इस वेबसाइट पर किसी भी तरह के विज्ञापन देने के लिए जरूर CONTACT करें. EMAIL - info@jagrantoday.com

SUBSCRIBE FOR ALL SCIENCE EXPERIMENTS. KIDS AND YOUNG STUDENTS CAN LEARN BETTER FROM THESE PRACTICAL EXPERIMENTS OF SCIENCE:


https://www.youtube.com/channel/UCcXJEycifFbZEOS2PHNAZ9Q

विज्ञानं की सभी ज्ञानवर्धक प्रक्टिकाल्स के लिए अभी सब्सक्राइब करें दिए गये इस चैनल को

Raktdan ka Mahtav | रक्तदान का महत्व | Importance of Blood Donation

रक्तदान
रक्तदान का अर्थ सिर्फ खुद के दान से नही होता बल्कि रक्तदान से अभिप्राय किसी जरूरतमंद को जीवन के दान से है, साथ ही आप जरूरतमंद व्यक्ति और उसके परिवार वालों को खुशियाँ भी दान में देते हो. इससे आपको ऐसी ख़ुशी मिलती है जिसे बयाँ नही किया जा सकता. इस अहसास को व्यक्ति तभी अनुभव कर सकता है जब उसने किसी के लिए रक्तदान किया हो. सोचों कि अगर हमारे सामने कोई व्यक्ति अपनी मौत से लड़ रहा होता है और आप उसके जीवन को बचाने में उसकी सहायता करते हो तो सोचो की आपको कैसा अनुभव होगा. आप उसी वक्त नींद से जाग जाते हो और आपको जीवन का असली महत्व समझ में आता है.

बहुत से ऐसे लोग होते है जो सोचते है कि रक्तदान करने से उनके शरीर को खतरा हो जाता है या फिर उनमे कमजोरी आ जाती है. कुछ तो ये सोचते है कि रक्तदान के बाद उनके खुद के खून को बनने में कई साल लग जाते है किन्तु ऐसा कुछ नही होता क्योकि रक्तदान एक सुरक्षित और स्वस्थ परंपरा और जहाँ तक खून के दुबारा बनने की बात है तो उसे शरीर मात्रा 21 दिनों के अंदर दोबारा बना लेता है. साथ ही खून के वॉल्यूम को शरीर सिर्फ 24 से 72 घंटो में ही पूरा कर लेता है. तो रक्तदान से पहले अपने मन से हर तरह की शंका को जरुर दूर कर लें. CLICK HERE TO KNOW HOW TO QUIT DRUG ...
Raktdan ka Mahtav
Raktdan ka Mahtav 
रक्तदान से पहले इन बातों पर ध्यान जरुर दें :
-    रक्तदान से पहले आप अपने खून, हेमोग्लोबिन, ब्लड प्रेशर और वजन की जांच जरुर करवा लें और इस बात को सुनिश्चित कर लें कि आपको कोई बीमारी ना हो जैसेकि हेपेटाइटिस बी या सी, एच आई वी, एड्स, मलेरिया इत्यादि. अगर आपके खून में इनमे से किसी भी बीमारी के लक्षण है तो आप रक्तदान बिलकुल ना करें क्योकि इसका कोई लाभ नही होगा बल्कि जिसे आप रक्तदान कर रहें है उसे भी आपकी बीमारी हो जायेगी.

-    अगर आपकी उम्र 18 साल और आपका वजन 50 किलोग्राम या इससे अधिक है तभी आप रक्त दान कर सकते हो. इसके अलावा पुरुष हर तीसरे महीने और स्त्री हर चौथे महीने रक्तदान कर सकती है.
-    रक्तदान करने से पहले आप किसी भी तरह के नशे से बचे. अगर आपने रक्तदान से 2 दिन पहले तक शराब भी पी है तो इस स्थिति में भी आप रक्तदान न करें. CLICK HERE TO READ HOW TO QUIT TOBACCO ...
रक्तदान का महत्व
रक्तदान का महत्व 
-    अगर कोई महिला गर्भवती है या स्तनपान करती है या फिर उसे महावारी है तो उसको भी रक्तदान नही करना चाहियें.

-    हमारे शरीर के कुल वजन का 7 % हिस्सा खून होता है. इसलिए अगर हर व्यक्ति साल में इसका मात्र 3 % भी दान कर दें तो खून की कमी से किसी भी व्यक्ति की जान नही जायेगी.

रक्तदान के लाभ :
आपको बता दें कि खून के दान करने से ना सिर्फ आप सामने वाले के जीवन को बचाते हो बल्कि ये आपके लिए भी कई तरह से लाभदायक होता है तो आओ जानते है कि रक्तदान से खुद को क्या क्या फायदा होता है. CLICK HERE TO KNOW HOW TO QUIT ALCOHOL ...
Importance of Blood Donation
Importance of Blood Donation

हार्ट अटैक : हार्ट अटैक की ज्यादातर समस्या का कारण खून का गाढ़ा होना होता है किन्तु जब आप रक्तदान करते हो तो इससे आपका खून पतला हो जाता है. जिससे आपको दिल से संबंधी किसी भी बीमारी के होने की संभावना कम होती है तथा आपका हृदय भी स्वस्थ रहता है.

कैंसर : रक्तदान के बाद व्यक्ति के शरीर में दोबारा से खून का निर्माण होता है जोकि साफ़, ताजा और स्वच्छ इसलिए नये खून में किसी भी बीमारी से लड़ने की ताकत अधिक होती है. ये नया खून शरीर के सभी विषैले पदार्थों को शरीर से बाहर निकल देता है. जिससे कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी का खतरा भी कम हो जाता है.

तंदुरुस्ती : क्योकि रक्तदान के बाद नया खून बनता है और खून में रेड ब्लड सेल होते है तो इस तरह रक्त दान के बाद शरीर में नये रेड ब्लड सेल का आना भी शरीर के लिए लाभदायक है जिससे शरीर की तंदुरुस्ती बढती है और व्यक्ति का शरीर हष्ट पुष्ट रहता है.
रक्तदान महादान
रक्तदान महादान
वजन कम : इससे व्यक्ति की ज्यादा कैलोरी की खपत होती है जिससे शरीर में वसा नही बनती और व्यक्ति का वजन नही बढ़ पाता और उसका शरीर स्वस्थ बना रहता है. इसके अलावा शरीर का कोलेस्ट्रोल और रक्तचाप भी सही रहता है.

अगर कोई व्यक्ति अपनी स्वयं की इच्छा से बिना किसी लालच के रक्तदान करता है तो उस व्यक्ति का रक्तदाता कार्ड / रक्तदाता ऋण प्रमाण पत्र बना दिया जाता है. इस कार्ड का लाभ उन्हें ये होता है कि 12 महीनो के अंदर जब भी उसे या उसके परिवारजानो को रक्त की जरूरत पड़ती है तो वो इस कार्ड को दिखाकर ब्लड बैंक से 1 यूनिट खून पा सकता है. इन सब बातों से रक्तदान का महत्व और भी बढ़ जाता है. बहुत से ऐसे लोग है जो रक्तदान को कमाई का एक जरिया बनाने की कोशिश करते है और पैसो के लिए रक्त को बेचते है किन्तु आप ऐसा न करने और रक्तदान की पवित्रता और इसके उद्देश्य को समझते हुए समाजसेवा की भवन या अपने मन की शांति के लिए ही रक्तदान करें. इससे आपको भी खुसी मिलेगी और सामने वाला भी हमेशा आपका आभारी रहेगा. इसकी इसी खासियत की वजह से रक्तदान को महादान कहा जाता है. 


रक्तदान के अन्य महत्व, रक्तदान की प्रक्रिया या इससे जुडी किसी भी अन्य सहायता को पाने के लिए आप तुरंत नीचे कमेंट करके जानकारी हासिल कर सकते हो. 
रक्तदान से अपने स्वास्थ्य लाभ
रक्तदान से अपने स्वास्थ्य लाभ
Raktdan ka Mahtav, रक्तदान का महत्व, Importance of Blood Donation, Donate Blood, रक्तदान, Raktdan, Value Glory of Blood Donation, रक्तदान से अपने स्वास्थ्य लाभ, रक्तदान महादान.


Dear Visitors, आप जिस विषय को भी Search या तलाश रहे है अगर वो आपको नहीं मिला या अधुरा मिला है या मिला है लेकिन कोई कमी है तो तुरंत निचे कमेंट डाल कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी.


इस तरह के व्यवहार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !


प्रार्थनीय
जागरण टुडे टीम

3 comments:

  1. Can u plz write an essay on raktadan jivandan for me in 350 words!!

    ReplyDelete
  2. Why I can,t Donet blood .....I drunk last night

    ReplyDelete
  3. सर हमारे 6000 विद्यार्थी मित्र हैं | हम लोग लाईव्ह ब्लड बॅंक बनाना चाहते है | जैसे जब भी किसी जरूरतमंद को खून की जरूरत हो तो वह गृप वाले आगे आके रक्तदान कर सकते है | क्या आप इसमें सहायता कर सकते है?

    ReplyDelete

ALL TIME HOT