इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Manikya Bta Deta Hai Aane Vala Sankat | माणिक्य बता देता है आने वाला संकट | Rubi Gemstone Tells the Coming Troubles Crisis


रूबी रत्न से जाने कौन सा संकट आने वाला है ( Rubi Indicates Towards the Coming Misfortunes )
हर व्यक्ति अपनी राशि, ग्रहों की चाल, कुंडली में भावों के प्रभाव, सफलता प्राप्ति, धन प्राप्ति और अन्य किसी चाह की कामना के साथ कुछ रत्नों को धारण करता है. हर रत्न का अपना अलग महत्व और अलग प्रभाव होता है. उन्ही रत्नों में से एक है माणिक्य, जिसे इंग्लिश में रूबी भी कहा जाता है. इस रत्न की ख़ास बात ये है कि ये प्रेमियों को मिलाता है जिसके कारण ये प्रेम रत्न के नाम से भी बहुत विख्यात है. जो व्यक्ति रूबी रत्न को धारण करता है उसका मन खुशियों, उत्साह व उमंग से भर जाता है. उसकी उदासी और मायूसी दूर हो जाती है. CLICK HERE TO KNOW सभी ग्रहों के लिए रत्न विज्ञान ...
Manikya Bta Deta Hai Aane Vala Sankat
Manikya Bta Deta Hai Aane Vala Sankat
रूबी रत्न की कुछ ख़ास बातें ( Some Important Features of Rubi Gems ) :
सूर्य के रत्न रूबी की खासियत यहीं खत्म नहीं होती क्योकि ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ये प्रेत बाधा को दूर करने में भी सहायक होता है, वहीँ इसके घर में होने से परिवार की आर्थिक परेशानी भी दूर होती है. वे महिलायें जिन्हें संतान सुख प्राप्त नही हो रहा है, उन्हें ये रत्न संतान सुख देता है. इस रत्न को आप एक सेटेलाईट की तरह मान सकते है जैसे एक सेटेलाईट बदलते मौसम को देख मौसम में होने वाले बदलावों को पहले ही बता देती है ठीक उसी तरह ये रत्न भविष्य में आने वाली समस्याओं और संकटों की पहले ही सूचना दे देता है. इसीलिए ये एक बहुत ही अहम रत्न माना जाता है.

माणिक्य मुख्यतः लाल रंग का दिखने वाला एक रत्न है किन्तु ये गुलाबी, काले और नीले रंग में भी मिलता है. जिसकी कीमत काफी अधिक होती है. जो इसकी खासियत को देखते हुए उचित भी मानी जाती है. इसको माणिक्य और रूबी के अलावा चुन्नी और लाल के नाम से भी जाना जाता है. जो भी व्यक्ति इसे धारण करता है उसके मन की सारी चिंता दूर हो जाती है और उसे एक शान्ति का अनुभव होता है. इस्कोए धारण करने वाला का समाज में एक अहम स्थान होता है और उसकी प्रतिष्ठा दिन प्रतिदिन बढती जाती है. CLICK HERE TO KNOW चमत्कारी हकिक पत्थर से गरीबी भगायें ...
माणिक्य बता देता है आने वाला संकट
माणिक्य बता देता है आने वाला संकट
कैसे बताता है आने वाले संकट के बारे में ( How Rubi Gem Tells About Coming Trouble ) :
·     संकट ( About Trouble ) : ऐसा माना जाता है कि जिस व्यक्ति ने रूबी रत्न को धारण कर रखा है अगर उसके ऊपर कोई संकट आने वाला होता है तो इसका रंग फीका पड़ जाता है और जैसे ही संकट खत्म या टल जाता है ये फिर से अपने पहले वाले आकर्षित रंग में आ जाता है.

·     जहर का प्रभाव ( About Toxic ) : इसके साथ ही ये जहर से भी बचाता है. अर्थात अगर आप किसी ऐसी चीज को खा रहें है जिसमें जहर है या आपके आसपास कोई ऐसा जीव है जो जहरीला है, तो ये उस स्थिति में भी अपना रंग खो देता है और उससे दूर होते ही फिर से लाल रंग की आभा से चमकने लगता है.  

·     बिमारी ( About Disease ) : अगर रूबी धारण करने वाले व्यक्ति पर किसी रोग की छाया होती है तो उस स्थिति में भी रूबी का रंग फीका होने लगता है, जिसको पहचानकर जातक किसी चिकित्सक से पहले ही सलाह लेकर अपने आप को सुरक्षित रख सकता है. 

·     मृत्यु ( About Death ) : एक ना एक दिन सभी को मरना तो है ही किन्तु मरने से पहले कुछ ऐसे जरूरी कार्य होते है जिनके व्यक्ति अपने अवश्य करना चाहता है. इसलिए जब जातक की मृत्यु का समय आता है तो ये मृत्यु से करीब 3 महीने पहले ही सफ़ेद हो जाता है और जातक को पहले से ही सचेत कर देता है. 
Rubi Gemstone Tells the Coming Troubles Crisis
Rubi Gemstone Tells the Coming Troubles Crisis
·     दांपत्य जीवन ( About Married Life ) : दाम्पत्य जीवन को बचाएं रखें में भी ये रत्न अपनी भूमिका निभाना नहीं भूलता. इसके लिए दोनों पति व पत्नी को रूबी रत्न को धारण करना चाहियें. इसे बाद अगर पति अपनी पत्नी को धोखा दें के बारे में विचार भी करता है तो पत्नी का रत्न फीका हो जाता है और अगर पत्नी धोखा देने की सोचे तो पति का रत्न फीका हो जाता है. 

·     रक्त विकार ( About Blood Disorders ) : माणिक्य रक्त विकारों और रोगों को दूर करने में भी सक्षम होता है. अग्गर तपेदिक के रोगी इसको धारण करने तो उन्हे तुरंत ही लाभ मिलता है. 

·     नेत्र व हृदय रोग ( About Eye and Heart Problems ) : ये रत्न हृदय रोगों और नेत्र रोगों में भी मददगार सिद्ध होता है और ऐसे संकट आने पर खुद ही इन रोगों से लड़ने लगता है जिससे जातक खुद को हमेशा सुरक्षित पाता है.

·     धार्मिक आस्था ( Increase Religious Faith ) : ये मन से नकारात्मकता को दूर रखता है और दूषित विचारों से बचाकर अच्छे विचारों का संचार करता है. धीरे धीरे जातक को ईश्वर के और आस्था के मार्ग पर ले जाने में भी यही रत्न सहायक होता है. 

·     राशि ( Which Zodiac Should Wear Rubi Gem ) : ज्योतिष शास्त्र बताता है कि वृश्चिक, धनु, कर्क, मेष, सिंह राशि व लग्न के जातक इसे धारण अवश्य करें. इससे इन्हें असीम लाभ मिलता है.
रूबी रत्न से जाने अपना भविष्य
रूबी रत्न से जाने अपना भविष्य
असली रूबी / माणिक्य की पहचान ( How to Identify the Real Rubi Gem ) :
हर व्यक्ति रूबी को पाना चाहता है इसलिए ऐसे अनेक लोग है जो नकली रूबी कम दामों में बेचकर लोगों को धोखा देने की कोशिश करते है. किन्तु अगर कुछ बातों का ध्यान दिया जाएँ तो इस ठगी से आसानी से बचा जा सकता है. जैसेकि
-   असली रूबी बहुत ही कठोर और कड़ा होता है. सिर्फ हीरा ही एक ऐसा खनिज है जो रूबी से अधिक कठोर होता है. 

-   असली माणिक्य की पहचान के लिए आप आप इस रत्न को सूरज की पहली किरण के सामने रख दें. अगर वो लाल हो जाएँ तो समझ जाएँ कि आपका रत्न बिलकुल असली और सर्वोत्तम है.
-   आप एक लोटे में दूध लें और उसमें बार बार करीब 100 बार रूबी को डुबोते जाएँ. अगर रत्न असली होगा तो आपको दूध में भी रत्न की आभा दिखने लगेगी. 

-   जब रूबी को अंधकार से भरे कमरे में रखा जाता है तो ये सूरज की तरह प्रकाशमान हो जाता है.
-   इसका वजन कर लें फिर इसे घिसे, कुछ देर बाद इसपर घर्षण के निशान पड़ जायेंगे किन्तु इसके वजन में रत्ती भर भी फर्क नहीं आयेगा.

-   जब इसे कांच के बर्तन में रखा जाता है तो उस बर्तन में भी प्रकाश की हल्की हल्की किरणें दिखने लगती है. 
Asli Rubi ki Pahchaan
Asli Rubi ki Pahchaan
रूबी रत्न को धारण करने का सही तरीका ( The Right Way to Wear Rubi Gem ) :
§ अभिमंत्रित ( Spellbound ) : ज्योतिष शास्त्र मानता है कि अगर रत्न को अभिमंत्रित किये बिना धारण किया जाता है तो जातक को रत्न का पूर्ण रूप से लाभ प्राप्त नही होता. इसलिए इसे धारण करने से पहले इसे अभिमंत्रित अवश्य कर लें. रूबी सूर्य का रत्न है इसलिए इसे अभिमंत्रित करने के लिए आप सूर्य देव जी की पूजा अर्चना कराएं, पूजा के दौरान आप ॐ ह्रां ह्रीं ह्रौ सः सूर्याय नमः का जाप करें. तत्पश्चात ही आप रत्न को धारण करें.  

§ शुभ दिन ( Good Day ) : रविवार के दिन को रूबी रत्न धारण के लिए उचित माना जाता है. और अगर ये रविवार कृतिका, उत्तराषाढा, उत्तराफाल्गुनी या रविपुष्य नक्षत्र का हो तो वो सर्वोत्तम होगा. 

तो इस तरह आप भी रूबी रत्न को पहचान और उसकी खासियत को जानकर उसे धारण कर सकते है. इसके अलावा किसी भी अन्य सहायता और रत्नों के बारे में अधिक जानने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो.
Rubi Rtn Batata Hai Aane Vali Smasya
Rubi Rtn Batata Hai Aane Vali Smasya

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

2 comments:

  1. Maine 2500 me Manikya ek jeweller se kharida hai lekin unme ye qualities Ni hai, kya ye nakli hai, kya iska Koi asar Ni Hoga,asli Manikya kitne tak me aa Sakti hai

    ReplyDelete
  2. Sir Maine rs 2500 me Manik Liya hai but aapke dwara batayen gaye gun use Ni hai. Kya ye nakli hai, kya kiska Koi aakar Ni Hoga?

    ReplyDelete

ALL TIME HOT