इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Buri Nazar ke Lakshan ya Upay | बुरी नजर के लक्षण और उपाय

नजर बाधा के लक्षण (Symptoms of Najar Badha)
1.    फैक्ट्री या कम्पनी (Factory, Company) - जैसे कोई व्यक्ति फैक्ट्री का मालिक हो और वह अपनी फैक्ट्री में कार्य करने वाले मजदूरों से गलत व्यवहार करें, उसका मन कार्यस्थल पर न लगे, फैक्ट्री में जाने का मन न करें या कुछ ऐसी परिस्थितियां पैदा हो जाए कि अचानक ही फैक्ट्री बंद हो जाए. ये सभी नजर बाधा के लक्षण हैं.

2.    दुकानदार (Shopkeeper) - ऐसे ही कोई दुकानदार अपने ग्राहकों से अनावश्यक बातों पर तर्क – वितर्क करने लगे, उससे किसी भी मुद्दे पर बहस करने लगे, दूकान में उसे शारीरिक तथा मानसिक तनाव महसूस होने लगे, वह इतना परेशान हो जाए कि उसके मन में दूकान को बेचने के ख्यालात आने लगे. तो आपको समझ जाना चाहिए कि दूकान को चलाने वाले व्यक्ति पर जरूर बुरी नजर का प्रभाव हैं. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT बुरी नजर से बचने के टोने टोटके ...
Buri Nazar ke Lakshan Or Upay
Buri Nazar ke Lakshan Or Upay
3.    नौकरी (Job) – यदि कोई व्यक्ति किसी स्थान पर नौकरी करता हैं, वह उसका रोजाना कार्यालय जाने का मन न हो, कार्यालय में अपने सहकर्मियों के साथ मतभेद हो, कार्यालय में कार्य करते हुए उसे अधिक परेशानी हो तथा उसका मन कार्यालय के काम में न लगे. ये सभी लक्षण नजर बाधा के हो सकते हैं.

4.    घर (Home) यदि किसी घर का बनता हुआ कार्य बिगड़ जाएँ, घर में आर्थिक तंगी की स्थिति उत्पन्न हो जाएँ, घर के होशियार व योग्य बच्चों के कार्यों में अड़चन आ जाये, घर के सभी सदस्यों की किसी विशेष मुद्दे पर सहमती न बने, जिसके कारण आपस में झगड़ा तथा तर्क – वितर्क होने लगे, घर के किसी सदस्य की तबियत एक दम से ख़राब हो जाए और उसे रोग से ग्रस्त होने के कारण अधिक दर्द हो, वह हमेशा निराश रहने लगे. ये सभी बुरी शक्तियों के दुष्प्रभाव के लक्षण हो सकते हैं.

5.    घर का वातावरण (Home Environment) अगर किसी घर के प्रवेश द्वार पर हमेशा कूड़ा – करकट फैला रहें, पूजा स्थल पर भगवान की अराधना करते समय अचानक ही जलता हुआ दीपक, धूप, अगरबत्ती बुझ जाएँ, पूजा के वक्त या भोजन के वक्त घर में अशांति हो. तो आपको अपने घर के प्रति अधिक सतर्क रहने की आवश्यकता हैं.

6.    व्यक्ति (Person)– एक ऐसा व्यक्ति जो काफी बुद्धिमान हैं और उसे हर कार्य में सफलता हासिल होती हैं. उस व्यक्ति को एकाएक अपने करीबी व्यक्तियों से अपमानित होना पड़े, उसके कार्य में दिक्कतें आनी शुरू हो जाए, उसका दिल व दिमाग उसका साथ न दें और वह घर में रहें तो उसे कार्यस्थल की या अन्य स्थानों की चिंता सताती रहें और बाहर हो तो उसे घर की चिंता लगी रहें. ऐसे व्यक्ति भी बुरी नजर का शिकार हो सकते हैं.

