इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Chhilkon se Milte Hai Kamaal ke Faayde | छिलकों से मिलते है कमाल के फायदे | Amazing Benefits of Peels


फल सब्जियों के छिलकों से होने वाले लाभ ( The Benefits from the Peels of Fruits and Vegetables )
हर घर में रोजाना कुछ फल सब्जियां काटी जाती है और उनके छिलकों को गृहणियाँ बेकार समझकर कूड़ेदान में दाल देती है. किन्तु क्या आपको पता है कि इनके छिलकों में चमत्कारिक गुण छुपे है? नहीं ना, लेकिन ये सच है. जब आपको पता चलेगा कि इन फल सब्जियों के छिलकों में कौन कौन से गुण और पौषक तत्व है तो आप इनके छिलकों को कभी नहीं फेंकोंगे. इनके यही गुण हमे अनेक रोगों से निजात दिलाते है और सुंदरता को भी बनायें रखते है. तो आइयें जानते है कि किस फल सब्जी के छिलके से आपको क्या लाभ मिलता है. CLICK HERE TO KNOW फलों और सब्जियों से पायें खूबसूरती ...
Chhilkon se Milte Hai Kamaal ke Faayde
Chhilkon se Milte Hai Kamaal ke Faayde
*                      अनार का छिलका ( Pomegranate Peel ) :
·     माहवारी ( Menstruation ) : अनार के दानों और रस को अनेक रोगों से मुक्ति के लिए इस्तेमाल किया जाता है किन्तु वे महिलायें जिनको अधिक मासिक स्त्राव की समस्या है उनके लिए अनार के छिलके एक वरदान की तरह होते है. इनका इस्तेमाल करने के लिए इन महिलाओं को अनार के छिलकों को सुखाकर उनका पाउडर तैयार करना है और रोजाना 1 चम्मच पानी के साथ लेना है. इस तरह महिलाओं को माहवारी में अधिक रक्त स्त्राव से राहत मिलती है. 

·     बवासीर ( Hemorrhoids / Piles ) : बवासीर की समस्या से परेशान लोगों को 4 भाग अनार के छिलके और 8 भाग गुड के कूटकर पाउडर तैयार करना है. फिर इनकी छोटी छोटी गोलियाँ बनानी है तथा इनका लगातार कुछ दिन तक नियमित रूप से सेवन करना है. इस तरह उन्हें बवासीर में जल्द राहत मिलती है. 

·     खांसी ( Cough ) : वे लोग जो अधिक खांसी या जोर से आ रही खांसी से परेशान है उनको अपने मुंह में अनार का छिलका रखकर चुसना चाहियें. इससे उनकी खांसी का वेग कम होने लगता है. CLICK HERE TO KNOW हष्ट पुष्ट बलशाली शरीर पाने के असरदार उपाय ...
छिलकों से मिलते है कमाल के फायदे
छिलकों से मिलते है कमाल के फायदे
·     बालों को मुलायम बनाता है ( Makes Hair Smooth and Silky ) : बालों को रेशमी और मुलायम बनाने के लिए भी आप अनार के छिलकों का इस्तेमाल कर सकते है. इसके लिए भी आपको इसके छिलकों से एक पेस्ट तैयार करना है और उसमें दही मिलाकर बालों में इस्तेमाल करना है. इस उपाय को आप हफ्ते में 2 बार अपनाएँ, कुछ महीनों में ही आपको अपने बालों में फर्क नजर आने लग जायेगा. 

*                      नीम्बू का छिलका ( Lemon Peel ) :
·     दांतों की मजबूती ( Makes Teeth Strong ) : अनार की ही तरह नीम्बू भी एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जिसका इस्तेमाल अनेक तरह के रोगों से मुक्ति के लिए किया जाता है साथ ही ये आयुर्वेद में भी अपना ख़ास स्थान बनाएं हुए है. अगर आप रोजाना नीम्बू के छिलके को दांतों पर मलते हो तो इससे आपके दांतों की चमक बढती है और मसुढे मजबूत बनते है.
एक अन्य उपाय के अनुसार आप नीम्बू या संतरे के छिलकों को सुखाकर उनका पाउडर तैयार करें और उसे अपने दांतों पर मलें. 

·     जूतों की चमक ( Improve Shoes Shining ) : दांतों को चमकाने के साथ साथ नीम्बू आपके चमड़े के जूतों को भी चमका सकता है. कहने का अर्थ है कि अगर आप नीम्बू के छिलकों को अपने जूतों पर रगड़कर उन्हें कुछ देर धुप में रख देते हो तो आपके जूतों की चमक पोलिश की चमक से भी बेहतर होती है. 
Amazing Benefits of Peels
Amazing Benefits of Peels
*                      काजू का छिलका ( Cashew Nut Shell ) : अगर आपके पैरों के तलवे और एड़ियाँ फटी हुई है तो आप काजू के छिलकों का तेल निकालें और उनसे रोजाना अपने पैरों की मालिश करें. कुछ ही दिनों में आपके पैर पहले की तरह नर्म, मुलायम और अच्छे हो जायेंगे. 

*                      बादाम का छिलका ( Almond Shell ) : इसका इस्तेमाल दाँतों का कष्ट दूर करने के लिए किया जाता है. आप बबूल की फलियों के छिलके और बादाम के छिलकों को मिलाकर उन्हें जला लें. इससे इनका चूर्ण तैयार हो जायेगा. इस चूर्ण / पाउडर से आप अपने दांतों को मंजन करें, ये आपके दांतों को मजबूती प्रदान करता है साथ ही इससे मसुढे भी स्वस्थ रहते है. 

*                      नारियल का छिलका ( Coconut Rind ) : इसके भी आप दांतों को मजबूत और स्वस्थ रखने के लिए इस्तेमाल कर सकते है. साथ ही नारियल के छिलकों को भी इस्तेमाल करने से पहले जलाया जाता है और तैयार पाउडर से दाँतों पर मंजन किया जाता है. 

*                      पपीते का छिलका ( Peels of Papaya ) : मुंह की खुश्की को दूर करने के लिए आप पपीते के छिलकों को धूप में सुखा उनका चूर्ण बनायें और उसमें थोडा ग्लिसरीन मिलाकर पेस्ट तैयार करें. इस पेस्ट को आप अपने चहरे, पैरों पर लगाएं, ये लेप शरीर की शुष्कता को दूर करते हुए शरीर को मुलायम और हष्ट पुष्ट बनाता है. 
रोगमुक्त रहने के लिए प्रयोग करें छिलके
रोगमुक्त रहने के लिए प्रयोग करें छिलके
*                      तरबूज का छिलका ( Watermelon Rind ) : तरबूज का छिलका दाद और एकजीमा जैसी समस्या से राहत दिलाता है. इसका प्रयोग करने के लिए आपको पहले इसके छिलकों को सुखाना है फिर उन्हें जलाकर राख बनाना है. इस राख को आप कडवे तेल में मिलाएं और उसे अपने शरीर के उन हिस्सों पर लगायें जहां आपको दाद हुआ है. 

*                      संतरे के छिलके ( Orange Peel ) : आप कुछ संतरे के छिलकों का चुरा बनाकर उनमे कच्चा दूध व हल्दी मिलाएं. तैयार लेप को आप अपने चेहरे पर लागाकर चेहरे के सारे दाग धब्बे, कील मुंहासे इत्यादि को हटा सकते हो. इससे आपकी त्वचा चमक उठती है और लोग आपकी तरफ आकर्षित होने लगते है. 

*                      नारंगी का छिलका ( Orange Zest ) : नारंगी का छिलका रक्त शुद्धि के लिए इस्तेमाल किया जाता है. इसका उपयोग करने के लिए आपको रोजाना दूध में नारंगी के छिलकों का पाउडर मिलाकर उसका सेवन करना है. ये ना सिर्फ रक्त को शुद्ध करता है बल्कि हृदय संबंधी रोगों को भी दूर रखता है.  

*                      आलू का छिलका ( Potato Peel ) : आलू में स्टार्च की मात्रा अधिक पायी जाती है इसलिए ये मुंह की झुर्रियों को हटाने के लिए आदर्श माना जाता है. तो आप जब भी खाली हो तो अपने मुंह पर आलू के छिलकों को रगड़ सकती है और अपनी सुंदरता को बनायें रख सकती है.
Aapko Pta Hai Chhilkon ke Laabh Kya Hai
Aapko Pta Hai Chhilkon ke Laabh Kya Hai
*                      लौकी व तोरई का छिलका ( Peel of Gourd and Ridge Gourd ) : अगर किसी व्यक्ति को दस्त सता रहे है तो उनको लौकी के छिलकों को बारीक पीस लेना चाहियें, फिर इन्हें पानी के साथ लेने से दस्त में तुरंत आराम मिलता है. ठीक इसी तरह अगर आप तोरई के छिलकों को अपने चेहरे पर रगड़ते है तो आपकी त्वचा साफ़ और निखरी हुई दिखने लगती है. आपकी आँखों के नीचे के काले घेरे खत्म हो जाते है और चेहरे की सुंदरता बनी रहती है. 

*                      खीरे के छिलके ( Peels of Cucumber ) : बच्चों में अक्सर पेट में कीड़े होने की शिकायत होती है किन्तु अगर उन्हें रोजाना खीरे के छिलके खाने के लिए दिए जाएँ तो पेट के कीड़े बाहर निकल आते है. आप खीरे को बिना छिलें भी खा सकते है. 

*                      केले के छिलके ( Banana Peel ) : खेल खेल में चोट लग ही जाती है और चोट से खून बहने लगता है किन्तु अगर उस वक़्त आपके पास केले है तो आप केले के छिलके को घाव पर रगड़ें. इस तरह तुरंत रक्त स्त्राव बंद हो जाता है, उसके बाद आप घायल को किसी चिकित्सक के पास ले जाकर उसकी मरहम पट्टी कराएं. 

तो देखा छिलकों के कितने कमाल के फायदे होते है. छिलकों के ऐसे ही अन्य लाभों के बारे में अधिक जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो. 
Chamatkaarik Gunon se Bharpur Falon Sabjiyon ke Chhilke
Chamatkaarik Gunon se Bharpur Falon Sabjiyon ke Chhilke

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT