इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Low Blood Pressure ko Karen Out Inn Ghrelu Tarikon se | Low Blood Pressure को करें Out इन घरेलू तरीकों से | Ways to Out Low Blood Pressure BP

Low Blood Pressure को करें Out …! इन घरेलू तरीकों से
दोस्तों आज हम आपको 3 ऐसे गजब के घरेलू नुस्खों के बारे में बताएँगे जो लो ब्लड प्रेशर अर्थात निम्न रक्त चाप को संतुलित रखने और उससे होने वाली बाकी समस्याओं से आपको बचाते है.

पहले हम गुडनीम्बू के रस और नमक से एक ड्रिंक तैयार करेंगे क्योंकि ये ड्रिंक करेगा आपके लो ब्लड प्रेशर को आउट तुरंत और शरीर में एनर्जी भरकर ब्लड प्रेशर को करेगा नियंत्रित.

जबकि दुसरे उपाय हम लो ब्लड प्रेशर को जड़ से खत्म करने के लिए बादाम, मिश्री और दूध की मलाई से एक नुस्खा तैयार करेंगे.

वही तीसरे नुस्खे में हमे किशमिश का प्रयोग करके बीपी को संतुलित बनाये रखने और दिल की कार्यक्षमता को बढाने के बारे में आपको बताएँगे. 

लो ब्लड प्रेशर के घरेलू उपचार :
#1
पहला उपाय :
लो ब्लड प्रेशर को आउट करने के लिए गुड को बहुत ही कारगर औषधि माना जाता है, तो आप 25 ग्राम नर्म गुड लें और उसमें चुटकी भर नमक व ½ चम्मच नीम्बू का रस मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें. इस मिश्रण को 1 गिलास पानी में डाले और पी जाएँ. ये उपाय आपको दिन में 3 बार अपनाना है इससे शरीर को तुरंत एनर्जी बूस्ट होती है और लीवर सही से काम करने लगता है जिससे आपका लो ब्लड प्रेशर जल्द ही नियंत्रित हो जाता है.

#2
दुसरा उपाय :
ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने के लिए आप रोजाना रात को सोने से पहले 4 - 5 बादाम की गिरी को पानी में भिगोकर रख दें, अगले दिन सुबह उनका छिलका हटायें और उसमें 1 चम्मच दूध की मलाई व थोड़ी सी मिश्री मिलाकर खाएं. ये उपाय दिल को सशक्त करके उसकी कार्यक्षमता को बढाता है जिससे निम्न रक्तचाप की समस्या में तुरंत आराम मिलता है. अगर आप इस उपाय को लगातार कुछ दिनों तक अपनाए तो लो ब्लड प्रेशर की समस्या को जड़ से खत्म किया जा सकता है.

#3
तीसरा उपाय :  
किशमिश एक पारंपरिक आयुर्वेदिक दवा है, जो लो ब्लड प्रेशर में भी बहुत फायदेमंद होती है. तो आप रात के समय 30 से 35 किशमिश को पानी में भिगोकर रख दें. अगले दिन खाली पेट आप इन किशमिश का सेवन करें. साथ ही आप उस पानी को भी जरुर पियें जिसमें आपने किशमिश को भिगोया है. ये उपाय आपको महीने में बस 2 बार करना है. इससे आपका बीपी कभी भी लो नहीं होता. CLICK HERE TO KNOW ब्लड प्रेशर के कारण और लक्षण ...
Low Blood Pressure ko Karen Out Inn Ghrelu Tarikon se
Low Blood Pressure ko Karen Out Inn Ghrelu Tarikon se

अन्य उपाय :
-    आपने देखा होगा कि लो ब्लड प्रेशर से परेशान लोग अपनी चाय में या पानी में नमक मिलाकर पीते है जो सही भी है क्योकि नमक में सोडियम होता है जो रक्तचाप को बढाता है. लेकिन ध्यान रहे कि आप अधिक नमक का सेवन ना करे क्योकि इससे स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है. तो 1 गिलास पानी में सिर्फ 1 चम्मच नमक ही प्रयोग करें और सबसे अच्छा होगा कि आप सेंधा नमक प्रयोग करें.

-    लो ब्लड प्रेशर में कॉफ़ी भी बहुत काम की होती है तो आप रोजाना सुबह 1 कप स्ट्रोंग कॉफ़ी पिए, इसके अलावा आप हॉट चॉकलेट, कैफीन और कोला का भी सेवन कर सकते हो लेकिन ध्यान रहे कि आप इनके साथ कुछ अन्य चीजें भी जरुर खाएं व इनका सेवन भी अधिक मात्रा में ना करें.

-    तुलसी में असंख्य औषधीय गुण होते है इसमें पाया जाने वाला विटामिन सी, पोटैशियम और मैग्नीशियम तनाव को दूर रख दिमाग को संतुलित बनाते है जिससे रक्त प्रवाह व रक्त दाब भी नियंत्रित रहता है. इसलिए लो ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने के लिए आप 10 से 15 तुलसी की पत्तियों का रस निकालें और उसमें 1 चम्मच शहद मिलाकर खाली पेट पियें. ये उपाय आप रोजाना अपना सकते हो, इससे ना सिर्फ ब्लड प्रेशर बल्कि शरीर के अन्य रोग भी दूर होते है.

दोस्तों, शरीर तभी स्वस्थ रह सकता है जब दिल स्वस्थ हो लेकिन वर्तमान की अस्वस्थ दिनचर्या और खानपान के कारण दिल पर दबाव बढ़ता जा रहा है और लोग उच्च या निम्न रक्तचाप के शिकार हो जाते है. एक सामान्य व्यक्ति का रक्तचाप 120/80 होता है लेकिन जब रक्तचाप 90 से कम चला जाता है तो उसे निम्न रक्त चाप या Low Blood Pressure कहते है. अकसर लोग उच्च रक्तचाप को गंभीरता से लेते है लेकिन निम्न रक्तचाप भी कम गंभीर नहीं, इसमें शरीर में रक्त की कमी हो जाती है और हृदय, गुर्दे, फेफड़े व मस्तिष्क इत्यादि कुछ देर के लिए काम करना बंद कर देते है. यही नहीं मांसपेशियाँ कमजोर हो जाती है और दिल खून को पर्याप्त मात्रा में पंप नहीं करता जिससे हाइपरटेंशन बढती है और रक्तचाप 20 से 30 पॉइंट तक गिर जाता है और व्यक्ति को चक्कर आने लगते है. ये स्थिति हार्ट अटैक, फेफड़े के अटैक और दिल की वाल को खराब कर देती है. इसलिए इसका समय पर उपचार बहुत आवश्यक है. तो आप बताये उपायों को अपनाकर लो ब्लड प्रेशर का तुरंत उपचार करें.

Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

No comments:

Post a Comment

ALL TIME HOT