नजर बाधा दूर करने के उपाय  ( Remedy of Najar Badha)
हम हमेशा सुनते हैं कि ईश्वर बहुत ही दयालु हैं. वह हमारी हर तरह से रक्षा करता हैं, मनुष्य सो जाए लेकिन भगवान कभी नहीं होते तथा हमेशा हमें हर परिस्थितियों का सामना करने के लिए जागरूक करते हैं. जाग्रत अवस्था में तो ईश्वर हमें उपरोक्त लक्षणों के संकेत देकर सचेत करते हैं. लेकिन जब हम सो जाते हैं अर्थात जब हम निन्द्राव्स्था में होते हैं. तो भी ये सपनों में विभिन्न संकेत देकर, हमारी सहायता करते हैं. भगवान तो हमेशा हमें ज्ञान देते हैं और हमें हर मुसीबत का सामना करने के लिए शक्ति भी प्रदान करते हैं. बस यदि हम सदैव जागरूक रहें और अपने मस्तिष्क को शांत रखें तथा कैसी भी परिस्थिति क्यों न हो. उसका सामना करने के लिए अपने दिमाग का इस्तेमाल करें तथा भगवान में अपनी आस्था बनाये रखें तो हम हम जीवन की हर बाधाओं  को अपने विवेक का प्रयोग कर अपने जीवन से दूर कर सकते हैं. यदि आपके घर पर, व्यवसाय या व्यापार पर किसी व्यक्ति की कुदृष्टि पड़ने के कारण आपको परेशानियाँ हो रहीं हैं. तो आप इन समस्याओं से मुक्त होने के लिए निम्नलिखित उपायों का प्रयोग कर सकते हैं. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT नजर बाधा क्या हैं
बुरी नजर के लक्षण और उपाय
बुरी नजर के लक्षण और उपाय
1.    घर की शांति के लिए (for Home Peace) - यदि आपके घर में पूजा के समय या भोजन के समय कलह – क्लेश होता हैं. तो आप अपने घर के वातावरण को शांत करने के लिए यह उपाय कर सकते हैं. इस उपाय को करने के लिए अपने घर के पूजा स्थल को रोजाना अच्छी तरह से साफ़ करें तथा रोजाना सुबह और शाम के समय अपने घर के मंदिर में शुद्ध घी का दीपक जलाएं.

·       रोजाना पूजा करने के बाद एक मुट्ठी नमक लें और उसे पूजा स्थल के ऊपर से वार कर घर से बाहर फेंक दें.

·       रोजाना घर में पोछा लगाने से पहले पानी में थोडा नमक डालकर फिर इस पानी से घर में पोछा लगायें. इन सभी उपायों का प्रयोग करने के साथ – साथ ईश्वर में अपनी आस्था बानाए रखें और रोजाना नियमित रूप से भगवान की अराधना करें और पूजा करने के बाद पूजा में हुई भूल के लिए क्षमा प्रार्थना अवश्य करें. इन सभी उपायों को को करने से आपके घर का वातावरण शांत हो जाएगा.

2.    कार्यस्थल की शांति हेतु (Peace for Office) यदि आपको कार्यस्थल में नित्य नई परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं तो इन परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए रोजाना शाम को अपने कार्यस्थल पर नमक का छिडकाव करें. अगले दिन जब आप सुबह कार्यालय में प्रवेश करें तो इस नमक को झाड़ू की सहायता से साफ़ कर दें. इसके अलावा अपने कार्यालय में हमेशा स्वच्छता का ध्यान रखें, प्रतिदिन कार्य शरू करने से पूर्व ईश्वर की पूजा करें और उनके समक्ष गुग्गुल की सुगन्धित धूप जलाएं.

3.    व्यक्ति (Person) अगर कोई व्यक्ति नजर बाधा के दुष्प्रभावों से ग्रस्त हैं तो इसके बुरे प्रभाव से मुक्त होने के लिए एक मुट्ठी पिसा हुआ नमक लें और इसे अपने सिर के ऊपर से तीन बार वार दें. इसके बाद इस नमक को अपने घर के बाहर फेंक दें. इस उपाय को यदि आप नियमित रूप से तीन दिन लगातार करेंगे तो आपको नजर बाधा से जरूर राहत मिल जायेगी.
Buri Najar se Bachane ke Upay
Buri Najar se Bachane ke Upay
·       इसके अलावा यदि आपको उपरोक्त बताये गये उपाय से कोई आराम न हो. तो आप इस नमक को अपने सिर से वारने के बाद शौचालय में डाल दें और फल्श चला दें. इस उपाय को करने से आप जल्द ही नजार बाधा के दुष्प्रभाव से मुक्त हो जायेंगे.

