इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Amar Hone ka Rahasya Aaj Bhi Hai Dharti Par Maujud | अमर होने का रहस्य आज भी है धरती पर मौजूद | The Mystery or Secret to be Immortal is Still on Earth

अमरता ( Immortality )
अमर अर्थात जो कभी ना मर सके. हर व्यक्ति अपनी मृत्यु से डरता है और कोई नहीं चाहता कि वो अपने परिवार, दोस्तों और अपने शुभचिंतकों को छोड़कर चला जाए. उनकी यही सोच उन्हें अमर होने के सपने भी दिखाती है. लेकिन क्या अमर होना संभव है? अगर हाँ तो कैसे? जब भी अमर होने की बात आती है तो सबसे पहले जो घटना मन में आती है वो है समुद्र मंथन, क्योकि समुद्र मंथन के दौरान समुद्र से एक कलश निकला था जिसे अमृत कलश कहा गया. अमृत का बटवारा देवताओं में हुआ और वे अमर हो गये. CLICK HERE TO KNOW मिल गया गायब होने का फार्मूला ... 
Amar Hone ka Rahasya Aaj Bhi Hai Dharti Par Maujud
Amar Hone ka Rahasya Aaj Bhi Hai Dharti Par Maujud
किन्तु यहाँ जिस बात पर गौर करना है वो ये है कि समुद्र में कुछ ऐसा है जिससे अमृत निकलता है और जिसे हम भी निकाल सकते है. अब एक बात ये भी है कि चलो अमृत मिल गया हमने पी भी लिए तब क्या? इस वक़्त हम अधिकतम 100 वर्ष की आयु जी पाते है, उसी में रोग, क्लेश, झगडे, संताप  हमे इतना परेशान कर देते है तो अमर होने से क्या लाभ मिल जाएगा. महाभारत मुख्य ग्रंथों में से एक है उसमें श्री कृष्ण जी ने श्री मद भागवत गीता का भी वर्णन किया है. साथ ही महाभारत के अनुसार 7 ऐसे व्यक्ति भी है जिन्हें अमरता प्राप्त है अर्थात जो चिरंजीवी है.

महाभारत के 7 चिरंजीवी व्यक्ति ( 7 Immortal Persons According to Mahabharata ) :
-    बजरंग बली हनुमान जी

-    परशुराम

-    महर्षि वेदव्यास

-    अश्वत्थामा

-    राजा बलि

-    विभीषण और

-    कृपाचार्य

-    ऋषि मार्कंडेय ( अनेक विद्वानों का ये मानना है कि मार्कंडेय जी भी चिरंजीवी है ) CLICK HERE TO KNOW यहाँ मौजूद है टाइम मशीन का रहस्य ... 
अमर होने का रहस्य आज भी है धरती पर मौजूद
अमर होने का रहस्य आज भी है धरती पर मौजूद
अमर होने के लिए मंत्र ( Mantra for Immortality ) :
सभी का मानना है कि ये सभी अपने युग से ही इस धरती पर वास करते है लेकिन विज्ञान या तर्क ये कहता है कि ऐसा संभव ही नहीं. कुछ लोग मानते है कि हिमालय में ऐसे बूटियां है जो अमर बना सकती है तो कुछ का मानना है कि हिमालय में रहने से तो उम्र अधिक शीघ्रता से बढती है. लेकिन ये तो सत्य है कि धर्मग्रंथों में अनेक ऐसे मंत्र है जिनसे अमरता पायी जा सकती है और उन्ही मन्त्रों का जप करके अनेक असुरों ने भी खुद को अमर करने की कोशिश की लेकिन देवों की चतुराई ने उन्हें अमरता का वरदान न देखकर कुछ अन्य शक्तिशाली वरदान दे दिए थे. इन्ही सब मन्त्रों में सबसे प्रसिद्ध मंत्र है महा मृत्युंजय मंत्र. माना जाता है कि ये एक ऐसा मंत्र है जिससे अमरता पाना संभव है, इसका प्रयोग कर ऋषि मार्कंडेय जी ने भी अपनी मृत्यु टाली और अमर बने.

हमारे हर वेद, पुराण, गीता, महाभारत, योग या फिर आयुर्वेद इत्यादि सभी में अमर होने के साधन और उपायों को बताया गया है. आयुर्वेद में कायाकल्प की एक विधि है वो भी इसी पर आधारित है. अब कोई वैज्ञानिकों से पूछने वाला हो तो उनसे पूछे कि इतने सारे संकेत होने के बाद भी वे कर क्या रहें है?
The Mystery or Secret to be Immortal is Still on Earth
The Mystery or Secret to be Immortal is Still on Earth
अमरता की कथा ( Stories of Being Immortal ) :
अमरता को लेकर अनेक कथायें है जैसेकि मार्कंडेय जी की है किन्तु उसका तो पता है कि वे महामृत्युंजय मंत्र के कारण अमर हुए थे. लेकिन सती सावित्री – सत्यवान कथा का क्या? उन्होंने तो किसी मंत्र का जाप नहीं किया और ना ही यमराज जी ने सत्यवान को अमृत पिलाकर जीवित किया. तो ऐसा क्या था कि मृत व्यक्ति भी जीवित हो गया? कहने का अर्थ ये है कि सावित्री या यमराज जी के पास जरुर कोई ऐसी विधि या प्रक्रिया रही होगी जिसके कारण मृत व्यक्ति को वापस जीवित किया जा सकता है. अगर ये संभव है तो वैज्ञानिकों को तुरंत उसका पता लगाने के बारे में विचार करना चाहियें.

इम्मोर्टल जेलीफिश और अमरबेल ( Immortal Jellyfish and Dodder ) :
इम्मोर्टल जेलीफिश और अमरबेल में एक ख़ास बात है कि ये दोनों कभी नहीं मरती अर्थात अमरबेल अपनी कायापलट कर लेती है किन्तु ज़िंदा बनी रहती है. वहीँ समुद्र में पायी जानी वाली इम्मोर्टल जेलीफिश भी तकनिकी रूप से अमर है क्योकि जैसे ही वो वृद्ध होती है तो दोबारा से अपने बाल्यकाल में चली चली जाती है. वो बात अलग है कि उसकी कोई हत्या कर दे या कोई दूसरी मछली उसे खा जाए, तब तो उसका मरना निश्चित है किन्तु वैसे वो कभी नहीं मरती. अगर मछलियों में ये क्षमता है तो क्या वो मनुष्यों में नहीं हो सकती?
अमरता के मंत्र और अमृत कलश
अमरता के मंत्र और अमृत कलश
वैज्ञानिक सफलता ( Scientific Success ) :
लगभग हर देश के वैज्ञानिक इस बात को सुनिश्चित करने में लगे है कि किसी तरह से अमर रहा जा सके और इस रहस्य से पर्दा हटे, हालाकिं अभी पूरी तरह से तो सफलता नहीं मिलती है किन्तु कुछ देशों का मानना है कि जंगलों की एक औषधि जिंगसिंग से ऐसी गोलियां बनाई जा सकती है जो उम्र को बढ़ने नहीं देती. इसके अलावा अब योग और आयुर्वेद पर भी गहन चिंतन चल रहा है कि वहीँ से अमरता के रहस्य से पर्दा उठ सके.

अखबारों के रिव्यु ( Newspaper Reviews ) :
अख़बारों में भी कई बार लोगों ने प्रकाशित किया है कि आने वाले कुछ वर्षों में लोगों के जीवन काल को बढ़ा पाना संभव हो जायेगा. वहीँ एक चिकित्सक का कहना है कि उन्हें पूरा भरोसा है कि मौजूदा रिसर्च जल्द ही इस काबिल हो जायेगी कि मनुष्य के जीवन को कम या अधिक किया जा सकेगा. कुछ साइंटिस्ट का कहना है कि अगर हम ये पता लगा लें कि वे कौन से हार्मोन और सेल कोशिकाएं है जो उम्र बढ़ाती है तो उनकी ग्रोथ को कम करके अमर हुआ या वृद्ध होने से बचा जा सका है. इसके अलावा भी अनेक इंटरव्यू हुए और अनेक लोगों ने बहुत कुछ कहा किन्तु आज भी अमरता का रहस्य एक अनसुलझा रहस्य ही है.

दुनिया के ऐसे ही अन्य अनसुलझे रहस्यों के बारे में अधिक जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो
Mahabharat ke 7 Amar Vyakti
Mahabharat ke 7 Amar Vyakti

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT