इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Cloud Storage Kya Hai Aur Iska Upyog Kaise Karte Hai | क्लाउड स्टोरेज क्या है और इसका उपयोग कैसे करते है

क्लाउड स्टोरेज ( Cloud Storage )
दोस्तों, पहले अपनी फाइल्स को स्टोर करने के लिए Floppy का इस्तेमाल किया जाता है, फिर CD DVD आई, उसके बाद हार्ड डिस्क और ड्राइव्स में लोग डाटा स्टोर करने लगे, फिर आये मेमोरी कार्ड और पेन ड्राइव्स लेकिन सबको पता था कि इन स्टोरेज डिवाइसेस में भी उनका डाटा पूरी तरह सुरक्षित नहीं है क्योकि ये कभी भी खराब हो सकते है. लेकिन आज के आधुनिक युग में जब भी हम स्टोरेज की बात करते है तो सबसे ज्यादा विश्वास क्लाउड स्टोरेज पर किया जाता है ऐसा इसलिए क्योकि इनमे आपका डाटा पूरी तरह सुरक्षित भी है और इन्हें आपको अपने साथ कैर्री भी नहीं करना पड़ता, बल्कि आप किसी और के स्मार्टफोन या कंप्यूटर में भी अपने क्लाउड स्टोरेज डाटा को देख, डाउनलोड, शेयर और एडिट कर सकते हो. यही सब बाते इसको इतना खास बनाती है. तो चलिए अब क्लाउड स्टोरेज के बारे में विस्तार से जानते है. CLICK HERE TO KNOW पैराबंगनी किरणें नुकसानदेह या फायदेमंद ...
क्लाउड स्टोरेज क्या है और इसका उपयोग कैसे करते है
क्लाउड स्टोरेज क्या है और इसका उपयोग कैसे करते है
क्या है क्लाउड स्टोरेज :
क्लाउड स्टोरेज वो तकनीक है जिसमें हम अपने डाटा को आसानी से Remotely Maintain कर सकते है, उसका बैकअप बना सकते है या यूँ कहें कि हम अपनी सारी फाइल्स को ऑनलाइन स्टोर कर सकते है और जब भी हमें उन फाइल्स की जरूरत हो तो इन्टरनेट की मदद से कहीं भी उन फाइल्स को एक्सेस कर सकते है. आज हर कंपनी, हर मोबाइल और कंप्यूटर यूजर अपनी फाइल्स को क्लाउड स्टोरेज में सेव करना बेहतर समझता है इसीलिए ये दुगने से भी तेज रफ़्तार से बढ़ता जा रहा है.

Normally जब लोगों से इसके बारे में पूछा जाता है तो उन्हें पता नहीं होता कि ये कैसे काम करता है और कुछ हंसी मजाक में बोल भी देते है कि बादलों में डाटा सेव करना क्लाउड स्टोरेज है. कुछ हद तक ये सही भी है क्योकि क्लाउड स्टोरेज में आपकी सभी फाइल्स को एक थर्ड पार्टी ही संभालती है और अगर इमेजिंग करें तो एक तरह से आपकी सारी फाइल क्लाउड में ही होती है और जहाँ भी आपको उसकी जरूरत हो आप उसे क्लाउड से ले लेते हो.

क्लाउड स्टोरेज के प्रकार :
-    Personal Cloud Storage : असल में पर्सनल क्लाउड स्टोरेज भी पब्लिक क्लाउड स्टोरेज का ही एक हिस्सा है और क्योकि इसका ज्यादातर इस्तेमाल मोबाइल फ़ोन में होता है तो इसे Mobile Cloud Storage कहना भी गलत नहीं होगा. इसमें व्यक्ति अपनी इंडिविजुअल डाटा स्टोर करता है जैसेकि अपनी फोटोज, वीडियोस और अपनी पर्सनल फाइल्स इत्यादि. इसीलिए इसका पूरा एक्सेस भी उस मोबाइल यूजर के पास ही होता है. पर्सनल क्लाउड स्टोरेज डाटा सिंकिंग की सुविधा के साथ उपलब्ध है ताकि यूजर इसे कहीं भी किसी भी डिवाइस में इस्तेमाल कर सके.
Cloud Storage Kya Hai Aur Iska Upyog Kaise Karte Hai
Cloud Storage Kya Hai Aur Iska Upyog Kaise Karte Hai
-    Public Cloud Storage : इस वाले स्टोरेज को पर्सनल क्लाउड स्टोरेज की तरह आम लोग इस्तेमाल नहीं कर सकते, ऐसा इसलिए क्योकि पब्लिक क्लाउड स्टोरेज बड़े बड़े Enterprises के लिए है. इसमें एंटरप्राइज और Cloud Storage Provider दोनों एक साथ काम नहीं करते बल्कि कंपनी खुद अपने डाटा को मेन्टेन करती है. इसमें इंटरप्राइजेज को टेंशन लेकिन की जरूरत नहीं होगी.

-    Private Cloud Storage : लेकिन प्राइवेट क्लाउड स्टोरेज में एंटरप्राइज और क्लाउड स्टोरेज प्रोवाइडर दोनों को मिलकर काम करना पड़ता है या यूँ कहें कि दोनों को एंटरप्राइज डाटा सेण्टर में इंटीग्रेट होना पड़ता है. प्राइवेट क्लाउड स्टोरेज को स्टोरेज प्रोवाइडर ही हैंडल और मैनेज करता है क्योकि इसमें उनका Infrastructure होता है. इसकी एक खास बात ये है कि आप इसमें सिक्यूरिटी Threat को दूर कर सकते हो और अपनी परफॉरमेंस को भी सुधार सकते हो. इसके अलावा भी प्राइवेट क्लाउड स्टोरेज में और भी सुविधाएं दी जाती है.

-    Hybrid Cloud Storage : हाइब्रिड क्लाउड स्टोरेज पब्लिक और प्राइवेट दोनों क्लाउड स्टोरेज का मिश्रण होता है ऐसा इसलिए क्योकि ये कुछ क्रिटिकल डाटा एंटरप्राइज के प्राइवेट क्लाउड स्टोरेज में रहता है तो पब्लिक क्लाउड स्टोरेज की मदद से इसमें दुसरे डाटा को स्टोर और एक्सेस भी किया जाता है.

क्या जरूरत है क्लाउड स्टोरेज की :
किसी भी डाटा को स्टोर करने का सबसे पहला मकसद होता है डाटा का सेफ, सिक्योर और एक्सेस होना. इन्ही के आधार पर क्लाउड स्टोरेज की कुछ फंडामेंटल जरूरतें होती है जैसेकि – DurabilityAvailabilitySecurity.

लेकिन क्लाउड स्टोरेज के साथ कुछ कंसर्न भी होते है सबसे पहला है Reliability और दूसरा है Security. ऐसा इसलिए क्योकि हर कोई चाहेगा कि उनके डाटा के सुरक्षित होने की कोई ना कोई गारंटी जरुर हो ताकि उन्हें इस बात पर विश्वास हो सके कि उनका डाटा सेफ है और उसे सिर्फ वही इस्तेमाल कर सकते है. इन सब बातों को ध्यान रखते हुए और डाटा और सुरक्षित रखने के लिए कुछ Techniques का इस्तेमाल किया जाता है जैसेकि – Encryption, Authentication और Authorization.
Cloud Storage ke Prakar
Cloud Storage ke Prakar
क्लाउड स्टोरेज के फायदे :
-    Usability : क्लाउड स्टोरेज की सबसे अच्छी बात ये है कि इसे कोई भी आसानी से इस्तेमाल कर सकता है और इसमें डाटा Automatic Save होती है और अगर आप कंप्यूटर में क्लाउड स्टोरेज कर रहे हो तो आप सिर्फ Drag and Drop के तरीके से भी इसमें अपनी फाइल्स को सेव कर सकते हो.

-    Bandwidth : बैंडविड्थ से मतलब उस सुविधा से है जिसमें अगर आप किसी को क्लाउड स्टोरेज से कोई फाइल शेयर करना चाहते हो तो आपको उसे पूरी की पूरी फाइल भेजने की जरूरत नहीं होती, बल्कि आप अपनी फाइल का एक लिंक बनाकर भी फाइल को शेयर कर सकते हो.

-    Accessibility : यहाँ आप इन्टरनेट की मदद से कहीं भी अपनी क्लाउड स्टोर्ड फाइल को इस्तेमाल कर सकते हो और वो भी किसी भी कंप्यूटर या मोबाइल में.

-    Disaster Recovery : अगर गलती से कहीं आपका पर्सनल मोबाइल या कंप्यूटर खराब हो जाता है तो आपको पैनिक होने की जरूरत नहीं है क्योकि आप किसी दुसरे कंप्यूटर या मोबाइल से भी अपने डाटा को एक्सेस कर सकते हो.

-    Cost Saving : अक्सर सभी कंपनियाँ अपने डाटा को सुरक्षित रखने के लिए बहुत सारा पैसा बहती है जबकि क्लाउड स्टोरेज बहुत कम पैसे में उनके सारे डाटा को स्टोर कर लेती है.

क्लाउड स्टोरेज के नुकसान :
-    Usability : इसका इस्तेमाल थोडा संभालकर करना पड़ता है क्योकि जब आप क्लाउड स्टोरेज में फाइल ड्रैग और ड्राप करते हो तो ओरिजिनल स्टोर्ड फाइल क्लाउड स्टोरेज में चली जाती है. इसलिए अगर आप क्लाउड स्टोरेज में फाइल सेव करना चाहते हो तो फाइल को कॉपी और पेस्ट ही करें.

-    Bandwidth : वैसे तो सभी क्लाउड स्टोरेज में बैंडविड्थ मान्य होता है लेकिन जब कोई आर्गेनाईजेशन इसे सुर्पस करती है तो हो सकता है कि उन्हें इसके लिए पैसे भी देने पड़े.

-    Accessibility : इसका इस्तेमाल आप तभी कर सकते हो जबतक की आपके पास इन्टरनेट है जैसे ही इन्टरनेट ऑफ हुआ आप क्लाउड स्टोरेज को इस्तेमाल नहीं कर पाते हो.

-    Data Security : क्लाउड स्टोरेज में सारी फाइल और डाटा तीसरे व्यक्ति के हाथ में होती है इसलिए इसकी सिक्यूरिटी पर विश्वास करना आसान नहीं है. हो सकता है कि कोई आपकी डाटा का दुरूपयोग कर लें.
Cloud Storage Kyo Jruri Hai
Cloud Storage Kyo Jruri Hai
क्लाउड स्टोरेज, इसके फायदे नुकसान, इसके प्रयोग और इसके प्रकारों के बारे में अधिक जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो.



YOU MAY ALSO LIKE



Cloud Storage ke Prakar, Cloud Storage Kyo Jruri Hai, Cloud Storage ke Fayde or Nuksaan, Cloud Storage ki Kamiyan, Cloud Sangrahan Kya Hai, Free Cloud Storage mein File Kaise Manage Karen

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT