इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

Rakt mein Sharkra Adhik Ho to Alsi Kaise Khaye | रक्त में शर्करा अधिक हो तो अलसी कैसे खाएं | How to Eat Flaxseed in Sugar Diabetes

मधुमेह ( Diabetes )
मधुमेह एक चयापचय रोग है, इस रोग में रक्त में शर्करा की मात्रा काफी ज्यादा हो जाती है यह इसलिए होता है क्योकि हमारे शरीर में इंसुलिन हार्मोंन अधिक होते है जो हमारे शरीर के ब्लड शुगर को नियंत्रित करते है. मधुमेह रोग में इनका बनना कम हो जाता है जिससे हमें डायबिटीज हो जाती है. CLICK HERE TO KNOW गुप्त रोगों की चमत्कारी दवा अलसी ...
Rakt mein Sharkra Adhik Ho to Alsi Kaise Khaye
Rakt mein Sharkra Adhik Ho to Alsi Kaise Khaye
मधुमेह के मरीजों के लिए अलसी भोजन एक अमृत है क्योकि इसमें कार्बन की मात्रा शुन्य होती है. अलसी हमारे शरीर के शुगर को नियंत्रित रखती है मधुमेह के रोगी के शरीर पर होने वाले बुरे प्रभावों को कम करती है. डॉक्टर मधुमेह के रोगी को कम शुगर लेने के लिए सलाह है और ज्यादा फाइबर लेने की सलाह देते है. और इसके कारण अलसी सेवन से काफी समय तक पेट भरा रहता है, और देर तक भूख नही लगती है. इससे बी. एम. आर. में इज्जफा होता है जिससे हम अपने शरीर से ज्यादा कैलरी खर्च करते है जिसके परिणाम स्वरूप धीरे धीरे हमारे शरीर की चर्बी कम होती जाती है. साथ ही अलसी मोटापे के मरीज के लिए लाभदायक है. साथ ही अलसी ऊर्जा के सर्वोत्तम स्त्रोतों में से एक है, इसका उपयोग करने वालों के स्नायु में थकान नहीं होती. ये स्वास्थ्य में वृद्धि करने और शरीर को बलशाली बनाने में भी मददगार सिद्ध होती है.

मधुमेह में अलसी खाने के उपयोग ( Use of Flaxseed in Diabetes ) :
·         भोजन में अलसी ( Flaxseed in Food ) : भोजन में अलसी का उपयोग आसान होने के साथ साथ सस्ता भी है, लेकिन इसके उपयोग करने से अनेक अच्छे स्वास्थ्य परिणाम मिलते है. अगर आप खाने में फाइबर की मात्रा ज्यादा नही लेते हो तो आप शुरुआत में अलसी को काफी कम मात्रा में ले और समय के साथ मात्रा धीरे-धीरे बढाते जाएँ. CLICK HERE TO KNOW अलसी के लैंगिक मानसिक सौंदर्य गुण ... 
रक्त में शर्करा अधिक हो तो अलसी कैसे खाएं
रक्त में शर्करा अधिक हो तो अलसी कैसे खाएं
·         मधुमेह में अलसी का सेवन विधि ( How to Eat Flaxseed in Diabetes ) : : अलसी का सेवन करने से पहले इसे बारीक़ पिस ले. इसे आप किसी भी चीज के साथ ले सकते हे जैसे दही, सब्जी, सलाद आदि का साथ लिया जा सकता है. और आपको पानी भी ज्यादा पीना है. मधुमेह के मरीज को रोज कम से कम 40 से 50 ग्राम अलसी का प्रयोग करना चाहिए.

·         अलसी की रोटी ( Bread of Flaxseed ) : मधुमेह के मरीज को सुबह - शाम लगभग 20 - 20 ग्राम अलसी का प्रयोग करने से लाभ मित्लता है, इसके अलावा आप अलसी को बारीक पिस कर आटे के साथ मिला कर उसकी रोटी बना कर भी प्रयोग में ला सकते हो. इस उपाय को अलसी के प्रयोगों के लिए सर्वश्रेष्ठ माना जाता है.

·         अलसी का तेल ( Flaxseed Oil ) : अलसी के तेल को आप दही, पनीर में मिला कर उपयोग कर सकते है. आप इस चीज का ध्यान रखें कि इसमें फैट अधिक होते है. जबकि अलसी के फाइबर, विटामिन, लिगनेन, प्रोटीन और खनिज तत्व इत्यादि पाने के लिए आप अलसी के बीजों का ही प्रयोग करना है.

मधुमेह से निजात पाने के लिए अलसी के उपाय और प्रयोगों के बारे में अधिक जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो.
How to Eat Flaxseed in Sugar Diabetes
How to Eat Flaxseed in Sugar Diabetes

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT