इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

Real Estate Service

Cat and Mouse Tale A Political Story - कभी मित्र कभी घोर शत्रु एक चूहे बिल्ली की कहानी Chuhe Billi ki Kahani

कभी मित्र कभी घोर शत्रु  एक चूहे बिल्ली की कहानी - Cat and Mouse Tale A Polotical Story - Chuhe Billi ki Kahani आजकल बहुत बड़ा भोचाल आ...

Sftik Crystal Chikitsa Therepy | स्फटिक क्रिस्टल चिकित्सा पद्धति | Crystal Treatment

स्फटिक क्रिस्टल चिकित्सा ( Therapy ) के रूप में
स्फटिक का प्रयोग क्रिस्टल के रूप में साधु और संतों के द्वारा किया जाता हैं. साधु – संत या सिद्ध पुरुष स्फटिक का प्रयोग क्रिस्टल के रूप में वर्षों से प्राण तथा ऊर्जा की वृद्धि के लिए, नकारात्मक भावनाओं को, विचारों को दूर करने के लिए, अशुद्ध वातावरण से मुक्त रहने के लिए तथा गंभीर रोगों से बचने के लिए विभिन्न प्रकार से करते हैं. CLICK HERE TO READ MORE SIMILAR POST ...
Sftik Crystal Chikitsa Therepy
Sftik Crystal Chikitsa Therepy 



क्वार्टज क्रिस्टल का इतिहास
ऐसा माना जाता हैं कि 30,000 अर्थात सदियों पहले “ एटलान्टिस ” नाम की एक प्रसिद्ध सभ्यता थी. इस सभ्यता के लोगों के पास 25 फीट लम्बा तथा 10 फीट चौड़ा एक बहुत ही विशाल क्वार्टज क्रिस्टल था. इस सभ्यता के लोग क्वार्टज क्रिस्टल की चमत्कारी शक्तियों से भली – भांति परिचित थे तथा वे इसका प्रयोग अपनी सभ्यता के लोगों को रोगों से मुक्त करने ले लिए करते थे. 

आम व्यक्ति के लिए स्फटिक एक सामान्य तथा रहस्यमय पदार्थ ही रहा हैं तथा सामान्य व्यक्ति न ही इसका प्रयोग कर पाते हैं तथा न ही इसका लाभ उठा पाते हैं.

लेकिन कुछ वर्षों से लगे हुए वैज्ञानिक तथा रहस्य शोधक चिकित्सकों ने स्फटिक क्रिस्टल के बारे में जांच कर प्रत्येक सैकंड की दर से इसके प्रयोगों के बारे में, इसकी उपचारक शक्तियों के बारे में तथा इसके व्यक्ति के शरीर पर, मन पर होने वाले आध्यात्मिक प्रभावों के बारे में पता लगाकर इसके बारे में कुछ जानकारी हासिल की हैं. 
 स्फटिक क्रिस्टल चिकित्सा  पद्धति
 स्फटिक क्रिस्टल चिकित्सा  पद्धति 


वैज्ञानिक अनुसन्धान तथा शोधकों की जाँच करने के बाद ही क्रिस्टल थेरेपि की उत्पत्ति हुई. अब यह थेरेपि एक अलग प्रकार की चिकित्सा पद्धति के रूप में फैलती जा रही हैं. क्वार्टज क्रिस्टल की ऊर्जा का प्रयोग कर गम्भीर बिमारियों से छुटकारा मिल जाता हैं.

स्फटिक का निर्माण कैसे होता हैं.
स्फटिक दो प्राकृतिक तत्वों ऑक्सीजन तथा सिलिकॉन से मिलकर बनता हैं. इसका निर्माण इन दोनों तत्वों के मिश्रण से होता हैं. जब ऑक्सीजन तथा सिलिकॉन तत्व गर्मी और असहाय दबाव के साथ भूगर्भ में एक साथ जुड़ते हैं तो स्फटिक का निर्माण होता हैं. स्फटिक के निर्माण में कई सौ वर्ष लग जाते हैं.

क्रिस्टल चिकित्सा से सम्बन्धित अन्य बातों को जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते है.
 Crystal Treatment
 Crystal Treatment
Sftik Crystal Chikitsa Therepy, स्फटिक क्रिस्टल चिकित्सा  पद्धति, Crystal Treatment, Saftik ka Istihas, Sftik Ka Prayog Rogon Se Mukti Ke Liye, Sftik Ka Nirman Kaise Hota Hai, स्फटिक, Sftik, Crystal.

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT