इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Makka Khayen Aur Shrir ko Svasth Banayen | मक्का खाएं और शरीर को स्वस्थ बनाएं

मक्की का आयुर्वेदिक प्रयोग (Aayurvedic Uses Of Corn)
मक्का की गिनती भी भारतीय अनाजों में की जाती हैं. इसकी खेती सम्पूर्ण भारत में की जाती हैं तथा पूरे भारत के लोग इसे खाना बहुत ही पसंद करते हैं. कुछ लोग इसे भूनकर खाते हैं तो कुछ मक्के के दानों की खिल खाना पसंद करते हैं. मक्का खाने में जितना स्वादिष्ट होता हैं उससे कहीं ज्यादा यह गुणकारी होता हैं. इसे खाने से वात, पित्त, कफ आदि रोग नष्ट हो जाते हैं. यह मधुर और रुचिकर होता हैं. इसीलिए इसका प्रयोग आप औषधि के रूप में विभिन्न प्रकार की समस्याओं से मुक्ति पाने के लिए कर सकते हैं. जिसकी जानकारी नीचे दी गई हैं -  CLICK HERE TO READ MORE ABOUT विलक्षण और गुणकारी औषधि इन्द्रायण ...
Makka Khayen Aur Shrir ko Svasth Banayen
Makka Khayen Aur Shrir ko Svasth Banayen 
1. शक्ति (Strength) यदि कोई छोटा बच्चा शारीरिक रूप से कमजोर हैं और उसके शरीर का विकास अन्य बच्चों की तुलना में कम हो रहा हैं. तो बच्चे के शरीर की शक्ति का विकास करने के लिए कुछ ताजे दुधिया मक्के लें. अब इन मक्कों के दाने निकाल लें और उन्हें पीस लें. इसके बाद एक काँच की खुली शीशी लें और उसमें पिसे हुए मक्के के दानों को भर दें. इसके बाद इस शीशी को धूप में रख दें. धूप में इस शीशी को रखने से इन दानों का दूध सुखकर उड़ जाएगा और शीशी में केवल मक्के का तेल बच जाएगा. अब धूप में सुखाने के बाद जो तेल मक्की के दानों में से निकला हैं. उससे रोजाना अपने बच्चे के शरीर की मालिश करें. इस तेल से बच्चे के शरीर की मालिश करने के बाद यदि बच्चे के पैर कमजोर और वो ठीक ढंग से चल नहीं पता हैं. तो कुछ ही दिनों में चलने लगेगा और उसके शरीर से कमजोरी दूर भाग जायेगी. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT शहद की बेहतरीन खूबियाँ और प्रयोग ...
मक्का खाएं और शरीर को स्वस्थ बनाएं
मक्का खाएं और शरीर को स्वस्थ बनाएं
2.खांसी (Cough) खांसी की समस्या होने पर भी आप भुट्टे का प्रयोग कर सकते हैं. खांसी से राहत पाने के लिए एक भुट्टा लें और उसे जला लें. इसके बाद जब भुट्टा जलकर राख में परिवर्तित हो जाएँ, तो इसकी राख को अच्छी तरह से पीस लें और इसमें सेंधा नमक मिलाएं. इसके बाद तीन - चार दिनों तक कम से कम एक चौथाई चम्मच की मात्रा में इस राख का सेवन एक गिलास पानी के साथ दिन में चार बार करें. आपको जल्द ही इससे लाभ होगा.  

3.पेशाब में जलन (Urine Irritation) यदि मूत्र में जलन होने के रोग से कोई व्यक्ति पीड़ित हैं तो इस रोग से जल्द मुक्ति पाने के लिए ताजे मक्के लें और इन्हें पानी में उबाल लें. अच्छी तरह से पानी में मक्के को उबालने के बाद इस मक्के को पानी में से छान कर अलग कर दें. अब थोड़ी सी मिश्री लें और इसे पानी में घोलकर इस पानी का सेवन करें. लगातार इस पानी का कुछ दिनों तक सेवन करने से मूत्र में जलन होने की समस्या से आपको छुटकारा मिल जाएगा.

Makka ke Achuk Fayde Laabh Benefits
Makka ke Achuk Fayde Laabh Benefits
4.  पत्थरी (Stone) पत्थरी एक बहुत ही गम्भीर रोग हैं. इस रोग से मुक्ति पाने के लिए भी आप मक्के का प्रयोग कर सकते हैं. मक्के का प्रयोग करने के लिए एक भुट्टा लें और थोड़ी सी जौ लें. अब इन दोनों को एक साथ जला लें और इनकी राख को इकठ्ठा कर लें. इसके बाद इस राख को एक शीशी में भर लें और रोजाना दो चम्मच राख को एक गिलास पानी में घोल कर पियें. राख को पानी में घोलकर पीने से धीरे – धीरे पत्थरी गलकर समाप्त हो जायेगी.

5.   टीबी (Tuberculosis ) यदि किसी व्यक्ति को कुछ समय पहले ही टीबी की बीमारी हैं तो इस बीमारी से जल्द मुक्त होने के लिए मक्के रोटी का सेवन अधिक करें.
 Bhutte se Pet ke Rogon ko Door Karen
 Bhutte se Pet ke Rogon ko Door Karen
6.पौष्टिक तत्व (Nutrients)  मक्के में पौष्टिक तत्वों की अधिक मात्रा पाई जाती हैं तथा अन्य पौषक तत्वों की तुलना में इसमें कर्बोहाइड्रेट तथा प्रोटीन की अधिक मात्रा उपस्थित होती हैं. आयुर्वेद के अनुसार एक भुट्टे में काफी कैलौरी होती हैं. जिसका सेवन करने के बाद शरीर की ऊर्जा की मात्रा बढ़ जाती हैं. इसके साथ ही इसमें खनिज तत्व तथा विटामिन्स भी समाहित होते हैं.

7.गुर्दे की कमजोरी (Kidney Weakness) अगर किसी व्यक्ति का गुर्दा कमजोर हो या उसे गुर्दे से सम्बंधित कोई रोग हो गया हो. तो इन दोनों ही समस्याओं से निजात पाने के लिए वह मक्के का सेवन कर सकता हैं. गुर्दे की कमजोरी को दूर भगाने के लिए एक ताजा मक्का लें और उसके दानों को निकाल लें. इसके बाद एक बर्तन में पानी डालें और उसमें मक्के के दाने डालकर उबाल लें. जब पानी में मक्की के दाने अच्छी तरह से उबाल जाएँ, तो इसे उतार लें और छान लें. अब एक गिलास में इस पानी को डालें और उसमें शहद या मिश्री मिलाकर इस पानी का सेवन रोजाना करें. गुर्दे से जुडी हुई सभी बीमारियां तथा कमजोरी ख़त्म हो जायेगी.

8.       पाचन तंत्र (Digestive System) मनुष्य के शरीर का पाचन तंत्र ठीक ढंग से सदैव कार्य करता रहे इसके लिए मक्के के दानों को भूनकर खाएं.
Makke ko Khakar Gurde ki Kamjori se Rahat Payen
Makke ko Khakar Gurde ki Kamjori se Rahat Payen
9.दांतों की दुर्गन्ध (Teeth Rot) अगर किसी व्यक्ति के दांतों में से बदबू आती हैं तो इस बदबू से छुटकारा पाने के लिए भूना हुआ भुट्टा खाएं. भूना हुआ भुट्टा खाने से दांत और मसूड़े मजबूत होंगे तथा मुंह से दुर्गन्ध भी नहीं आयगी.   
    
मक्के के औषधीय प्रयोगों के बारे में जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हैं.   

 Makki Ek Aayurvedic Aushdhi
 Makki Ek Aayurvedic Aushdhi
Makka Khayen Aur Shrir ko Svasth Banayen, मक्का खाएं और शरीर को स्वस्थ बनाएंमक्का, मक्की, भुट्टा, Makka ke Achuk Fayde Laabh Benefits, Makka ke Gunkari Prayog, Bhutte se Pet ke Rogon ko Door Karen, Makki Ek Aayurvedic Aushdhi, Bhune Hue Makke ko Khakar Gurde ki Kamjori se Rahat Payen, Makka, Bhutta, Corn Flakes




YOU MAY ALSO LIKE  

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT