इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Shree Raamcharit Maanas ke Siddh Mantra | श्री रामचरित मानस के सिद्ध मंत्र

श्री रामचरित मानस के सिद्ध मंत्र व नियम
श्री राम चरित मानस एक ऐसा धार्मिक ग्रन्थ है जिसे अवधी भाषा में महाकवि तुलसीदास ने सोलहवीं शताब्दी में लिखा था. रामचरित मानस में आपकी दैनिक दिनचर्या से जुड़े हर सवाल का जवाब है. दोहे व चौपायों के मिश्रण से बना ये ग्रन्थ यदि सिद्ध कर लिया जाए तो हर तरह से सार्थक व फलदायक है. CLICK HERE TO KNOW महामृत्युंजय मंत्र जप और कथा ...
Shree Raamcharit Maanas ke Siddh Mantra
Shree Raamcharit Maanas ke Siddh Mantra
रामचरित मानस के दोहे-चौपाइयों को सिद्ध करने का विधान :
श्री रामचरित मानस के दोहे व चौपाइयों को सिद्ध करने का विधान यह है कि इन्हें अष्टांग हवन से सिद्ध किया जाए. इसके लिए आपको सबसे पहले किसी शुभ दिवस का चुनाव करना होगा व रात्री दस बजे अष्टांग हवन से इन्हें सिद्ध करना होगा. आपको फिर जिस भी कार्य के लिए मंत्र जप की आवश्यकता हो, उसके लिए नित्य जप करना चाहिए. वाराणसी में भगवान शंकरजी ने मानस की चौपाइयों को मंत्र-शक्ति प्रदान की है, इसलिए वाराणसी की और मुख करके शंकरजी को साक्षी बनाकर श्रद्धा से जप करना चाहिए. CLICK HERE TO KNOW चमत्कारी सिद्ध शाबर मंत्र ...
श्री रामचरित मानस के सिद्ध मंत्र
श्री रामचरित मानस के सिद्ध मंत्र
अष्टांग हवन सामग्री :
1.चन्दन का बुरादा

2.तिल

3.शुद्ध घी

4.चीनी

5.कपूर

6.तगर
Shree Ram Charit Maanas ke Niyam Dodhe Chaupaayi Vidhaan
Shree Ram Charit Maanas ke Niyam Dodhe Chaupaayi Vidhaan
7.केसर

8.नागरमोथा

9.पञ्चमेवा

10.                चावल व जौ

11.                जल

12.                मिटटी
अष्टांग हवन विधि सामग्री
अष्टांग हवन विधि सामग्री
हवन करने हेतु जानने योग्य बातें :
·     हवन काल व हवन सिद्धि :
हवन काल एक दिन का होता है व इस हवन में जिस उद्देश्य हेतु जो चौपाई, दोहा अथवा सरौठा जप करना बताया गया है, उसे सिद्ध करने के लिए हवन सामग्री से एक सौ आठ बार हवन करना चाहिए.

·     शुद्ध मिटटी से बनाएं वेदी :
सबसे पहले शुद्ध मिटटी की वेदी बनाकर उस पर अग्नि रखें व उसमे आहुति दें. हर आहुति में चौपाई, दोहा इत्यादि बोलने के बाद मुंह से “स्वाहा” शब्द का उच्चारण करें. सब सामग्रियों को मिलाकर बनी आहुति में से प्रत्येक आहुति के लिए लगभग साढे सात ग्राम आहुति लेनी चाहिए.

·     पञ्चमेवा :
पञ्चमेवा में आप पिस्ता, बादाम, किशमिश, अखरोट, व काजू ले सकते हैं. इनमे से कोई चीज ना मिले तो उसके बदले मिश्री को जगह दे सकते हैं.
Sundar Baal Kaand
Sundar Baal Kaand
·     हवन के लिए माला :
हवन करते वक्त आपको एक सौ आठ तक संख्या गिनने के लिए माला अपने पास रखने की भी आवश्यकता होगी. बैठने का आसन कुश या उन से बना हुआ या सूती कपडे का बना हुआ व धुला हुआ आसन प्रयोग में लायें.

·     मंत्र की सिद्धि के लिए :
अपने मंत्र को सिद्ध करने के लिए यदि आप लंकाकाण्ड की चौपाई या दोहा जानते हैं तो उसे शनिवार को हवन करके करना चाहिए. लंका काण्ड को छोड़ कर बाकी का प्रत्येक काण्ड आप किसी भी दिन हवन करके सिद्ध कर सकते हैं.
Shree Ramchrit Manas
Shree Ramchrit Manas
·     रक्षा रेखा चौपाई :
यूं तो रक्षा रेखा खींचना अनिवार्य नहीं है पर फिर भी रक्षा चौपाई को सिद्ध करने के बाद आप उसे एक बार बोलकर अपने स्थान पर अपने आसन के चहुँ और चकौर रेखा खेंच दें. उस चौपाई को भी 108 आहुतियाँ देकर सिद्ध करें.

श्री रामचरित मानस के सुन्दर काण्ड, बाल काण्ड या श्री रामचरित मानस के किसी अन्य काण्ड के बारे में अधिक जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट कर जानकारी हासिल कर सकते है.
श्रीरामचरितमानस
श्रीरामचरितमानस
Shree Raamcharit Maanas ke Siddh Mantra, श्री रामचरित मानस के सिद्ध मंत्र, Shree Ram Charit Maanas ke Niyam Dodhe Chaupaayi Vidhaan, अष्टांग हवन विधि सामग्री, Sundar Baal Kaand, Shree Ramchrit Manas, श्रीरामचरितमानस



YOU MAY ALSO LIKE  
-  वास्तु अनुसार करें घर का निर्माण

वास्तु उपाय दिलायेंगे डायबिटीज से छुटकारा

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

2 comments:

  1. It is easy to chant the MANTRA but will any body do they HAVAN par for me? Or simplify then same for me.

    ReplyDelete
  2. hello, kya aap mujhe meri raksha k liye koi chaupai bata sakte hai pleasE??

    ReplyDelete

ALL TIME HOT