इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Ghrelu Vastuon se Bimaariyon ka Ilaaj | घरेलू वस्तुओं से बिमारियों का इलाज | Treatment by Home Domestic Materials

बीमारियों का घरेलू उपचार ( Home Treatment for Diseases )

कभी-कभी इन्सान की जिंदगी में खुशियों से ज्यादा बीमारियाँ आ जाती हैं और वो जाने क्यूँ ये महसूस करता है कि उसकी जिंदगी में अब इतने दिन बाकी नहीं हैं जितनी उसे बीमारियाँ लग चुकी हैं. ऐसे में इन्सान का हताश व परेशान होना लाजमी है. जहाँ कुछ लोग बीमारियों के आगे घुटने टेक देते हैं वहीँ कुछ दिखाते हैं हिम्मत. ऐसे वक्त में भी ज़िन्दगी को भरपूर तरीके से जीने के लिए इन बीमारियों से मरते दम तक लड़ते हैं. आइये जानते हैं आज कुछ ऐसे तरीके जिन्हें हम तब इस्तेमाल कर सकते हैं जब हम बीमारियों का महंगा इलाज करवाकर थक जाते हैं.

·         योग भगाए रोग ( Yoga For Diseases) :
कहते हैं योग इन्सान को रोगमुक्त बनाता है और भोग इन्सान को रोगी बनाता है. योग भारत के अनेकों बाबा, ऋषियों व मुनियों द्वारा सदियों से आजमाया गया ऐसा नुस्खा है जिसमे आपकी हर बीमारी का इलाज छुपा हुआ है. आप अपनी दैनिक दिनचर्या से योग को जोड़ कर देखें. लाभ अवश्य मिलेगा. CLICK HERE TO KNOW नारियल के स्वास्थ्य और औषधीय गुण ...
Ghrelu Vastuon se Bimaariyon ka Ilaaj
Ghrelu Vastuon se Bimaariyon ka Ilaaj
·         चाय में लें मुलैठी, तुलसी का रस, अदरक का रस व दालचीनी इस्तेमाल करें (Take Tulsi, Mulaithi, Ginger Juice And Cinnamon In Your Tea) :
आप रोज जो चाय पीते हैं वो भी काफी हद तक आपको मौसम बदलने से होने वाली बीमारियों से बचा सकती है. चाय बनाते वक्त उसमे कुछ इलायची, लौंग, अदरक का रस, कुछ कुटी हुयी मुलैठी, दालचीनी इत्यादि मिलाकर पीने से आपको सर्दी से होने वाली कोई भी बीमारी नहीं होती. यदि आपको सर्दी, जुकाम, बुखार इत्यादि कोई समस्या है तो वो भी ऐसी चाय के सेवन मात्र से खत्म हो जायेगी.

·         डायबिटीज के रोगी खाइए आम के पत्ते, शहद, आंवला इत्यादि ( Mango Leaves, Honey, Amla Etc For Diabetes Patients) :
डायबिटीज यानि Sugar एक ऐसी बीमारी है जिसमे मरीज के खून में Sugar की मात्रा काफी बढ़ जाती है और उसके शरीर में इंसुलिन नाम का हॉर्मोन बनना ही बंद हो जाता है या उसके शरीर द्वारा बनाये गए इंसुलिन हॉर्मोन के प्रति शरीर कोई प्रतिक्रिया देना बंद कर देता है. इन सूरतों में व्यक्ति को डायबिटीज समस्या का सामना करना पड़ता है. ऐसे में अगर आप आम के पेड़ के पत्तों का सेवन करेंगे तो लाभ मिलेगा. आप चीनी की जगह शहद का इस्तेमाल करें तथा नित्य प्रतिदिन कच्चे आंवलों का सेवन करें. जल्द ही आपको डायबिटीज से छुटकारा मिल जाएगा. CLICK HERE TO KNOW गिलोय अमृता औषधीय और आयुर्वेद का खजाना ...
 घरेलू वस्तुओं से बिमारियों का इलाज
 घरेलू वस्तुओं से बिमारियों का इलाज
·         ब्लड प्रेशर के मरीज अपने भोजन में पोटैशियम व सोडियम की मात्रा संतुलित रखें (Patients Of Blood Pressure Should Try Balancing The Amount Of Potassium And Sodium Taken In Their Diet) :
ब्लड प्रेशर समस्या से निजात पाने का सबसे अच्छा तरीका है अपने भोजन में नमक व पोटैशियम की मात्रा संतुलित रखना. आप अपने खाने से सोडियम युक्त पदार्थ बिल्कुल हटा दें व उनकी जगह ऐसे खाद्य पदार्थों को दें जिनमे पोटैशियम अधिक हो. आपका ब्लड प्रेशर भी संतुलित हो जाएगा.

·         ना खाएं प्रोसेस्ड व तले-भुने खाद्य पदार्थ (Do Not Eat Processed And Oil Cooked Foods) :
जो लोग प्रोसेस्ड व तले-भुने खाने को अपनी दैनिक दिनचर्या में शामिल करते हैं अक्सर उनका दिल कमजोर हो जाता है व साथ ही उनके शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा काफी अधिक बढ़ जाती है. यदि आप अपने शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा संतुलित करना चाहें तो आप इस तरह के खाद्य पदार्थों का भी सेवन बंद कर दीजिये और साथ ही आप शराब व सिगरेट पीने से भी परहेज करें.
Treatment by Home Domestic Materials
Treatment by Home Domestic Materials
·         खुली हवा में व्यायाम जरुर करें ( Aerobic Exercises Daily) :
खुली हवा में किया जाने वाला वो व्यायाम है जिसे अंग्रेजी में Aerobic Exercise  भी कहते हैं. इस तरह के व्यायाम को अपनी ज़िन्दगी का एक हिस्सा बना लेने से आप कई बीमारियों से बचे रहते हैं. साथ ही साथ आपको आलस व तनाव (Stress) से भी छुटकारा मिल जाता है.

·         सर्दियों में मुरब्बा व च्यवनप्राश का सेवन करें ( Eat Murabba And Chyawanprash In Winters) :
सर्दी के लक्षणों से खुद को बचाने के लिए व दूसरों से सर्दियों में ज्यादा कार्यशील रहने के लिए आप मुरब्बे या च्यवनप्राश का सेवन करना प्रारम्भ कर सकते हैं.

·         स्वास्थ्यवर्धक शिलाजीत (Health Booster Shilajeet) :
शिलाजीत हिमालय की पहाड़ियों में पाया जाने वाला एक ऐसा पदार्थ है जिसे अपनी दिनचर्या में लाने भर से आपकी शादीशुदा ज़िन्दगी सुधर जाती है. साथ ही साथ ये आपको कई अन्य बीमारियों से भी बचाता है.
जब हम बीमारियों का इलाज करवाते हुए थक जाते हैं
जब हम बीमारियों का इलाज करवाते हुए थक जाते हैं
·         पत्थरी के लिए पत्थरचट की बेल के पत्ते (Kalanchoe Pinnata For The Problem Of Stones) :
पथरी की समस्या भी आजकल आम है. दरअसल शरीर में मिनरल (Mineral) के एक जगह इकट्ठे हो जाने से पत्थरी होती है और इसे मिटाने का सबसे अच्छा उपाय है नित्य प्रतिदिन पत्थरचट की बेल के पत्तों का सेवन करना. यदि आप इस बेल के पत्तों का सेवन करते हैं तो पत्थरी धीरे धीरे घुल कर पेशाब के रास्ते से अपने आप बाहर आ जायेगी.

·         नीम हर तरह की त्वचा समस्या व पेट के कीड़ों का इलाज (Neem For Every Sort Of Skin Problem And Stomach Worms) :
नीम आपकी त्वचा से जुडी हर समस्या का समाधान है. यदि आपको पिम्पल, एक्ने या कोई अन्य त्वचा से जुडी समस्या है तो नीम के पत्तों को पानी में उबालें और उस पानी से स्नान करें. नीम के रस को पिम्पल वाली जगह लगाने से भी लाभ मिलेगा. नीम के पत्ते खाने से पेट में कीड़े भी नहीं होंगे और नीम की दातुन करने से दांत भी साफ व चमकदार रहेंगे.
Rogmukti ke Aasaan Deshi Upay
Rogmukti ke Aasaan Deshi Upay
·         जरा सी हींग हाजमा बढाए (Asafetida For Digestion) :
नित्य-प्रतिदिन खाना बनाते वक्त उसमे थोड़ी सी हींग डाल देने से आपका हाजमा ठीक रहेगा. हींग आपके पाचन तंत्र को सशक्त करती है और इसलिए आप इसे भी अपनी रसोई में जगह दे सकते हैं.

·         अच्छी नींद के लिए ये आजमायें (Try This For Good Sleep) :
कुछ लोगों को आदत होती है सोने से पहले नहाने की. दरअसल आप जितने भी ठण्डे पानी से नहायेंगे, नींद आपको उतनी ही अच्छी आएगी. आप जितने भी गर्म पानी से नहायेंगे, नींद आपको उतनी ही देर से आएगी. ऐसा ही आपके कमरे के तापमान के साथ भी होता है. साथ ही साथ तकिया कितना नर्म है और कमरे में रौशनी कितनी है व चारों तरफ शोर कितना है इन बातों से भी बहुत फर्क पड़ता है.


आम बीमारियों से बचने के उपाय और बीमार होने पर ध्यान रखने वाली अन्य बातों को जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट कर जानकारी हासिल कर सकते हो. 
Home Treatment for Diseases
Home Treatment for Diseases
Ghrelu Vastuon se Bimaariyon ka Ilaaj, घरेलू वस्तुओं से बिमारियों का इलाज, Treatment by Home Domestic Materials, जब हम बीमारियों का इलाज करवाते हुए थक जाते हैं, Rogmukti ke Aasaan Deshi Upay, Chay Adarak Shahad Aanvala Shilajeet Hing se Bimaariyon ka Upchar, Home Treatment for Diseases.



YOU MAY ALSO LIKE  
- फेसबुक से विडियो मेसेज कैसे भेजें

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT