इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Aabhushan Chikitsa Kya Hai | आभूषण चिकित्सा क्या है | What is Ornament Therapy

गहने से इलाज ( Treatment using Ornaments )
इस बात को सभी मानते है कि गहने स्त्री और पुरुष दोनों को अति प्रिय होते है. ये शरीर की सुंदरता और आकर्षण को तो बढाते ही है साथ ही इनसे मन को भी शान्ति मिलती है. कुछ लोग तो अपने रुतबे को दिखाने के लिए अधिक से अधिक गहनों का इस्तेमाल करते है. इसके अलावा आप शादी पार्टी जैसे मौकों पर भी देख सकते है कि सभी लोग गहने पहन कर अवश्य जाते है. लेकिन ऐसा क्यों होता है? दरअसल बात ये है कि पुराने समय से ही गहनों को पहनना और शरीर को सजाना एक रस्म व मर्यादा में आता है. साथ ही गहनों को धारण करने से स्वास्थ्य को भी लाभ मिलता है. आप ये सुनकर अवश्य चौक गए होगे किन्तु ये सत्य है और वैज्ञानिक इसकी पुष्टि तक कर चुके है. आज हम अपनी इस पोस्ट में आपको आभूषण चिकित्सा से जुड़े कुछ ख़ास पहलुओं से ही अवगत कराने वाले है. CLICK HERE TO KNOW सभी ग्रहों के लिए रत्न विज्ञान ...
Aabhushan Chikitsa Kya Hai
Aabhushan Chikitsa Kya Hai
आभूषण से स्वास्थ्य लाभ ( Health Benefits of Wearing Jewelery ) :
·     मुंह के छाले ( Mouth Ulcers ) : अक्सर मुंह में गर्मी होने या गर्म आहार का सेवन करने से मुंह में छाले पड जाते है. अगर उस स्थिति में मुंह में चांदी को रखा जाएँ तो छालों में जल्द ही आराम मिलता है. ऐसा इसलिए होता है क्योकि चांदी की तासीर ठंडी होती है,, वहीँ सोने की प्रकृति गर्म होती है. इसलिए जब चांदी को मुंह में रखा जाता है तो मुंह को शीतलता मिलती है और छाले तुरंत ठीक हो जाते है.

·     मस्तिष्क को ठंडक ( Cooling the Brain ) : आपने ये जरुर सूना होगा कि सोने को पैरों में नहीं पहनना चाहियें और चांदी को सिर पर नहीं पहनना चाहियें. इसके पीछे भी एक अहम तथ्य है जिसके अनुसार सोने से बिजली उत्पन्न होती है जो नीचे की तरफ अर्थात पैरों की तरफ चली जाती है, वहीं चांदी ठंडक को पैदा करती है जो ऊपर मस्तिष्क की तरफ जाती है. जिससे सिर ठंडा रहता है और पैर गर्म और यही आधुनिक चिकित्सा भी करने का प्रयास करती है.  CLICK HERE TO KNOW वास्तु के अनुसार घर में क्या न रखें ...
आभूषण चिकित्सा क्या है
आभूषण चिकित्सा क्या है
·     सुन्दर और स्वस्थ ( Beautiful and Healthy ) : अगर सिर पर चांदी को और पैरों में सोने को धारणा कर लिया जाएँ तो सारी रिएक्शन उल्टी हो जाती है, जिससे व्यक्ति को पागलपन तक होने की संभावना बनी रहती है. किन्तु अगर सही तरह से आभूषणों को धारण किया जाएँ तो स्त्रियाँ दीर्घ आयु को प्राप्त करती है, उनकी सुंदरता में दिन प्रतिदिन निखार आता है और वे हमेशा स्वस्थ रहती है. 

·     मासिक धर्म व हर्निया से मुक्ति ( Remove Menstruation and Hernia Problem ) : आपने हर महिला के नाक और कान में सोने का गहना अवश्य देखा होगा. इसके पीछे के विज्ञान को देखा जाएँ तो विद्युत हमेशा किनारों की तरफ प्रवेश करती है, इसलिए मस्तिष्क के दोनों तरफ अधिक शक्तिशाली बनाने के लिए नाक और कान छिदवाकर गहनों को पहना जाता है. साथ ही ये महिलाओं को माहवारी में होने वाली अनियमितता, हर्निया और हिस्टीरिया जैसे रोगों से भी बचाएं रखती है. 

·     नाक संबंधी रोग ( Nasal Disease ) : नाक में बाली के पहनने से स्त्रियाँ नासिका से संबंधी रोगों से भी दूर रहती है और सर्दी खांसी से निजात मिलती है.
What is Ornament Therapy
What is Ornament Therapy
·     स्मरण शक्ति बढायें ( Increase Memory Power ) : पैरों में चांदी की चुटकियाँ हर स्त्री अवश्य पहनती है खासतौर से प्रसव के दौरान. क्योकि ऐसा करने से स्त्रियों को प्रसव के दौरान अधिक पीड़ा का सामना नहीं करना पड़ता. ये स्त्रियों की स्मरण शक्ति को बढ़ाकर उन्हें दिमाग को मजबूत बनाने में भी सहायक सिद्ध होता है.

·     रक्तशुद्धि ( Blood Purification ) : पायल का पहनना भी महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है क्योकि पायल से शरीर को ठंडक मिलती है और उन्हें पीठ व एड़ियों की समस्या से निजात मिलती है. साथ ही इससे उनका रक्त शुद्ध होता है और वे मूत्र रोग से भी दूर रहते है.  

·     उर्जा का सिद्धांत ( Principal of Energy ) : जैसाकि आपको पता ही है कि ऊर्जा का सिद्धांत काफी मुश्किल होता है अगर उसमे कोई भी गड़बड़ हो जाती है तो कोई ना कोई समस्या उत्पन्न होना लाजमी होता है. जैसेकि अगर स्वर्ण में चांदी की मिलावट कर दी जाएँ तो इससे गर्मी और सर्दी दोंनों का मिलाप हो जाता है और भीषण परेशानियों को बुलावा देती है. कुछ ऐसी भी महिलायें होती है जो आभूषणों के लिए सोने की परत तैयार कराती है और उसके अन्दर चांदी या तांबा भरवा लेती है. ये भी एक त्रुटी के रूप में देखा जाता है जो महिला में अनेक तरह की विकृतियों को उत्पन्न करता है.
गहने और महिलायें
गहने और महिलायें
·     टांका रहित आभूषण ( Use Ornaments without Joints ) : कुछ सुनार अपनी सुविधा के अनुसार अलग अलग धातुओं को मिश्रित कर टांका निर्मित करते है, जिससे आभूषण में त्रुटी बनती है. इसका प्रभाव उस आभूषण को धारण करने वाले पर पड़ता है. इसलिए आप ऐसे ही गहनों का इस्तेमाल करें जिसमे गहने की धातु का ही टांका लगा हो या फिर ऐसे गहने पहने जो टांका रहित हो. 

तो इस तरह आप भी आभूषणों के महत्व को जानकार ही गहनों को धारण करें, साथ ही गहनों से सम्बंधित किसी भी अन्य सहायता के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो.
>Aakhir Kyo Pahne Jaate Hai Sone Chandi ke Aabhushan
Aakhir Kyo Pahne Jaate Hai Sone Chandi ke Aabhushan

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT