इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Bhulne ki Bimari ka Anokha Ghrelu Ilaj | भूलने की बिमारी का अनोखा घरेलू ईलाज | Unique Treatment of Amnesia

भूलने की बिमारी (Amnesia)
हर व्यक्ति के जीवन में एक समय आता हैं. जब व्यक्ति वृद्ध हो जाता हैं और उसकी याददाश्त कमजोर हो जाती हैं और व्यक्ति सब कुछ भूलने लगता हैं. ऐसी स्थिति में व्यक्ति कुछ समय पहले उसने क्या किया या उसे क्या जरूरी काम करना था. वह सब कुछ भूल जाता हैं. जिससे बहुत महत्वपूर्ण काम भी समय पर पूर्ण नहीं हो पाता. यदि आपके घर में कोई वृद्ध व्यक्ति हैं. तो उनकी भूलने की बिमारी को ख़त्म करने के लिए आप निम्नलिखित उपचारों को आजमा सकते हैं. इन उपचारों का प्रयोग आप वृद्ध अवस्था की भूलने की बिमारी से बचने के लिए भी कर सकते हैं. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT जोड़ों का दर्द दूर करने के घरेलू प्राकृतिक उपचार ...
Bhulne ki Bimari ka Anokha Ghrelu Ilaj
Bhulne ki Bimari ka Anokha Ghrelu Ilaj


शहद और कलौंजी
1.    भूलने की बिमारी को दूर करने के लिए थोडा शहद लें और 5 ग्राम कलौंजी लें.

2.    अब कलौंजी को पीस लें.

3.    इसके बाद पीसी हुई कलौंजी के चुर्ण में थोडा शहद मिलाएं और इसका सेवन करें.

यदि आप रोजाना सुबह कलौंजी के चुर्ण का प्रयोग करेंगे. तो आपको भूलने की इस बिमारी से छुटकारा मिल जाएगा. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT महिलाओं में पीठ दर्द का देशी आयुर्वेदिक उपचार ...


भूलने की बिमारी का अनोखा घरेलू ईलाज
भूलने की बिमारी का अनोखा घरेलू ईलाज
सोंठ, कुदरू का गूदा तथा नागरमोथा
1.    भूलने के रोग से मुक्ति पाने के लिए 30 ग्राम सोंठ लें, 30 ग्राम कुदरू का गूदा लें और 30 ग्राम नागरमोथा लें.

2.    अब इन तीनों को एक साथ मिलकर पीस लें और एक बारीक़ चुर्ण तैयार कर लें.

3.    अब एक गिलास पानी लें और इसके साथ सौंठ, नागरमोथा तथा कुदरू के चुर्ण को फांक लें.

रोजाना सुबह इस चुर्ण को एक साथ पानी के साथ फांकने से आपकी भूलने की बिमारी ठीक हो जायेगी.

कालीमिर्च और ब्रहमबूटी
1.    भूलने की बिमारी से निजात पाने के लिए 5 ग्राम कालीमिर्च के दाने लें और 50 ग्राम ब्रह्मबूटी लें.

2.    अब इन दोनों को एक साथ मिलाकर खूब महीन पीस लें.
Unique Treatment of Amnesia
Unique Treatment of Amnesia


3.    अब कालीमिर्च और ब्रह्मबूटी के इस चुर्ण को छान लें.

4.    चुर्ण को छानने के बाद 3 ग्राम दूध या पानी लें और इसके साथ इस चुर्ण का सेवन करें. पानी या दूध के साथ चुर्ण को खाने से आपकी भूलने की बिमारी जल्द ही ठीक हो जायेगी.

जवासे की जड़
1.    भूलने के रोग से पीड़ित व्यक्ति इस बिमारी के निदान हेतु जवासे की जड का भी प्रयोग कर सकता हैं. जवासे की जड़ का प्रयोग करने के लिए 25 ग्राम जवासे की जड लें और इसे छाया में सुखा दें.

2.    जब जवासे की जड़ अच्छी तरह से सुख जाएँ तो इसे मोटा – मोटा कूट लें.

3.    अब एक बर्तन में 250 मिली. पानी डालें तथा इस पानी को उबालने के लिए रख दें और इसमें जवासे की जड का पाउडर डाल दें.
Smaran Shakti Badhane ke Upay
Smaran Shakti Badhane ke Upay


4.    अब पानी को तब तक उबालें जब तक की बर्तन में पानी आधा शेष न रह जाएँ.

5.    अच्छी तरह से जवासे की जड़ को पानी में उबालने के बाद पानी को उतार कर छान लें और इसमें एक चम्मच घी मिला कर पी लें.

यदि आप नियमित रूप से इस पानी का एक सप्ताह तक सेवन करेंगे तो आपको इस रोग से मुक्ति मिल जायेगी.

भूलने की बिमारी से छुटकारा पाने के अन्य उपायों को जानने के लिए आप नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हैं.
कमजोर  याददाश्त से छुटकारा कैसे पायें
कमजोर  याददाश्त से छुटकारा कैसे पायें




Bhulne ki Bimari ka Anokha Ghrelu Ilaj, भूलने की बिमारी का अनोखा घरेलू ईलाज, Unique Treatment of Amnesia, भूलने का रोग, Smaran Shakti Badhane ke Upay, Kamjor Yadadaasht ke Upchar, Smriti Badhane ke Tips, कमजोर  याददाश्त से छुटकारा कैसे पायें

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT