इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

Ladkiyon ko Bhi Hota hai Svapn Dosh | लड़कियों को भी होता है स्वप्न दोष | Girls Women also have Wet Dreams

क्या स्त्रियों में भी होता है स्वपन दोष ( Do Women have Wet Dreams Too )
जी हाँ ये सच है महिलाओं लड़कियों को भी स्वपन दोष होता है, आज तक हम सब यही समझते थे कि सिर्फ पुरुष ही इस समस्या का शिकार होते है और शर्मिंदगी उठाते है किन्तु ये रोग स्त्रियों को भी अपना शिकार बनाता है. जैसाकि आप जानते ही है कि स्वप्न दोष युवा पीढ़ी को अधिक होता है और ये दर्शाता है कि अब उनका युवा की गुप्तांग ग्रंथियाँ परिपक्व हो चुकी है. उनके अंदर वो द्रव बनना आरम्भ हो चूका है जो उनके पौरुष बल का साबुत होता है. CLICK HERE TO KNOW श्वेत प्रदर रोग के कारण लक्षण और घरेलू उपचार ... 
Ladkiyon ko Bhi Hota hai Svapn Dosh
Ladkiyon ko Bhi Hota hai Svapn Dosh
जब किसी युवा को स्वप्न दोष होता है तो उसको कपड़ों पर गीलापन महसूस होता है और उसके कपड़ों और बिस्तर पर भी सफ़ेद रंग के निशान व दाग पड़ जाते है. ये दाग उन्हें उनके परिवार के सामने शर्मिन्दा करते है इसीलिए पूर्वी देशों ने इसे स्वप्न दोष का नाम दे दिया जबकि पश्चिमी देश इसपर कोई प्रतिक्रिया ही व्यक्त नहीं करते क्योकि उनका मानना है कि ये समय और शरीर में होने वाले बदलाव का एक परिणाम है जो सबके साथ होता है, इसलिए इस चीज को वे सामान्य आम दृष्टि से देखते है. पश्चिमी देशों के अनुसार स्वप्न दोष को वेट ड्रीम कहा जाता है जो इस रोग के लिए एक सही शब्द भी है.

स्वपन दोष ( Wet Dreams ) :
जब भी किसी युवा लड़के के मन में रात को सोते समय काम उत्तेजना या सोच बढ़ने लगती है तो उसके हार्मोन की प्रक्रिया तेज हो जाती है और उनके सोने के बाद उनके लिंग से स्खलन हो जाता है. यही प्रक्रिया लड़कियों में भी होती है किन्तु उनके स्खलन या स्वप्न दोष का पता इसलिए नहीं चलता क्योकि उनके गुप्तांगों व जननांगों की संरचना अंदर की तरफ होती है. स्वप्न दोष का समय रात के 3 बजे से 5 बजे के बीच होता है. CLICK HERE TO KNOW लडकियाँ स्वच्छता के लिए अपनाएँ पैंटी लाइनर ... 
लड़कियों को भी होता है स्वप्न दोष
लड़कियों को भी होता है स्वप्न दोष
जब किसी युवा के लिंग में इस तरह की उत्तेजना होती है तो उसके लिंग में रक्त संचार नियंत्रित हो जाता है, जो उसकी मांसपेशियों, उसके उतकों और लिंग के स्वास्थ्य के लिये अच्छा होता है. इसको आप लिंग की कसरत के रूप में भी देख सकते हो और जब लिंग अधिक उत्तेजित हो जाता है तो ये उसमें से निकलने वाले द्रव के भार को थाम नहीं पाता और स्खलन हो जाता है. ये सब कुछ प्राकृतिक होता है.