4.    गृह बाधा (Grih Badha) अगर आपके घर को किसी ने मन्त्र व तंत्र का प्रयोग कर बाँध दिया हैं तो इस बंधन से मुक्त होने के लिए अपने पूर्वजों की प्रतिदिन पूजा करें, हर महीने में आने वाली प्रत्येक अमावस्या के दिन 5 गायों को फल खिलाएं तथा रोजाना पश्चिम दिशा की ओर मुख करके निम्नलिखित मन्त्र का 21 बार जाप करें.

मन्त्र –
ॐ नम: शिवाय

इस मन्त्र का रोजाना जाप करने से और गायों को फल खिलाने से व्यक्ति पर से नजर बाधा का प्रभाव समाप्त हो जाएगा.

5.    बीमार व्यक्ति (Sick Person) नजर बाधा के कारण कई बार व्यक्ति की तबियत भी ख़राब हो जाती हैं. यदि आपके घर में कोई व्यक्ति नजर बाधा के कारण रोग से पीड़ित हैं और दवाइयों का सेवन करने पर भी वह ठीक नहीं हो पा रहा हैं. तो इसके लिए सात प्रकार के अनाज लें. अब इन अनाजों को अलग – अलग एक बर्तन में पानी डालकर उबाल लें तथा छान कर इन्हें रख दें. अब 10 ग्राम सिंदूर लें और उसे एक कागज में डालकर पुडिया बना लें. इसके बाद इस पुडिया के साथ 40 ग्राम तिल का तेल लें और इन दोनों को अनाज में डाल दें. अब इस अनाज को अगर आपके घर के आस – पास कोई कीकर (बबूल) का पेड़ हैं. तो उस पेड़ की जड में रख दें या रविवार के दिन इसे एक पोटली में बांधकर दोपहर के ठीक बारह बजे भैरव मंदिर में चढ़ा दें. इस उपाय को करने के बाद बीमार व्यक्ति जल्द ही स्वस्थ हो जाएगा.

6.    शरीर में दर्द होने पर (Body Paine) यदि किसी व्यक्ति के शरीर में दर्द हो रहा हो और उसे इस दर्द से आराम न मिल रहा हो. तो मंगलवार के दिन आप इस उपाय को कर सकते हैं. इस उपाय करने के लिए एक सिक्का लें और उसे हनुमान जी के चरणों में चढ़ा दें. अब इस सिक्के पर लगे हुए सिंदूर से अपने माथे पर तिलक लगा लें. इसके साथ ही इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि यदि शारीरिक पीड़ा से पीड़ित व्यक्ति के पानी पीने के बाद यदि गिलास में पानी बच जाता हैं तो उसे न फेंके. इस पानी को गिलास में ऐसे ही रहने  दें. ऐसा करने से दर्द से परेशान व्यक्ति को और पीड़ा हो सकती हैं तथा उसको मानसिक तनाव का भी सामना करना पड सकता हैं.
बुरी नजर वाले तेरा मुंह काला
बुरी नजर वाले तेरा मुंह काला
7.    विवाह बाधा (Vivah Badha) यदि किसी व्यक्ति की कुदृष्टि के कारण लड़की के विवाह में अड़चन आ रही हैं. तो इस बाधा को दूर करने के लिए प्रत्येक सप्ताह में आने वाले बृहस्पतिवार के दिन उपवास रखें और बृहस्पति ग्रह की मन्त्र के साथ पूजा – अर्चना करें. इसके साथ ही इस दिन पुखराज या सुनैला को धारण कर लें. पूजा करने के बाद एक छोटे लड़के को पीले रंग के वस्त्र का दान करें.

यदि किसी लड़के के विवाह में समस्याएं आ रही हैं. तो इन समस्याओं के निदान के लिए वह हीरा या अमेरिकन जर्कन धारण कर सकता हैं. इसके अलावा उसे हर शुक्रवार को एक कन्या को सफ़ेद रंग के कपडे दान करने चाहिए. लड़के व लड़की के द्वारा इन दोनों ही उपायों को करने से उन दोनों के विवाह में आने वाली परेशानियाँ समाप्त हो जायेंगी तथा उनका विवाह जल्द ही हो जाएगा. 

बुरी नजर से के दुष्प्रभाव से मुक्त होने के अन्य उपायों को जानने के लिए आप नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हैं.  
Buri Najar ke Prabhav
Buri Najar ke Prabhav

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT