इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Stamina Bdhane ke Upay | स्टेमिना बढ़ाने के उपाय | Ways to Grow Stamina

सहनशक्ति को बढायें ( How to increase Stamina )
खेलो में सहनशक्ति ( Stamina ) से अभिप्राय आपकी क्षमता से होता है कि आप कितनी देर तक खेल सकते हो या व्यायाम कर सकते हो, साथ ही सहनशक्ति में ये देखा जाता है कि आप अपनी क्षमता को पार कर सकते हो या नही. हर खेल में सहनशक्ति की जरूरत होती है, किन्तु उनमे से कुछ ऐसे है जिनमे बाकी खेलो से बहुत ज्यादा स्टेमिना की जरूरत होती है जैसेकि मैराथन और दौड़. कहा जाता है कि हर Athletes की शारीरिक क्षमता में सहनशक्ति का चरम सीमा में होना बहुत जरूरी होता है क्योकि इनके ह्रदय, फेफड़े और शरीर की सारी मांसपेशी बाकी व्यक्तियों से अधिक कार्य करती है. अगर खिलाडी में सहनशक्ति होगी तो ही वो अपने खेल में अच्छी तरह से मन लगा पता है और उसके खेल में नतीजे भी अच्छे आते है. स्टेमिना को आप अन्य उर्जा के रूप में देख सकते हो क्योकि यही अन्य उर्जा आपको आपकी क्षमताओं को हराने में कार्य आती है और आपके अंदर आत्मविश्वास को बढाती है.

स्टेमिना बढ़ाने के लिए जीवन शैली में बदलाव जरूरी होता है. जिसके लिए आपको अच्छे खान पान, आदतों और व्यायाम आदि को अपने जीवन में अपनाना होता है. तो आओ जानते है कि आप अपनी जीवन शैली में बदलाव करके स्टेमिना को कैसे बढ़ा सकते हो. CLICK HERE TO READ MORE SIMILAR POSTS ...
स्टेमिना बढ़ाने के उपाय
स्टेमिना बढ़ाने के उपाय
§  आहार : हमारी कार्यक्षमता को बढ़ाने के लिए व्यक्ति के जीवन में आहार एक अहम भूमिका निभाता है, संतुलित आहार व्यक्ति के शरीर में तेजी से उर्जा का संचार करता है और शरीर की हर जरूरत को पूरी करता है. इसीलिए कहा जाता है कि व्यक्ति की सेहत उसके खानपान पर ही निर्भर करती है. संतुलित आहार के लिए आहार में कम वसा वाले फल और सब्जी को शामिल करना चाहियें. इससे शरीर स्वस्थ रहता है और शरीरिक और मानसिक सहनशक्ति में वृद्धि है.

§  व्यायाम :  स्टेमिना को बढ़ाने के लिए व्यायाम को सबसे प्रभावी समाधान माना जाता है. व्यायाम करते वक़्त व्यक्ति अपनी उर्जा का अधिक उपयोग करता है जिसके कारण उन्हें थकान होने लगती है किन्तु प्रतिदिन व्यायाम करने से आपको थकान महसूस होनी बंद हो जाती है जिससे आपके स्टेमिना को बढ़ाने में मदद मिलती है. व्यायाम करने से आप एक तरह से अपनी थकाने के समय की सीमा को बढ़ा लेते हो. इससे आपको लम्बे समय तक कार्य करने के लिए शक्ति मिलती है.

§  पसंदीदा कार्य करें : अगर आप साइकिल चलाना या पैदल चलना पसंद करते हो तो ये आपके स्टेमिना को बढ़ाने में आपकी मदद करता है. साइकिल चलाने में आनंद तो आता ही है साथ ही आपका स्टेमिना भी बढ़ने लगता है इसलिए आपको प्रतिदिन कुछ मील साइकिल जरुर चलनी चाहियें. साइकिलिंग करते वक़्त आप लम्बे लम्बे सांस लेंते हो जिससे आपके फेफड़ो में अधिक से ऑक्सीजन जाती है और आपके शरीर में रक्त संचार में भी बढ़ोतरी होती है. इससे आपका शरीर स्वस्थ रहता है और आपको थकान महसूस नही होती.

§  सकारात्मक सोचें : सकारात्मक विचार और सोच जीवन के हर क्षेत्र में सफलता दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है. ये आपकी संकल्प शक्ति और आपकी प्रेरणा को बढ़ाने में मदद करती है. सकारात्मक विचार होने से आपको खुद पर भरोसा रहता है, साथ ही आप अपने लक्ष्य पर भी ध्यान केन्द्रित कर पते हो. स्टेमिना को बढ़ाने में भी सकारात्मकता अनेक तरह से मदद करती है जैसेकि स्टेमिना बढ़ाने में आपको अनेक तरह की मुश्किलों और बाधाओं का सामना करना पड़ता है, तो उन बाधाओं को पार करने के लिए एक संकल्प की जरूरत होती है और वो संकल्प आपको आपकी सकारात्मक सोच से ही प्राप्त होता है. CLICK HERE TO READ MORE SIMILAR POSTS ...
Stamina Bdhane ke Upay
Stamina Bdhane ke Upay
§  नशे से दूर रहे : चाहे धुम्रपान हो, शराब हो या कोई और नशा, ये आपके शरीर को दूषित करता है. धुम्रपान से आपके फेफड़ो में धुंआ भर जाता है और वो आपके फेफड़ो को कमजोर बनाता है, उसी प्रकार शराब में एसिड होने के कारण वो आपके शरीर के अंदर के हर हिस्से को गला देती है. जिससे आपका स्वास्थ्य प्रभावित होता है और आपको अनेक तरह की बीमारियों का सामना करना पड़ता है. तो आपको स्टेमिना बढ़ाने के लिए इस तरह की बुरी आदतों को त्यागना होगा.

§  आराम करें : किसी भी कार्य को करने में उर्जा का इस्तेमाल होता है, जिससे शरीर में थकान का होना स्वाभाविक होता है. उर्जा को तो आप अच्छा आहार लेकर वापस प्राप्त कर सकते हो किन्तु थकान को दूर करने के लिए आपका उचित आराम करना भी बहुत जरूरी है. ताकि आप अगले दिन भी ताजा महसूस कर अपने स्टेमिना बढ़ाने के प्रयासों को आगे बढ़ा सको. इसलिए आपको एक अच्छी नींद की बहुत जरूरत होती है ताकि आप दिनभर सक्रिय रह सको.

§  बिमारियों से बचें : बार बार बीमार होना आपके स्टेमिना में कमी का कारण बन जाता है. इसलिए आप जितना अधिक हो सके बिमारियों से दूर रहने की कोशिश करें. खासतौर पर छोटी छोटी बिमारियों से जैसेकि जुकाम. ये आसानी से फैलता है. इसके लिए आप खुद को साफ रखे और अपने हाथो से अपनी नाक और आँखों को ना छुएं. हो सके तो आप अपने कप, पैन और फ़ोन को जुखाम से संक्रमित व्यक्ति के साथ न बाँटें.


§  क्रॉस प्रशिक्षण : इसका अर्थ है कि आप स्टेमिना बढ़ाने के प्रयासों के साथ साथ कुछ ऐसे कार्य भी करें जिन्हें आपको अच्छा लगे और चिंता मुक्त रह सको. इसके लिए आप तैराकी कर सकते हो क्योकि तैराकी को शरीर की थकान को दूर करने का एक अच्छी क्रिया माना जाता है. ये आपके स्टेमिना के प्रदर्शन को सुधारने में भी आपकी मदद करता है. इसके साथ ही आप संगीत भी सुन सकते हो. संगीत सुनने से आप बोर होने से बचते हो.
Ways to Grow Stamina
Ways to Grow Stamina
Stamina Bdhane ke Upay, स्टेमिना बढ़ाने के उपाय, Ways to Grow Stamina, How to Increase Stamina, Positive Thinking for Best Stamina, Full Rest or Cross Training, Stamina Kaise Bdhayen, Sahanshakti me Vriddhi Layen, Stemina ka Mahatv, स्टेमिना कैसे बढायें



YOU MAY ALSO LIKE  

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT