इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

Real Estate Service

सबकुछ बिकता है यहाँ ऑनलाइन प्रॉपर्टी डीलिंग पर – Online Property Dealing

सबकुछ बिकता है यहाँ ऑनलाइन प्रॉपर्टी डीलिंग पर – Online Property Dealing  सबकुछ बिकता है यहाँ ऑनलाइन प्रॉपर्टी डीलिंग पर आप...

Yantra Tantra Ke Prayog se Dame ka Nidaan | यंत्र तंत्र के प्रयोग से दमे का निदान

दमे के लिए ज्योतिषीय उपाय (Astrological Remedies For Asthma Disease)
दमा सांस से जुडी हुई एक बीमारी हैं. जिससे अधिकतर लोग ग्रस्त हैं. सामान्यत: यह बिमारी लोगों को आनुवंशिकता के कारण हो जाती हैं. जैसे यदि किस घर के बड़े – बूढ़े इस बीमारी से पीड़ित हैं. तो उनकी आने वाली पीढ़ी को यह बीमारी हो सकती हैं. वहीं कुछ लोगों को यह बीमारी मौसम के बदलाव के कारण हो जाती हैं. इस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति को अधिकतर सांस से सम्बन्धित समस्या का ही सामना करना पड़ता हैं. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT बवासीर की बीमारी से पायें हमेशा के लिए मुक्ति ...
  

Yantra Tantra Ke Prayog se Dame ka Nidaan
Yantra Tantra Ke Prayog se Dame ka Nidaan
जैसे –
1.   यदि अस्थमा से पीड़ित व्यक्ति थोड़ी – थोड़ी देर में सांस फूलने के कारण ही अधिक काम नहीं कर पाते.

2.   उन्हें हल्का सा काम करने में ही थकावट महसूस होने लगती हैं और वो तेजी से हांफने लगते हैं.

दमा के रोग के लिए उपाय (Remedies For Asthma )
1.दमे के रोग से पीड़ित होने पर शुक्ल पक्ष के प्रथम सोमवार से इस उपाय को शुरू करें. इस उपाय को करने के लिए एक श्वेत रंग का रुमाल लें, कुछ मिश्री के दाने लें तथा एक चाँदी की धातु से बना हुआ वर्गाकार टुकडा लें. अब इस रुमाल में इन दोनों को डालकर बांध लें. इसके बाद इस रुमाल को जल में प्रवाहित कर दें. इसके बाद थोडा सा चावल का आटा लें और उसका दीपक बना लें. अब इस दीपक में शुद्ध घी डालें और उसके बाद इसमें कपूर को पीसकर मिला लें. अब इस दीपक को जला लें और इस दीपक को शिवजी की मूर्ति के समक्ष रख दें. इस उपाय को लगातार तीन सोमवार तक करने से आपको सांस की बीमारी से छुटकारा मिल जाएगा. CLICK HERE TO READ MORE ABOUT  दमा का घरेलू आयुर्वेदिक इलाज ...
यंत्र तंत्र के प्रयोग से दमे का निदान
यंत्र तंत्र के प्रयोग से दमे का निदान
2.रविवार के दिन एक बर्तन लें और उसमें जल डाल दें. इसके बाद एक चाँदी की अंगूठी लें और उसे इस जल में डाल दें. इसके अगले दिन उठने के बाद इस जल में से चाँदी की अंगूठी निकाल लें और इस जल को पी लें. आपको दमे के रोग में काफी आराम मिलेगा.

3.दमे के रोग से मुक्ति पाने के लिए किसी भी महीने के पहले सोमवार से को इस उपाय को करें. इसके लिए चमेली के वृक्ष की जड़ ले लें. इसके बाद इस जड को मन्त्रों से अभिमंत्रित कर लें. इसके अब एक सफेद रंग का रेशमी धागा लें और इस धागे से जड को बांध लें. इसके बाद इस जड को अपने गले में धारण कर लें. इस उपाय को करने के बाद हर सोमवार को अधिक से अधिक अपने चेहरे को आईने में देखें. आपको श्वास के रोग से राहत मिल जायेगी.

4.यदि दमे के रोग की वजह से आपकी श्वास नालियों में सूजन आ गई हैं. जिसके कारण आपके फेफड़ों में कफ जमने लग गया हैं तथा लगातार खांसी हो रही हैं. तो इस समस्या के निदान हेतु किसी शुभ समय में केसर की स्याही लें, एक तुलसी की कलम लें, और एक भोजपत्र ले लें. अब केसर की स्याही और तुलसी की कलम की सहायता से भोजपत्र पर एक चंद्रमा के यंत्र का निर्माण किसी योग्य पंडित से करवा लें. जब यंत्र का निर्माण हो जाए तो इसे अपने गले में धारण कर लें. आपको सभी समस्याओं से मुक्ति मिल जायेगी. 
Asthma ke Jyotishiy Upay
Asthma ke Jyotishiy Upay
5.अस्थमा के रोग से पीड़ित होने पर तथा इस रोग को दूर करने के लिए रविवार के दिन इस उपाय को करें. जिसकी विधि निम्नलिखित हैं.

1.रविवार के दिन सुबह इस एक छोटी सी दूधि ले लें.

2.अब इसमें 6 ग्राम सफेद जीरा ले लें. 

3.अब इन्हें पानी में पीसकर घोल लें और इसका सेवन करें. 

4.            इसके बाद थोड़ी दही लें उसमें चिडवा भिगोंकर इसे खा लें.

इस उपाय को करने के बाद आपको दमे के रोग में ज्यादा दिक्कत नहीं होगी.

विशेष (Important) : -
उपरोक्त उपायों को करने के बाद इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि किसी भी नशीले पदार्थ का सेवन न करें. इससे इन उपायों का आप पर विपरीत प्रभाव पड सकता हैं.

दमे की बिमारी से निजात पाने के अन्य उपायों को जानने के लिए आप नीचे कमेंट करके तुरंत जानकारी हासिल कर सकते हैं.
Shvas Rogon se Mukti ke Chamatkari Totke
Shvas Rogon se Mukti ke Chamatkari Totke
Yantra Tantra Ke Prayog se Dame ka Nidaan, यंत्र तंत्र के प्रयोग से दमे का निदानदमा रोग, अस्थमा की बीमारी, Asthma ke Jyotishiy Upay, Shvas Rogon se Mukti ke Chamatkari Totke, Sans ki Bimari ke liye Tips, Damaa, Asthma




YOU MAY ALSO LIKE  
-   यंत्र तंत्र के प्रयोग से दमे का निदान
मूत्रजलन की समस्या का आयुर्वेदिक उपचार



Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT