इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

Real Estate Service

Cat and Mouse Tale A Political Story - कभी मित्र कभी घोर शत्रु एक चूहे बिल्ली की कहानी Chuhe Billi ki Kahani

कभी मित्र कभी घोर शत्रु  एक चूहे बिल्ली की कहानी - Cat and Mouse Tale A Polotical Story - Chuhe Billi ki Kahani आजकल बहुत बड़ा भोचाल आ...

Ruka hua ya Fansa Hua Dhan Prapt karne ka prayog | रुका हुआ या फंसा हुआ धन प्राप्त करने का प्रयोग

रुका हुआ धन प्राप्ति हेतु प्रयोग

कई बार हमारा कोई मित्र या रिश्तेदार परेशानी में होता है और उसकी परेशानी पैसो से दूर हो सकती है. उस समय तो हम उनको पैसे पैसे देकर उनकी परेशानी दूर कर देते है लेकिन कुछ समय बाद जब हमें उन् पैसों की जरुरत होती है तो वे लोग पैसे देने में आना-कानी करते है. इस वजह से परेशानी और बढ़ जाती है और जिस काम के लिए पैसा चाहिए वो काम भी अधुरा ही रह जाता है. उन सभी लोगो के लिए जो इस समस्या से पीड़ित है, उनके लिए यह प्रयोग बहुत ही लाभकारी है और आप इसे अपना कर अपने फंसा हुआ धन वापस ला सकते है. इस प्रयोग में आपको कुछ सामग्री को जरुरत होती है जो इस प्रकार है :
 CLICK HERE TO READ MORE SIMILAR POSTS ...
How to get lend money
How to get lend money

 सामग्री :

 मंत्र सिद्धि प्राण - प्रतिष्ठित युक्त , '' पारद शिवलिंग '' और एक बर्तन ले जिसमे पानी रखा जा सके. इसके अलावा लकड़ी से बना बाजोट और साथ में एक सफ़ेद रंग का कपड़ा भी ले. इनके साथ और भी बहुत सी चीजे है जो आपको साथ रखनी है इनमे आक , धतूरा , अष्टरागंध , विल्वपत्र , पंचामृत, धुप, अगरबती, चमेली की महक वाला इत्र, चावल (टूटे हुए ना हो ), एक थाली गंगाजल, और एक घी का दीपक शामिल है. 


एक मंत्र सिद्धि चैतन्य या शुद्ध रुरक्ष से बनी माला ले. प्रयोग के समय पीले रंग का वस्त्र (धोती) पहन ले और काले रंग के कम्बल से आसन बना ले. आप दक्षिण दिशा की तरफ अपना मुख रखे. इस प्रयोग को मंगलवार के दिन करे. इसका जाप रात्रि के समय करना है और इसके ग्यारह दिन तक 21000 जाप करने है.
 
Ruka hua ya Fansa Hua Dhan Prapt karne ka prayog
Ruka hua ya Fansa Hua Dhan Prapt karne ka prayog

मंत्र :

'' ॐ नमः क्लीं कालिके कालिकाय काली महाकाली कालिके भूताय क्लीं नमः ''


प्रयोग :

जैसा कि आपको पहले भी बताया गया है कि ये प्रयोग आपको मंगलवार को करना है. उस दिन सबसे पहले तो आप स्नान कर ले. स्नान के बाद ध्यान से पीले रंग का वस्त्र ही पहने और बैठने के लिए ऐसा स्थान चुन ले जहाँ एकांत हो. ऐसी जगह ना बैठे जहाँ ज्यादा शोर हो या भीड़ हो. इसके अलावा अपने मुख को दक्षिण की तरफ ही रखे. जो आसन अपने लगाया हुआ है उस पर बैठ जाये और लकड़ी के बाजोट को लेकर उस पर सफ़ेद रंग का कपडा बिछा दे. अब इस पर थाली रख दे और थाली में अष्टरागंध से स्वास्तिक निशान बना ले. अब इसके बाद मंत्र सिद्धि चैतन्य प्राण प्रतिष्ठा युक्त '' पारद शिवलिंग को उसमे स्थापित कर ले और उस पर जलाभिषेक कर दे. उसके बाद पंचामृत ले और उसका भी जल से अभिषेक कर दे. इसके बाद जो सामग्री आपके पास है उसमे से आक, धतूरे के फूल, और बिल्व पत्र भी चढ़ा दे और इसके बाद घी का दिया जला दे. दिये के साथ धुप भी जला दे. इसके बाद जाप शुरू कर दे. सिद्धि चैतन्य माला या रुद्राक्ष माला का मंत्र के साथ 11 दिनों तक 21000  जाप पुरे करे. साधना करते समय आप सात्विक भोजन ले और ब्रह्मचर्य का पालन भी करते रहे. जब तक आपकी साधना पूरी नहीं हो जाती बाहर नहीं जाये घर पर ही रहे. जब आपकी साधना पूरी हो जाये तो उसके बाद अगले दिन 11 कुंवारी कन्याओं को भोजन कराएं और उनको भेंट पूजा देकर विदा कर दे. इसके बाद जो पारद शिवलिंग आपके पास है उसे पूजा की जगह रख दे. इसके अलावा जो पूजा सामग्री बची हुई है उसे शिव मंदिर में दे दे. ऐसा करने से आपका प्रयोग पूरा हो जायेगा और आपको अपना फंसा हुआ पैसा वापस मिल जायेगा. इससे आपके रुके हुए काम भी पुरे होंगे और आप चिंतामुक्त हो जायेंगे.
 
रुका हुआ या फंसा हुआ धन प्राप्त करने का प्रयोग
रुका हुआ या फंसा हुआ धन प्राप्त करने का प्रयोग


Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT