इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Ghar ka Vaidh Ajvaayan | घर का वैध अजवायन | Multi Beneficial Parsley

अजवायन के उपयोग ( Use of Parsley )
अजवायन एक ख़ास प्राकृतिक एंटी ओक्सिडेंट है, जिसका महत्व सर्दियों में दोगुना हो जाता है. ये अनेक प्रकार से शरीर और स्वास्थ्य के लिए लाभदायी होता है, जंगली आजवायन से बना तेल सभी तेलों में श्रेष्ठ माना जाता है. अजवायन का प्रयोग करने वाले लोगों को मोटापे से छुटकारा मिलता है, उनकी प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत रहती है, श्वसन क्रिया सदा श्रेष्ठ बनी रहती है, मांसपेशियों और जोड़ों में कभी दर्द नहीं होता और त्वचा भी संक्रमण से बची रहती है. ये वात पित कफ़ से होने वाले विकारों से भी शरीर की रक्षा करती है. CLICK HERE TO KNOW हृदय और कैंसर रोग में पार्सले का प्रयोग ... 
Ghar ka Vaidh Ajvaayan
Ghar ka Vaidh Ajvaayan
अनेक गुणों से भरपूर एकलौती अजवायन ही है जो 100 अलग अलग तरह के खाद्य पदार्थों को पचाने  में सक्षम है. इसकी पत्तियों में ऐसे एंटी बैक्टीरियल गुण निहित होते है जो संक्रमणों से लड़ने की शक्ति प्रदान करते है. अजवायन की एक खासियत ये भी है कि इसमें राई की कटुता, लाल मिर्च की तेजी और हिंग लहसुन के गुण भी निहित होते है इसीलिए इसे सर्वगुण संपन्न माना जाता है. इसके इतने सारे लाभ और गुणों को देखते हुए ही इसे घर का वैध भी कहते है. किन्तु इसे वो लोग ध्यान से इस्तेमाल करें जिनकी प्रकृति गर्म है.

अजवायन एक लाभ अनेक ( Parsley with Many Benefits ) :
§ खून की सफाई ( Purifies Blood ) : अजवायन खून की सफाई के साथ साथ शरीर में रक्त प्रवाह को भी नियंत्रित रखता है. इसीलिए हर गर्भवती स्त्री को अजवायन जरुर खिलाई जाती है.

§ कान में दर्द ( Remove Ear Pain ) : अगर कोई व्यक्ति कान में दर्द से परेशान है तो उसे अजवायन के तेल की कुछ बूंदों को अपने काम में डालना चाहियें. इससे कुछ ही देर में उनके कान का दर्द दूर हो जाता है.

§ गुर्दे में दर्द ( Cure Kidney Problems ) : वहीँ गुर्दे में दर्द से परेशान व्यक्ति पीसी हुई अजवायन और गुड को समान मात्रा में लें और उसे दिन में 4 बार 1 1 चम्मच की मात्रा में खाएं.

§ रात में पेशाब ( Treat Urinate at Night ) : कुछ बच्चों को रात के समय बिस्तर पर पेशाब करने की बिमारी होती है ये बिमारी अन्य अनेक बीमारियों को भी बढ़ावा देती है. इसलिए इसे रोकना आवश्यक है इसके लिए आप उन्हें सोने से पहले ½ चम्मच अजवायन खिलाएं. CLICK HERE TO KNOW मेथी में मौजूद तत्व ... 
घर का वैध अजवायन
घर का वैध अजवायन
§ दाद खाज ( Ringworm and Mange ) : शरीर पर दाने निकलने या दाद हो जाने पर आप पानी में अजवायन को पीसकर गाढ़ा लेप तैयार करें और उसे दाद वाली जगह पर लगाएं, इससे उन्हें ठंडक मिलती है और अजवायन के तत्व उसे तुरंत ठीक करने में लग जाते है. कुछ दिन बाद ना दाद रहेगा और न ही उसका कोई निशान.

§ गठिया रोग ( Removes Joint Pain ) : आप अजवायन का चूर्ण बनायें और उसे एक पोटली में डालकर सेंकें. इसी पोटली से आप जोड़ों को भी सेंकें, तुरंत आराम मिलता है. इसके अलावा आप ½ कप अजवायन के रस में ½ चम्मच सौंठ मिलाएं और इसे पानी के साथ पी जाएँ. धीरे धीरे आपके जोड़ों में लचीलापन बढ़ता है और उन्हें शक्ति मिलती है.

§ उल्टी ( Vomiting ) : जब व्यक्ति अधिक शराब पी लेता है तो उसे उल्टियाँ होने लगती है, ऐसी स्थिति में उन्हें थोड़ी सी अजवायन खिला देनी चाहियें, इससे उनका नशा भी उतरता है और उनकी उल्टियाँ भी बंद होती है. अजवायन खिलाने के बाद आप उन्हें खाना दें ताकि उनके शरीर में खाने और पानी की कमी को पूरा किया जा सके.

§ पुरानी खांसी ( Chronic Cough ) : पुरानी खांसी की समस्या से पीड़ित लोग पान में अजवायन डलवाकर उसका सेवन करें, इसके साथ ही जब वे दोपहर में खाना खाएं तो 2 3 ग्राम अजवायन भी लें ताकि खानी सही से हजम हो सके और वे रोगमुक्त रह सके. वहीँ अजवायन और बेर के पत्तों को पानी में डालकर उन्हें उबालें और पानी से गरारे करें इससे सारा मलगम बाहर आता है और खांसी में आराम मिलता है.
Multi Beneficial Parsley
Multi Beneficial Parsley
§ आँतों के कीड़े ( Intestinal Worms ) : जैसाकि हमने पहले भी बता था कि इसमें एंटी बैक्टीरियल और एंटी ओक्सिडेंट तत्व निहित है जो इसे एक अच्छा कीटनाशक भी बनाते है. इसलिए पेट या आँतों में कीड़े होने पर आप इसे काले नमक के साथ लें. जल्द ही कीड़े मर जायेंगे और बाहर निकल जायेंगे. आप सामान मात्रा में अजवायन और गुड को मिलाकर उसकी गोलियाँ बनाएं और उसको दिन में 3 बार ग्रहण करें, ये उपाय भी शीघ्र आराम दिलाता है.

§ मसूड़ों में सुजन ( Swollen Gums ) : दांतों का स्वस्थ रहना अति आवश्यक होता है क्योकि दांतों व मुहँ से ही कीटाणु पेट में जाते है और उसे खराब करते है और जब पेट अस्वस्थ होता है तो शरीर में भी अनेक रोग उत्पन्न हो जाते है. दांतों और मसूड़ों को स्वस्थ रखने के लिए आप अजवायन को भुनें और उसका चूर्ण तैयार कर लें, इस चूर्ण को आप मंजन के रूप में इस्तेमाल करें. ये मसूड़ों के सभी रोगों को दूर करता है. इसके साथ ही आप 1 ग्लास पानी को गुनगुना कर उसमें अजवायन के तेल की कुछ बूंदें डाले और उस पानी से गरारे व कुल्ला करें. इससे भी मसूड़ों की सुजन कम होती है और वे स्वस्थ रहते है.
अजवायन के गुणों के अनेक लाभ
अजवायन के गुणों के अनेक लाभ
§ मोटापा घटायें ( Remove Obesity ) : मोटापा एक ऐसी समस्या है जिससे आज लगभग हर दुसरा व्यक्ति परेशान है, किन्तु आप अजवायन का प्रयोग कर अपने घर में ही मोटापे से छुटकारा पा सकते है इसके लिए आपको रात के समय 1 ग्लास पानी में कुछ अजवायन के दानों को भीगने के लिए रखना है. अगले दिन सुबह उठकर उस पानी को छानकर अलग करें और उसमें शहद डालकर पी जाएँ. कुछ दिन इस उपाय को लगातार अपनाएँ जल्द ही आपको आराम मिलेगा और आपके शरीर की सारी अतिरिक्त चर्बी खत्म हो जायेगी.

§ दमा ( Good in Asthma ) : आप बराबर मात्रा में अजवायन का रस और पानी मिलाएं और उसे दिन में 2 बार सुबह शाम ग्रहण करें इससे आपके फेफड़ों और श्वास नाली की सारी रुकावट दूर होती है और आप खुल कर सांस ले पाते हो. इस तरह ये दमे के रोगियों के लिए भी लाभदायी सिद्ध होता है.

§ मासिक धर्म में अनियमितता ( Removes Menstrual Irregularities ) : महिलाओं में ये समस्या दिन प्रतिदिन बढती जा रही है वे इस समस्या से बचने के लिए अजवायन का सहारा ले सकती है बस उन्हें भोजन करते वक़्त गुनगुने पानी के साथ थोड़ी सी अजवायन लेनी है.
Ajvaayan ka Upyog
Ajvaayan ka Upyog
§ एसिडिटी ( Acidity ) : एसिडिटी होने पर आप अजवायन और जीरे को समान मात्रा में लेकर पीस लें और उसे पानी में उबालें. अब आप पानी को छाने और उसमें चीनी या मिश्री मिलाकर पी जाएँ, आपको तुरंत एसिडिटी में राहत मिलती है.

§ पेट दर्द और गैस ( Stomach Disorder and Gastric Problems ) : जबकि पेट दर्द या गैस की होने पर आप अजवायन और अदरक के पाउडर को समान मात्रा में लें और उसमें थोड़ा काला नमक मिलाएं. तैयार मिश्रण को आप खाना खाने के बाद गुनगुने पानी के साथ 1 चम्मच की मात्रा में लें. ये गैस को सिर में चढ़ने से भी बचाता है.

§ मुंहासें ( Cures Acne ) : चेहरे पर किल मुंहासें किसे पसंद है, ये आपकी सुंदरता पर दाग की तरह होते है. इस स्थिति से बचने के लिए आप 2 चम्मच अजवायन के चूर्ण को 4 चम्मच दही के साथ मिलाकर रात को सोते समय अपने चेहरे पर मलें और अगले दिन प्रातःकाल उसे गर्म पानी के साथ साफ़ करें. जल्द ही आपको मुंहासों से निजात मिलती है.

अजवायन के ऐसे ही अन्य स्वास्थ्यवर्धक और अतुलनीय लाभों व रोगों में इसके प्रयोग के बारे में अधिक जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो.
Ajvaayan mein Hai Aushdhiya Gun Anek
Ajvaayan mein Hai Aushdhiya Gun Anek

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT