इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Adbhut Atulya Gaay ka Ghee | अदभुत अतुल्य गाय का घी | Amazing Incredible Cow Ghee

गौ घी का महत्व ( Importance of Cow Ghee )
गाय के बारे में हम सब जानते है और उन्हें माता की तरह पूजते है, माना जाता है कि गाय में सभी देवी देवताओं का वास होता है और उनके चरणों को धोने से चारों धाम की यात्रा का पुण्य मिलता है. अब ये सोचिएं कि जब गाय का जीवन में इतना महत्व है तो उनके दूध और दूध से निर्मित घी हमारे लिए कितना अधिक फायदेमंद होगा. गाय के घी की यही महिमा आज हम आपके साथ बाँट रहे है और आपको बता रहे है कि गाय के घी का सेवन आपको किन किन रोगों से दूर रखता है. CLICK HERE TO KNOW अमृत है गाय का पुराना घी ... 
Adbhut Atulya Gaay ka Ghee
Adbhut Atulya Gaay ka Ghee
§ लकवा व पागलपन ( Good for Paralysis and Insanity ) : अक्सर कहा जाता है कि गाय के घी को नाक में डालने से दिमाग तेज होता है जोकि सही भी है किन्तु ऐसा करने के अन्य फायदे भी होते है जैसेकि ये नाक की खुश्की को दूर करते हुए दिमाक को तरों ताजा रखता है और लकवे के रोग से मुक्ति दिलाता है. साथ ही जो लोग कोमा में होते है उनकी चेतना को वापस लाने के लिए भी उनकी नाक में देशी गाय के घी की 2 बुँदे अवश्य डाली जाती है. ये उपाय पागलपन और एलर्जी को दूर करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है.

§ अनिद्रा भगायें ( Treat Insomnia ) : बढती प्रतियोगिता की भावना और चिंता व्यक्ति का चैन और नींद दोनों छीन लेती है जिस कारन उन्हें अनिद्रा रोग अपना शिकार बना लेता है. इस अवस्था में उन्हें अपने नाक में रोजाना शाम को 2 बूंद गाय का घी डालना चाहियें व थोडा घी नाभि में लगाकर मालिश करनी चाहियें. इस तरह उन्हें अनिद्रा से भी छुटकारा मिलता है और वे प्रगाढ़ चैन की नींद सो पाते है.

§ पेट विकार ( Good for Stomach ) : आजकल सारा दिन कुर्सियों पर बैठना पड़ता है जिसे अनेक तरह के पेट विकार उत्पन्न हो जात है, कुछ लोग तो एसिडिटी और कब्ज से इतना परेशान होते है कि तरह तरह के चूर्ण प्रयोग करने लगते है. ऐसे लोगों के लिए सबसे सरल उपाय है कि वे अपने खाने में गाय का घी प्रयोग करना आरम्भ कर दें. उनकी समस्या पल भर में दूर हो जायेगी. CLICK HERE TO KNOW स्वस्थ शरीर पाने के लिए ध्यान दें ... 
अदभुत अतुल्य गाय का घी
अदभुत अतुल्य गाय का घी
§ कमजोरी दूर करें ( Gives Strength and Grow Power ) : गाय का दूध, घी और उनसे बने सभी खाद्य पदार्थ शक्ति वर्धक होते है इसलिए जब भी आप खुद को कमजोर महसूस करें तब आप एक ग्लास दूध लें और उसमें स्वादानुसार मिश्री और 1 चम्मच गाय का घी डालें और पी जाएँ. तुरंत आप खुद को उर्जावान और बलशाली महसूस करेंगे.

§ माइग्रेन ( Cure Migraine ) : माइग्रेन का दर्द आधासीसी के नाम से अधिक प्रचालित है, इस दर्द में पीड़ित के आधे सिर में लगातार दर्द बना रहता है. ऐसे रोगियों को खाने में गाय का घी देना चाहियें और उन्हें सोते वक़्त नाक में देशी गाय का देशी घी डालना चाहियें.

§ बलगम मिटायें ( Removes Cough ) : किसी भी तरह के छाती के रोग या त्वचा रोग में आप गाय के घी से छाती की मालिश करें, इस तरह उनकी छाती में जमा मलगम धीरे धीरे बाहर निकल जाएगा और छाती में आराम मिलेगा. ये उपाय वे लोग भी अपना सकते है जिन्हें कोई अन्य श्वास या छाती का रोग है.

§ हृदय मजबूत करें ( Strengthen Heart ) : आजकल अधिक मृत्यु का कारण हार्ट अटैक होता है. इसकी वजह सारा दिन चिंता करना, तला भुना मसालेदार खाना खाना और हृदय का कमजोर हो जाना होता है. किन्तु अगर आप रोजाना घी का सेवन करें तो इससे हृदय को मिलती है, दिमाग सशक्त होता है और वो हर समस्या का डट कर सामना करने के लिए तैयार होता है, नाकि निराशा के सागर में डूबता है.
Amazing Incredible Cow Ghee
Amazing Incredible Cow Ghee
§ कोलेस्ट्रोल कम करें ( Reduce Cholesterol ) : हृदय संबंधी रोगों की मुख्य जड़ है बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रोल. किन्तु कुछ लोगों का मानना है कि गाय का घी वजन बढ़ता है जबकि ये गलत है क्योकि गाय का घी तो वजन को संतुलित करता है और शरीर की अतिरिक्त चर्बी को खत्म करता है. इसमें कोलेस्ट्रोल की मात्रा नही होती. जो रक्त वाहिनियों के लिए भी उत्तम होता है.

§ आँखों की रौशनी बढायें ( Improve Eye Sight ) : अगर रोजाना सुबह खाली पेट और रात को सोने से पहले 1 चम्मच बुरा, 1 चम्मच गाय का देशी घी और ¼ चम्मच पीसी हुई काली मिर्च का मिश्रण लिया जाए और ऊपर से गर्मागर्म दूध पीया जाएँ तो इससे आँखों की रौशनी बढ़नी आरम्भ हो जाती है.

§ रक्त चाप नियंत्रित करें ( Control Blood Circulation ) : बढती समस्याओं में एक समस्या बढ़ता रक्त चाप भी है. इसलिये वे लोग जो उच्च रक्तचाप से परेशान है उन्हें तो सिर्फ गाय का घी ही खाना चाहियें. ये रक्त को शुद्ध भी करेगा और उसे नियंत्रित भी रखेगा. साथ ही इससे मुख्य त्रिदोष अर्थात वात पित्त और कफ़ भी दूर होते है.

§ सौराइशिस ( Psoriasis ) : वे व्यक्ति जो सौराइशिस से परेशान है उन्हें 1 ग्लास ठन्डे पानी में 1 चम्मच गाय का घी मिलाकर फेंटना है और और फिर उस पानी में से घी को अलग करना है. इस तरह दोबारा घी को पानी में मिलाकर फेंटना है और फिर घी को अलग करना है. इस तरह ये प्रक्रिया आपको 100 बार करनी है. उसके बाद आप इसमें थोडा सा कपूर भी डालें. जब घी तैयार होता है तो वो बहुत अधिक चमत्कारिक होता है. इसे आप किसी भी त्वचा संबंधी रोग पर मरहम की तरह लगाएं. वो कुछ ही दिनों में ठीक हो जाएगा.  
गौ घी का स्वास्थ्य में महत्व
गौ घी का स्वास्थ्य में महत्व
§ प्रदर रोग ( Leucorrhoea ) : स्त्रियों में प्रदर रोग आम हो चुका है. उन्हें छिलके वाले काले चने, बुरा और घी को मिलाकर लड्डू तैयार करने है और उन्हें रोजाना सुबह गाय के ही दूध के साथ खाली पेट खाना है. लड्डू की हर बाईट ( Bite ) के साथ आप एक घूंट दूध पियें. इस तरह स्त्रियों को शीघ्र ही प्रदर रोग में आराम मिलता है. वहीँ अगर कोई पुरुष इस उपाय को अपनाता है तो उसका शरीर सुडौल और बलवान होता है.

गाय के ऐसे गुणों को जानकर आप भी जरुर चौंक गए होंगे. तो अब देर ना करें और आप भी गाय के दूध का सेवन आरम्भ कर दें. साथ ही गाय के दूध के अन्य लाभ जानने के लिए आप तुरन्त नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो.  
Gau ke Ghee ke Chaukaa dene Wale Fayde
Gau ke Ghee ke Chaukaa dene Wale Fayde

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

1 comment:

ALL TIME HOT