इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Jaccha ke liye Poushtik Hareera | जच्चा के लिए पौष्टिक हरीरा

हरीरा (Hareera)
हरीरा एक बेहद ही पौष्टिक आहार हैं. जब एक गर्भवती महिला बच्चे को जन्म दे देती हैं तो उसके बाद उसे हरीरा दिया जाता हैं. क्योंकि हरीरा बच्चे की माँ के लिए बहुत ही लाभदायक होता हैं. यह खाने में भी बहुत ही स्वादिष्ट होता हैं. हरीरा बनाने के लिए हल्दी का प्रयोग किया जाता हैं. जिससे बच्चे की माँ को प्रसव के बाद कम पीड़ा होती हैं. इसमें सौंठकाजूबादामगुड़जीरा जैसी ताकत बढाने वाली चीजों का प्रयोग किया जाता हैं.


हरीरा के लिए आवश्यक सामग्री (Ingredients For Harira)
·     200 ग्राम गुड़

·     ¼ चम्मच अजवायन पाउडर

·     छोटी इलायची का पाउडर

Jaccha ke liye Poushtik Hareera
Jaccha ke liye Poushtik Hareera
·     8 - 10 काजू के छोटे – छोटे टुकड़े

·     8- 10 बादाम के छोटे – छोटे टुकड़े

·     ¼ नटमैग पाउडर

·     आधा चम्मच हल्दी पाउडर

·     1 छोटी चम्मच जीरा पाउडर

·     1 छोटी चम्मच सौंठ पाउडर

·     2 चम्मच घी

हरीरा बनाने की विधि (Recipe of Hareera)
1.एक गुड़ की डली लें और इसके बारीक़ – बारीक़ टुकड़े कर लें.

2.                        अब एक बर्तन पानी लें और उसमें गुड़ की बराबर मात्रा में पानी डाल लें.

3.अब इस बर्तन में गुड़ के टुकड़े डाल दें और इस पानी को तब तक गर्म करें जब तक की गुड़ के सभी टुकड़े गल न जाएँ.

4.एक स्टील की छलनी लें और इस पानी को छान लें. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT सोंठ के लड्डू ...
जच्चा के लिए पौष्टिक हरीरा
जच्चा के लिए पौष्टिक हरीरा
5.अब एक कढाई लें और उसमें घी डालकर रख दें. जब घी पिघल जाएँ तो इसमें, हल्दी पाउडर, आजवायन पाउडर, सौंफ पाउडर, जीरा पाउडर डालें और इसे अच्छी तरह से भुन लें.

6.इसके बाद इसमें कटे हुए मेवों को डाल दें और हल्की आँच करके इन्हें भून लें.

7.                        अच्छी तरह से 2 या 3 मिनट तक भूनने के बाद इसमें गुड़ के मिश्रण को डालकर 2 – 3 बार उबाल लें.

8.अच्छी तरह से पकाने के बाद इसे अपनी उँगलियों चिपकाकर देखें. अगर यह चिपकने लाग जाएँ तो आपका हरीरा तैयार हैं.

हरीरा का सेवन कैसे करें (How to Eat Hareera)
हरीरा को बनाने के बाद इसे आप फ्रिज में रखकर 10 – 15 दिन तक आराम से खा सकते हैं. आप यह मिश्रण बनने के तुरंत बाद जच्चा को दे सकते हैं. यदि बच्चे को जन्म देने के 15 दिनों बाद तक हरीरा की 3 – 4 चम्मच का सेवन करने के लिए दिया जाए. तो इसको खाने से माँ की सेहत हमेशा ठीक रहती हैं, उसे कमजोरी महसूस नहीं होती. हरीरा का सेवन माँ दिन में दो बार भी कर सकती हैं. बच्चे की माँ के साथ ही हरीरा का सेवन घर के अन्य सदस्य भी कर सकते हैं. क्योंकि यह बेहद ही लजीज होता हैं.
Hareera ka Sevan Kaise Karen
Hareera ka Sevan Kaise Karen
हरीरा में मेवे और घी की मात्रा (Quantity of Dry Fruits And Ghee In Hareera)
हरीरा को बनाने के लिए आप अपनी इच्छानुसार मेवों की मात्रा को घटा या बढ़ा सकते हैं, इसके साथ ही यदि आपको अधिक घी पसंद हो हो तो आप इसे बनाने के लिए आधा कप तक घी डाल सकते हैं. अगर आप सर्दी के मौसम के लिए इसे गर्म तासीर का बनाना चाहते हैं. तो घी को पिघलाने के बाद इसमें पीपर पाउडर भी मिला लें और इसके बाद अन्य मसालों को डालकर भून लें.

हरीरा या माँ की सेहत के लिए अन्य पौष्टिक आहारों के बारे में जानने के लिए आप नीचे कमेंट तुरंत करके जानकारी हासिल कर सकते हैं.

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT