इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Lakve ka Attack Pade to Turant Kya Karen | लकवे का अटैक पड़े तो तुरंत क्या करें | First Aid Treatment Immediately in Paralysis Attack

लकवे का अटैक पड़े तो तुरंत क्या करें
दोस्तों आज हम आपको बताएँगे कि अगर आपके सामने किसी व्यक्ति को लकवे का अटैक पड़ जाए तो आपको उसकी जान बचाने के लिए तुरंत क्या करना चाहियें.

लकवे का प्राथमिक उपचार :
लकवे के अटैक का मुख्य कारण मस्तिष्क में खून का दौरा रुक जाना या मस्तिष्क की रक्त वाहिका का फट जाना होता है. ऐसे में व्यक्ति को चक्कर आ जाते है और वो गिर जाता है, वो अपनी चलने फिरने और बोलने की ताकत खो देता है, उसका मुहं टेढा हो जाता है, कई बार तो शरीर के बाकी हिस्सें भी काम करना बंद कर देते है. ऐसे में आप सबसे पहले एम्बुलेंस को फ़ोन कर दें और जब तक एम्बुलेंस आये तब तक निम्नलिखित स्टेप्स को फॉलो करे.  CLICK HERE TO KNOW प्राथमिक चिकित्सा और उसके उद्देश्य ... 
लकवे का अटैक पड़े तो तुरंत क्या करें
लकवे का अटैक पड़े तो तुरंत क्या करें
·         स्टेप 1 : लकवे का अटैक कहीं भी पड़ सकता है, रोड पर, मॉल में या किसी भीड़ भाड़ वाली जगह पर. तो आप 12 व्यक्तियों की मदद लेकर पीड़ित को उठायें और एक कम्फ़र्टेबल जगह पर ले जाएँ.

·         स्टेप 2 : अब आप पीड़ित के रेस्पोंस को चेक करे मतलब उससे उसका नाम पूछने की कोशिश करे, हो सकता है वो बोल ना पाए. तो आप उसके हाथ पकड़ें और उसे आपके हाथों को दबाने के लिए बोलें. अगर वो आपके हाथों को दबा देता है तो समझे की वो होश में है.

·         स्टेप 3 : आप पीड़ित के आसपास भीड़ ना होने दें और हवा को आने दें वर्ना पीड़ित को घुटन महसूस होने लगेगी जिससे उसकी तबियत और खराब हो सकती है. साथ ही अगर पीड़ित ने टाइट कपडे पहने है तो उन्हें भी ढीला कर दें.

·         स्टेप 4 : इसके बाद आप घुटनों पर बैठे और पीड़ित के बाए हाथ को सीधा करे और दाए को उसके सिर के नीचे ले जाएँ, अब पीड़ित को बायीं करवट में लिटा दें, ध्यान रहे कि पीड़ित का दायाँ पैर घुटनों पर मुडा होना चाहियें. इस पोजीशन को Recovery Position भी कहते है. इस पोजीशन का एक फायदा ये भी है कि अगर पीड़ित का गला उल्टी या किसी अन्य कारण रुक तो वो भी खुल जाएगा.

·         स्टेप 5 : आप इस बात को भी सुनिश्चित कर लें कि पीड़ित सांस ले रहा हो तो आप उसकी छाती को देखें कि क्या वो हिल रही है और क्या आप उसकी साँसों को सुन पा रहे हो.

·         स्टेप 6 : अगर पीड़ित सांस ना ले रहा हो तो उसे दोबारा से सीधा करे मतलब कमर के बल लेता लें और पीड़ित की छाती को दबाएँ. छाती को दबाने के लिए आप अपने दोनों हाथों को इंटरलॉक कर लें और फिर छाती पर दबाव डालें.
Lakve ka Attack Pade to Turant Kya Karen
Lakve ka Attack Pade to Turant Kya Karen
·         स्टेप 7 : जैसे ही एम्बुलेंस आये आप तुरंत पीड़ित को हॉस्पिटल में एडमिट कराएँ, इस तरह आप लकवे का अटैक पड़ने वाले व्यक्ति की जान और लकवे के बाकी दुष्परिणामों से उसे बचा सकते हो. 

लकवे का अटैक पड़ने पर आयुर्वेदिक प्राथमिक उपचार :
जैसे ही किसी व्यक्ति को आपके सामने लकवे का अटैक पड़ता है तो तुरंत 50 से 100 ग्राम तील के तेल को हल्का गर्म करे और पीड़ित को पीला दें. साथ ही आप उसको लहसुन चबाने के लिए भी दें. अगर वो खुद ना चबा पाए तो लहसुन को पिस लें और फिर उसके मुहं में रखें. इसके बाद अटैक के प्रभावित अंगों पर सेंक शुरु कर दें.

लकवे के अटैक का प्राथमिक उपचार और लकवे के अटैक के उपचार के बारे में अधिक जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो.





YOU MAY ALSO LIKE

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT