ज्योतिष आचार्यों का कहना हैं कि रतिपति गंधर्व साधना पुरुषों द्वारा सम्पूर्ण गृहस्थ जीवन के सुख को प्राप्त करने के लिए की जाती हैं. इसके अलावा रतिपति गंधर्व साधना ऐसे पुरुषों के लिए काफी लाभदायक होती हैं. जिनके वीर्य में शुक्राणु उपस्थित नहीं होते. वीर्य में शुक्राणुओं की अनुपस्थिति के कारण पुरुषों को सन्तान का सुख प्राप्त नहीं हो पाता. रतिपति गंधर्व साधना पुरुषों की इस परेशानी को दूर करने के लिए बहुत ही उत्तम मानी जाती हैं. CLICK HERE TO READ MORE POST ...
Grahsth Sukh Prapti Ki Ratipati Gandharv Sadhna
Grahsth Sukh Prapti Ki Ratipati Gandharv Sadhna 


ज्योतिषों के अनुसार पुरुषों द्वारा रतिपति गंधर्व साधना को पूरी निष्ठा से किये जाने पर पुरुष को इस साधना का फल शीघ्र ही प्राप्त हो जाता हैं. उनका मानना यह भी हैं कि रतिपति गंधर्व साधना को करने से पुरुष के वीर्य में शुक्राणुओं की उत्पत्ति हो जाती हैं. जिन व्यक्तियों में काम शक्ति की कमी हैं वो पुरुष भी इस साधना को कर सकते हैं या यह कहें कि ऐसे पुरुषों के लिए इस साधना से ज्यादा बड़ी और फलदायी साधना कोई और साधना हो ही नहीं सकती.

रतिपति साधना की विधि - :
1.       रतिपति गंधर्व साधना को करने के लिए पूर्णिमा की सुबह जल्दी उठ कर स्नान कर लें.

2.       स्नान करने के बाद घर के देवालय में जाएँ और भगवान महामृत्युन्जय (शिव) जी की पूजा उनके पुत्र गणेश जी के साथ तथा उनकी पत्नी पार्वती जी के साथ करें. CLICK HERE TO READ MORE POST ...
गृहस्थ सुख प्राप्ति की रतिपति गंधर्व साधना
गृहस्थ सुख प्राप्ति की रतिपति गंधर्व साधना


3.       पूजा करने के बाद महामृत्युन्जय मन्त्र की 11 माला का जाप करें.

4.       जाप सम्पूर्ण करने के बाद ब्राह्मण को भोजन करायें तथा उन्हें दक्षिणा देकर विदा कर दें.

5.       अब पूर्णिमा की रात को अपने कमरे में एक आसन बिछा कर बैठ जाएँ और अपने हाथ में गंधर्व मुद्रिका धारण कर लें.

6.        गंधर्व मुद्रिका धारण करने के पश्चात् अपने सामने एक शुद्ध घी का दीपक जला लें.

7.       अब निम्नलिखित मन्त्र की 21 माला का जाप मोतियों की माला से करें. निम्नलिखित मन्त्र की 21 माला का जाप एक पूर्णिमा से शुरू कर दूसरी पूर्णिमा तक रोजाना करें.

मन्त्र -:

 ॐ गन्धर्व रतिपति रतिबलम् कुरु ॐ ”

आपको इस साधना का प्रभाव पहले दिन से ही महसूस होने लग जायेगा. इस मन्त्र का जाप रोजाना करने से स्त्री एवं पुरुष दोनों काम भावना से युक्त हो जायेंगे तथा इस साधना को करने से स्त्री एवं पुरुष को जल्द ही संतान सुख प्राप्त हो जायेगा.

रतिपति गंधर्व साधना के बारे में अधिक जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते है.
Getting Marriage Enjoy
Getting Marriage Enjoy





Grahsth Sukh Prapti Ki Ratipati Gandharv Sadhna, गृहस्थ सुख प्राप्ति की रतिपति गंधर्व साधना, Getting Marriage Enjoy, Damptay Sukh, Santan Sukh Prapti, Ratipati Gandharv Sadhna, Shadi Ka Sukh, Marriage Happiness.


Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

1 comment:

  1. Sir main 19 sall ka hu aur main ye janna chahta hu ki Bina guru diksha ke hum koi bhi mantra prayog aur siddh kar sakte hai

    ReplyDelete

ALL TIME HOT