औरतों में स्वपन दोष ( Wet Dreams in Girls ) :
कुछ मनोचिकित्सकों ने शोध में पाया कि जब लडकियाँ या पत्नियाँ अधिक दिनों तक अपने पति से दूर  रहती है तो उन्हें काम का एक अजीब अहसास होता है जो उनसे बर्दाश्त नहीं होता, ये उनके शरीर में एक तीव्र काम इच्छा का संचार करता है और उनके अंदर शारीरिक संबंध बनाने की चाह पैदा करता है. अगर इसी इच्छा को दबाकर वे सो जाती है तो उठने पर उन्हें पता चलता है कि उन्हें स्वप्न दोष हो गया है. लड़कों की भाँती उनके कपड़ों पर कोई दाग नहीं होता और ना ही उन्हें शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है बल्कि उनके गुप्तांगों में अंदर गीलापन और चिकनापन हो जाता है, जिसे वो इस बात को समझ जाती है. 
Girls Women also have Wet Dreams
Girls Women also have Wet Dreams
शुरुआत में लड़कियों को इस बात का पता नहीं होता क्योकि उनके गुप्तांग अंदर की तरफ विकसित होते है. किन्तु जैसे जैसे वे बड़ी होती है उन्हें सब पता चल जाता है. उन्हें उनके गुप्तांगों में घर्षण के कारण भी स्वपन दोष होता है. ये घर्षण वे खुद भी कर सकती है, टाइट पैंटी पहनने से भी उन्हें घर्षण होता है, सोते वक़्त उनके पैरों के बीच घर्षण उनके गुप्तांगों में भी घर्षण करते है. इस तरह वे सोते हुए भी उत्तेजना महसूस करती है और उन्हें स्वप्न दोष हो जाता है. लडकियाँ अगर अधिक कल्पना भी कर लें तो वो भी उनके गुप्तांगों में गीलापन कर देता है.

स्वास्थ्य के लिए लाभदायी कामोत्तेजना ( Feeling of Physical Relation is Good for Health ) :
जब भी किसी लड़की के गुप्तांगों में उत्तेजना की वजह से घर्षण होता है तो इससे उनके अंगों में रक्तसंचार बढ़ता है जो उनके प्रजनन स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा माना जाता है. ये उनके काम अंगों को लचीला बनायें रखता है, जिससे वे किसी भी पुरुष के साथ शारीरिक संबंध बनाते वक़्त सहज महसूस करती है और इस तरह प्रजनन के दौरान उन्हें कम दर्द का आभास होता है.
औरतों में स्वपन दोष का कारण
औरतों में स्वपन दोष का कारण
स्वप्न दोष दोष है या नहीं ( Wet Dreams – Good or Not ) :
अधिकतर समाज इसी बात की तरफदारी करता है कि उन्हें अपने पौरुष बल और द्रव को संजोकर रखना चाहियें, उसे ऐसे ही व्यर्थ नहीं निकालना चाहियें. उनका मानना है कि इस तरह स्खलन से शारीरिक और मानसिक कमजोरी होती है. जबकि आधुनिक विज्ञान के अनुसार स्वपन दोष कोई दोष नहीं है, उनका मानना है कि जब शरीर में ये द्रव बढ़ जाता है तो वो बाहर निकलने के लिए रास्ता खोजता रहता है और जब काम भावना मन में आती है तो उसे निकलने का मार्ग मिल जाता है और वो बाहर आ जाता है. इसकी आप पानी की टंकी के साथ भी तुलना कर सकते हो जिसमें पानी भरने के बाद अतिरिक्त पानी अपने आप निकल जाता है.

कैसे रोकें ( How to Stop ) :
किसी भी चीज की अति हानिकारक ही होती है और अगर आप शारीरिक संबंधों के बारे में अधिक सोचते हो और अधिक अश्लील फ़िल्में देखते हो, अधिक मसालेदार, शराब, सिगरेट और खट्टी चीजें खाते हो तो इससे आपके अंदर बार बार उत्तेजना पैदा होती है और बार बार स्खलन होता है. इसलिए इन चीजों से बच कर रहें.

स्वपन दोष या किसी भी तरह के गुप्त रोगों के बारे में अधिक जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो
Wet Dreams are not for Men
Wet Dreams are not for Men

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT