इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Pahchane Kundali Mein Accident ke Yoga | पहचाने कुंडली में एक्सीडेंट के योग

जाने एक्सीडेंट के योग के बारे में (Know the Chances of Accident according to Kundali)
दुर्घटना या एक्सीडेंट आचानक होने वाली बहुत ही घातक घटनाएँ होती  हैं. जिससे कई बार लोगों की जान भी चली जाती हैं. दुर्घटना कब हो जाये इस बात का कोई भी व्यक्ति अंदाजा नहीं लगा सकता. जरुरी नहीं हैं कि जो व्यक्ति वाहन चलाते हैं. वो ही दुर्घटना के शिकार होते हैं. दुर्घटना किसी भी व्यक्ति के साथ कही भी हो सकती हैं. जैसे – यदि आप सडक को बिना देखे पार करने की कोशिश करते हैं तो आप दुर्घटना के शिकार हो सकते हैं. अचानक से कहीं से पैर फिसल जाना या ऊंचाई से नीचे गिर जाना आदि भी दुर्घटनाएं ही होती हैं. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT यमराज ने बताए मृत्यु के राज ...
Pahchane Kundali Mein Accident ke Yoga
Pahchane Kundali Mein Accident ke Yoga
ज्योतिषशास्त्र के अनुसार दुर्घटना होने के भी कुछ योग हमारी कुंडली में बनते हैं. इन योगों के बारे में जानकर हम यह पता लगा सकते हैं कि भविष्य में हमारे साथ कोई दुर्घटना होने वाली हैं या नहीं, और इस बात का पता लगा कर आने वाले समय में ऐसी दुर्घटनाओं से बचने का प्रयत्न भी कर सकते हैं. दुर्घटना के विभिन्न योगों की चर्चा नीचे की गई हैं.

1.शनि, मंगल, राहु और सूर्य (Saturn, Mars, Rahu And Sun Planet) - यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में शनि, मंगल, राहु और सूर्य ग्रह अष्टम स्थान में स्थित हो और इन ग्रहों पर किसी अन्य ग्रह के शुभ दृष्टि के प्रभाव न पड़ रहे हो तो दुर्घटना का योग बनता हैं.

2.पाप ग्रह (Sinful Planet) – यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में शनि, राहु, मंगल और सूर्य ग्रहों में से कोई भी ग्रह पाप ग्रह से प्रभावित हो तो सडक दुर्घटना के योग बनते हैं.

3.पितृदोष (Pitridosh) यदि किसी व्यक्ति की जन्म कुंडली के अष्टम भाव पितृदोष से ग्रस्त हो तो भी एक्सीडेंट हो सकते हैं. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT आसान मृत्यु कैसे पायें ...
पहचाने कुंडली में एक्सीडेंट के योग
पहचाने कुंडली में एक्सीडेंट के योग
4.स्त्री की कुंडली (Woman’s Horoscope) जब एक व्यक्ति की किसी स्त्री से शादी हो जाती हैं. तो उसके जीवन पर स्त्री की कुंडली के गुण दोषों का भी प्रभाव पड़ता हैं. यदि किसी स्त्री की कुंडली में पति की आयु का सम्बन्ध अष्टम भाव से हो. तो उसका पति सडक दुर्घटना का शिकार हो सकता हैं.  

5.सूर्य और मंगल ग्रह (Sun And Tue Planet) अगर किसी व्यक्ति की नवांश कुंडली में सूर्य और मंगल ग्रह की नजर एक दुसरे पर रहती हैं, जिससे उनका प्रभाव भी एक – दुसरे पर पड़ता हैं तो भी सड़क दुर्घटना या एक्सीडेंट का खतरा उस व्यक्ति के ऊपर मंडराता रहता हैं.
<Achank Hone Vali Durgati se Bachen
Achank Hone Vali Durgati se Bachen
6.राहु और सूर्य ग्रह (Rahu And Sun Planet) यदि कुंडली में राहु की महादशा अर्थात ख़राब दशा चल रही हो तथा सूर्य और चन्द्रमा कुंडली के अष्टम भाव में विराजमान हो तो भी दुर्घटना होने की सम्भावना बनी रहती हैं.

7.द्वितीय स्थान (Second Place) यदि किसी व्यक्ति की कुंडली का दूसरे भाव में किसी प्रकार का दोष हो या वो दूषित हो तो भी एक्सीडेंट हो सकते हैं.

एक्सीडेंट दुर्घटना या अन्य किसी भी प्रकार के योगों के बारे में जानने के लिए आप नीचे कमेंट करके तुरंत जानकारी हासिल कर सकते हैं. 

Planets se Jane Accident ke Yog
Planets se Jane Accident ke Yog

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT